LATEST ARTICLES

विदर्भ के सभी 11 जिलों में पृथक राज्य के लिए शुरू होगा 2 अक्टूबर...

2019 के चुनावों के पूर्व पृथक विदर्भ राज्य की घोषणा करने की विदर्भ राज्य आंदोलन समिति की मांग नागपुर : गोंदिया जिले के तिरोड़ा में विदर्भ राज्य आंदोलन समिति ने आगामी 2 अक्टूबर से पूरे विदर्भ में सामूहिक उपवास और आंदोलन में भाग लेने का आह्वान समस्त विदर्भवासियों से किया. तिरोड़ा में आयोजित समिति की बैठक में पूरे विदर्भ के सभी 11 जिलों और 120 तहसीलों में आंदोलन की रूपरेखा पर विचार-विनिमय किया गया. इसमें विदर्भ राज्य आंदोलन समिति के पदाधिकारी एवं सदस्य शामिल थे. समिति के प्रधान संयोजक राम नेवले ने इस अवसर पर कहा कि विदर्भ के विकास का मार्ग तभी प्रशस्त होगा जब विदर्भ पृथक राज्य बनेगा. उन्होंने कहा कि अलग राज्य बनाने पर ही सिंचाई का अनुशेष पूर्ण होना संभव है, तभी विदर्भ में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे और उद्योगों की आधी दर पर बिजली मिल सकेगी. उन्होंने सरकार से मांग की कि वह 2019 के चुनावों के पूर्व पृथक विदर्भ राज्य की घोषणा करे. इस अवसर पर पश्चिम विदर्भ महिला आघाड़ी की अध्यक्ष रंजना बांबर्डे, पत्रकार संघ के अध्यक्ष डी.आर. गिरीपुंजे, जिला महिला आघाड़ी की अध्यक्ष अधि. माधुरी रहांगडाले, तहसील संयोजक जगन्नाथ पारधी, बी.यू. बिसेन, कमल कापसे, राजेश तायवाड़े,शहर प्रमुख बाबुराव डोमले, तहसील महिला आघाड़ी की अध्यक्ष उत्तरा भोंगाडे, रामकृष्ण आगाशे, रमेश वंजारी, भोजराम तुरकर, इंदू भोंगाडे, सुमित्रा वालदे, सुनिता पुराडे, यशवंत बावनकर, सुनील बारापात्रे, सुरेश धुर्वे, सरपंच जगदेव आमकर आदि उपस्थित थे.

प्रदेश कांग्रेस नेता मुजीब पठान के बुटीबोरी निवास पर डकैती, तीनों डकैत गिरफ्तार

बुटीबोरी (नागपुर) : कांग्रेस के प्रदेश महासचिव मुजीब पठान के यहां वार्ड क्र.-3 स्थित निवास में गुरुवार की रात में हुई डकैती के तीनों डकैतों को गिरफ्तार कर डकैती की नगदी सहित सारी कीमती सामग्री पुलिस ने बरामद कर लिया है. डकैतों को स्थानीय नागरिकों ने मुजीब पठान के छोटे भाई अकबर पठान के द्वारा शोर मचाने और उन्हें सतर्क करने पर खदेड़ कर पकड़ा और बुटीबोरी पुलिस के हवाले कर दिया. डकैती की 12 लाख रुपए की सामग्री जब्त गिफ्तार सकैतों में प्रवीण माणिक मंजुलकर (29, पिंपलगांव, ता. हिंगणघाट, जिला वर्धा), मन्नूसिंह जनरलसिंह ताक (40, दुर्गापुर-नेरी, जिला चंद्रपुर) और वसीमशाह गोलूशाह (26, नेर पिंगलाई, ता. मोर्शी, जिल्ला अमरावती) शामिल हैं. पुलिस ने डकैतों से 11 लाख 1 हजार 200 रुपए के सोने के आभूषण और एक लाख रुपए नगद कुल मिलाकर 12 लाख 1 हजार 200 रुपए की सामग्री जब्त किए. पुलिस ने डकैतों को भादंवि की दफा 394, 452, 459 व 34 के तहत गिरफ्तार कर जांच शुरू कर दी है. माता-पिता, पत्नी और छोटे भाई की पत्नी के आभूषण और नगदी छीने प्राप्त जानकारी के अनुसार मुजीब पठान हिंगोली गए हुए थे. मध्यरात्रि को तीन डकैत उनके निवास में घुस कर रसोई घर का दरवाजा तोड़ कर अंदर प्रवेश किया और उनकी मां और पिताजी को धमाका कर उनके आभूषण छीने. बाद में पत्नी के कमरे में घुस कर उन्हें चाकू दिखा जान से मार डालने की धमकी दिया और उनके पास की नगद रकम और उनके आभूषण कब्जे में ले लिया. उसके बाद तीनों मुजीब पठान के छोटे भाई के ऊपरी मंजिल पर स्थित कमरे में जाकर वहां से भी आभूषण और नगद राशि लेकर नीचे आए. ऐसे पकड़े गए तीनों डकैत इस बीच उनके छोटे भी अकबर पठान ने डकैतों की नजर बचा कर बाहर निकला और चौकीदार को जगाया, पुलिस और अपने रिश्तेदारों को मोबाइल फोन से खबर कर दी और डकैती के माल बाहर जाते एक डकैत को अकबर पठान ने दबोच लिया. लेकिन डकैत ने लोहे के रॉड से वार कर उन्हें घायल कर दिया और बाइक क्र. एमएच-35/एएन-23 से भागने लगे. इसी बीच खबर पा कर अपनी कार से वहां पहुंचे कयूम पठान ने भागते डकैतों की बाइक को अपनी कार से टक्कर मार दी और इसके साथ ही स्थानीय नागरिक डकैतों को खदेड़ कर पकड़ने में सफल रहे. इस दुस्साहसिक डकैती से स्थानीय नागरिकों ने पुलिस की अपराधियों में डर समाप्त हो जाना मानते हुए गहरा आक्रोश व्यक्त किया है.

