प्रियंका नहीं होंगी वाराणसी से कांग्रेस उम्मीदवार

0
363
उम्मीदवार

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश की वाराणसी सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ प्रियंका गांधी वाड्रा को उम्मीदवार बनाने का ससपेंस खत्म हो गया है. वाराणसी से अजय राय कांग्रेस के उम्मीदवार होंगे. कांग्रेस महासचिव मुकुल वासनिक के हस्ताक्षर से गोरखपुर और वाराणसी से आज गुरुवार को दो उम्मीदवारों के नाम का पत्र जारी किया गया है. इसमें गोरखपुर से मधुसूदन तिवारी और वाराणसी से अजय राय के नाम हैं.
उम्मीदवार
इसके साथ ही इस हाई प्रोफाइल सीट से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के मैदान में उतरने की अटकलें खत्म हो गई हैं. ज्ञातव्य है कि पिछले कुछ समय से मोदी के खिलाफ प्रियंका गांधी के मैदान में उतरने की अटकलें थीं. खुद प्रियंका भी कई मौकों पर कह चुकी थीं कि अगर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी चाहेंगे तो वह वाराणसी से चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं. राहुल ने भी कहा था कि इस मसले पर सस्पेंस जरूरी है. लेकिन कांग्रेस ने 2014 के उम्मीदवार को ही फिर से वाराणसी में खड़ा कर सभी अटकलों पर विराम लगा दिया है.

करीब 76 हजार वोट मिले थे राय को
2014 के चुनाव में वाराणसी से पीएम मोदी के खिलाफ आम आदमी पार्टी के चीफ अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस के अजय राय लड़े थे. पीएम मोदी ने केजरीवाल को 3,71,784 वोटों से मात दी थी. पीएम मोदी को 2014 में कुल 5.81 लाख से ज्यादा वोट मिले थे. केजरीवाल को 2.9 लाख वोट मिले थे जबकि राय को करीब 76 हजार वोट मिले थे. इसबार साथ मिलकर चुनाव लड़ रहे बीएसपी और एसपी के उम्मीदवार 2014 के चुनाव में अपनी जमानत भी नहीं बचा पाए थे.

उम्मीदवार
वाराणसी से कांग्रेस के उम्मीदवार अजय राय और महागठबंधन से सपा की शालिनी यादव.

महागठबंधन ने उतारा शालिनी यादव को
इसबार महागठबंधन ने प्रधानमंत्री मोदी की टक्कर में वाराणसी से शालिनी यादव को उम्‍मीदवार घोषित किया है. वे कांग्रेस के पूर्व सांसद और राज्यसभा के पूर्व उप सभापति श्यामलाल यादव की पुत्रवधू हैं. शालिनी यादव कुछ दिन पहले अपने सहयोगियों के साथ एसपी में शामिल हुईं थीं. शालिनी यादव पूर्व में वाराणसी से मेयर का चुनाव लड़ चुकी हैं.

NO COMMENTS