कलमना न्यू ग्रेन मार्केट पर कोरोना का कहर, जनता कर्फ्यू की मांग

0
2225
ग्रेन

दहले व्यापारी, सैकड़ों पीड़ित, अनेक की जान गई, सप्ताह में 3 दिन ही मंडी में खोल रहे दूकान

नागपुर : कलमना मार्केट के दि होलसेल ग्रेन एंड सीड्स मर्चेंट एसोसिएशन ने नागपुर के महापौर, मनपा आयुक्त और जिलाधिकारी से शहर में जनता कर्फ्यू लगाने की मांग की है. साथ ही कलमना मार्केट यार्ड में भी कोरोना महामारी पीड़ितों की भारी संख्या में केस बढ़ने और व्यापारियों की अकाल मृत्यु को देख कलमना एपीएमसी मार्केट यार्ड में होलसेल न्यू ग्रेन मार्केट सप्ताह में तीन दिन मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को खोल रहे हैं. अध्यक्ष संतोषकुमार अग्रवाल और सचिव प्रताप मोटवानी ने कहा कि अपने व्यापारियों और उनके परिवार की सुरक्षा को देख हमें सप्ताह में तीन दिन ही मार्केट चालु रखने का निर्णय करना पड़ा है.
ग्रेन
अनेक व्यापारी और स्टाफ कोरोनाग्रस्त, जान भी गई है
मोटवानी ने बताया कि नागपुर शहर में अब कोरोना महामारी ने विकराल रूप ले लिया है और प्रतिदिन नागपुर में हजारों की संख्या में कोरोना के केसेस आ रहे हैं. साथ ही इस महामारी से मृत्यु दर भी भारी संख्या में बढ़ी है. इसका असर कलमना एपीएमसी मार्केट (मंडी) पर भी बहुत ही गंभीर  पड़ा है. अनेक व्यापारी और उनके स्टाफ कोरोनाग्रस्त हैं. इनमें अब तक कुछ व्यापारियों और उनके स्टाफ की जान भी चली गई है. इस होलसेल मार्केट में जिले भर के व्यापारी और दुकानदार अनाज खरीदने आते हैं. उनकी जांच और उनका बचाव भी जरूरी है. कलमना मार्केट के हम व्यापारी अपने स्तर पर बचाव के लिए जितना कुछ कर सकते हैं, कर रहे हैं. अब नागपुर महानगर पालिका और प्रशासन को गंभीरता से विशेष कारगर कदम उठाने की जरूरत है. 

10 दिन का जनता कर्फ्यू लगाएं
अग्रवाल और मोटवानी ने नागपुर के महापौर संदीप जोशी, मनपा आयुक्त राधाकृष्ण बी और जिलाधिकारी रविंद ठाकरे से आग्रह किया है कि कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देख नागपुर में कम से कम 10 दिन का जनता कर्फ्यू लगाएं, ताकि जो कोरोना पूरे समुदाय में एकसाथ फैल रहा है, उसमें रुकावट आ सके. शहर में अधिकांश नागरिक कोरोना से ग्रस्त हो चुके हैं. टेस्ट मर्यादित होने से पता नहीं लग रहा है. अगर 10 दिन का सख्त जनता कर्फ्यू लगा दिया गया तो मनपा सभी के घरों में जाकर कोरोना टेस्ट कर सकती है और संभवतः इससे कोरोना के बढ़ते प्रकोप से राहत मिल जाए. अगर जनता कर्फ्यू नहीं लगाया गया तो शहर की स्थिति विकराल हो सकती है.

मोटवानी ने बताया कि कलमना मार्केट के व्यापारियों और उनके स्टाफ की सुरक्षा के लिए कलमना की दुकानों को एसोसिएशन द्वारा सेनेटाइज करवाया गया है और सुप्रसिद्ध आयुर्वेदाचार्य डॉ. गुरुमुख ममतानी द्वारा निर्मित इम्युनिटी बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक काढ़ा का सभी सदस्यों को वितरण किया गया है. व्यापारियों को अपनी अपने कर्मचारियों की पूरी सुरक्षा बरतने को कहा गया है. ग्राहकों का टेम्परेचर और ऑक्सीजन देखने के बाद ही प्रतिष्ठान में प्रवेश देने तथा व्यापारी और ग्राहक को मास्क पहनना और हाथों की पूरी तरह सफाई करने के निर्देश दिए गए हैं.

वर्तमान में पीड़ित नागरिकों का कोरोना टेस्ट करने में भी दिक्कतें आ रही हैं. साथ उन्हें कोरोना अस्पतालों में बेड मिलने की भारी समस्या का सामना करना पड़ रहा है. अग्रवाल और मोटवानी ने अधिकारियों से निवेदन किया है कि व्यापारियों की दुकानों को सेनेटाइज करने की व्यवस्था करनी चाहिए और घर मोहल्लों में भी प्रतिदिन सेनेटाइज होना चाहिए. अगर जल्दी एक्शन नहीं लिए गए तो स्थिति बेकाबू हो सकती है.

NO COMMENTS