युवाओं को वेकोलि में नौकरी दिलाने का झांसा दे रहे हैं असामाजिक तत्व

प्रबंधन ने किया आम जनों को आगाह, बताया कोई भर्ती नहीं की जा रही नागपुर : बेरोजगार युवाओं की पहली प्राथमिकता अपने जीवन में आर्थिक स्थायित्व के लिए नौकरी पाना होती है. ऐसे में यदि कोई सार्वजनिक क्षेत्र की बड़ी कंपनी में नौकरी दिलाने का सब्जबाग दिखा देता है तो वह तो उसके लिए भगवान से कम नहीं हो जाता. लोगों के इसी विश्वास का फायदा कुछ असामाजिक और स्वार्थी तत्व उठाते हैं. ऐसे असामाजिक और स्वार्थी तत्व वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (वेकोलि) में कई पदों पर भर्ती का ऐसा ही गलत प्रचार कर आम जनता, विशेषकर बेरोजगार युवाओं में यह भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहे हैं. जबकि वेकोलि ने स्पष्ट किया है कि ऐसा बिलकुल नहीं है. वेकोलि में किसी पद पर कोई नियुक्ति फिलहाल नहीं की जा रही है. वेकोलि प्रबंधन ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर जनहित में यह सूचित किया है कि युवा इस सम्बंध में किसी के भी बहकावे या झांसे में न आएं, क्योंकि ऐसी जानकारी मिली है कि बदनीयत लोग नौकरी की चाह रखने वाले युवाओं से पैसे ले कर नौकरी दिलाने की गारंटी तक दे रहे हैं. वेकोलि ने युवाओं से कहा है कि यदि झांसे में आकर वे इस लालच में फंसते हैं तो यह जिम्मेदारी सम्बन्धित युवाओं की स्वयं की होगी. इसमें वेस्टर्न कोल फील्ड्स लिमिटेड (वेकोलि) किसी भी स्तर पर कतई जवाबदेह नहीं होगी.

क्या नया है ‘भविष्य के भारत’ को लेकर संघ के नजरिए में?

संघ की सोच में क्या सचमुच युगांतरकारी बदलाव ला रहे हैं भागवत? विश्लेषण : कल्याण कुमार सिन्हा नई दिल्ली में चल रहे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के तीन दिवसीय सम्मलेन का समापन कल गुरुवार, 20 सितंबर को हुआ. इस सम्मेलन की उपलब्धि यह रही कि संघ प्रमुख डॉ. मोहन भागवत के दो व्याख्यानों ने संघ की दिशा बदलने का संकेत दिया है. कट्टर हिंदुत्व और मुस्लिम विरोध के आवरण में लिपटे देश के इस सबसे बड़े सामाजिक संगठन ने अपनी छवि साम्प्रदायिक संगठन की बना रखी है. इस कारण राजनीतिक दलों, विशेषतः कांग्रेस के लिए संघ हमेशा अछूत बना रहा है. देश में 50 वर्षों अधिक समय सत्ता में रही कांग्रेस सत्ताच्युत होने के बावजूद संघ पर हमले का अवसर कभी नहीं छोड़ती. लेकिन संघ प्रमुख भागवत के इन व्याख्यानों ने निश्चय ही संघ के चरित्र की वास्तविकता को समझने पर आलोचकों बाध्य करने का काम किया है. संघ के लिए युगांतरकारी? संघ समर्थक भागवत के इन व्याख्यानों को संघ के लिए युगांतरकारी मानते हैं. लेकिन संघ के लिए यह कितना युगांतरकारी होगा, यह तो आने वाला समय ही बताएगा. संघ जुड़े देश की सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी सहित इसकी अनुषंगी विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल सहित अन्य संगठनों के कृत्यों और वक्तव्यों से लगातार उठाने वाले साम्प्रदायिक स्वरों पर हाल के दिनों में भी संघ का कोई अंकुश नजर नहीं आया है. संघ से जुड़े भाजपा के मंत्रियों, विधायकों और नेताओं का मुस्लिम समुदाय के विरुद्ध विषवमन हमारे समाज की सामुदायिक सौहार्द और आपसी विश्वास को तार-तार करते रहे हैं. नए संवाद की शुरुआत...! संघ से जुड़े लोगों का यह भी मानना है कि इस तीन दिवसीय सम्मेलन में भागवत ने एक तरह से नए संवाद की शुरुआत कर दी है. कांग्रेस के महत्व को स्वीकार करना, हिंदुत्व के दर्शन को मुस्लिमों के बिना अधूरा मानना, संघ का संविधान मानी जाने वाली 'बंच ऑफ थॉट' की सारी बातों को वैध नहीं बताना जैसी चीजें इस ओर इशारा कर रही हैं. वहीं कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्ष का कहना है कि भागवत ने कुछ नया नहीं बोला. भविष्य के भारत को लेकर संघ का नजरिया फिर भी संघ प्रमुख के नाते भागवत के ये व्याख्यान यदि सचमुच "भविष्य के भारत" को लेकर संघ के नजरिया को स्पष्ट करने पर आधारित हैं तो यह स्वागत योग्य है. लेकिन हिंदुत्व के सिद्धांत की भागवत की इस नई परिभाषा में मुसलमानों और ईसाइयों को जोड़ने की बात महत्वपूर्ण है तो इसे नई बात नहीं कही जा सकती. क्योंकि संघ पहले भी ऐसी बातें करता रहा है. अतः भागवत और संघ के लिए यह जरूरी भी हो गया है कि इसे मूर्त रूप में भी सामने लाया जाए. बड़े बदलाव का संकेत मोहन भागवत ने अपने व्याख्यानों में संघ के कथित सांप्रदायिक चरित्र को भी खारिज करने की कोशिश की है. तीन दिवसीय संघ के सम्मेलन में भागवत के भाषण के ऐसे प्रमुख बिंदुओं को समझने की जरूरत है, जो संघ में एक बड़े बदलाव का संकेत दे रहे हैं, साथ ही पुरानी धारणाओं को तोड़ रहे हैं...आइए देखें संघ के लिए स्थापित धारणाओं पर कया...

हमारी भाषा हिंदी अमृत के समान है – डॉ. भूषण कुमार उपाध्याय

वेकोलि में "राजभाषा पखवाड़ा-2018" का शुभारम्भ नागपुर : वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड में "हिंदी दिवस" 14 सितम्बर के अवसर पर "राजभाषा पखवाड़ा-2018" का शुभारम्भ मानव संसाधन विकास विभाग के कल्याण सभागार में मुख्य अतिथि पुलिस आयुक्त डॉ. भूषण कुमार उपाध्याय और कंपनी के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक (सीएमडी) राजीव रंजन मिश्र ने मुख्य सर्तकता अधिकारी अशोक लभाने की उपस्थित में किया. इस अवसर पर महाप्रबधंक (कार्मिक) एवं राजभाषा प्रमुख इकबाल सिंह एवं समस्त विभागाध्यक्ष विशेष रूप से उपस्थित थे. इस अवसर पर डॉ. उपाध्याय ने कहा कि हमारी भाषा हिंदी अमृत के समान है. अपनी भाषा और अपना सम्मान करना जरूरी है. हमें मानसिक गुलामी से बाहर आना है. हिंदी हमें संस्कार देती है, अत: किसी अन्य भाषा का बहुत आवश्यक होने पर ही उपयोग करें. कार्यक्रम के अध्यक्ष सीएमडी मिश्र ने कर्मियों को अधिक से अधिक राजभाषा हिंदी में कामकाज करने का आह्वान किया. उन्होंने वैश्विक स्तर पर बढ़ रहे हिंदी के उपयोग की चर्चा की. उन्होंने सभी को "हिंदी दिवस की शुभकामनाएं दी. महाप्रबंधक (सामग्री प्रबंधन) आर.के. मिश्रा ने केन्द्रीय कोयला एवं रेल मंत्री पीयूष गोयल और विभागाध्यक्ष (एचआरडी) मार्कंडेय मिश्र ने अध्यक्ष कोल इंडिया लिमिटेड अनिल कुमार झा के हिंदी संदेशों का वाचन किया. सहायक प्रबंधक (राजभाषा/ जनसंपर्क) डॉ. मनोज कुमार ने कंपनी में हिंदी कामकाज का विवरण दिया. कार्यक्रम का संचालन सहायक प्रबंधक (जनसंपर्क) एस.पी. सिंह ने किया.

नागपुर के उमेश साहू भारतीय तैलिक साहू राठौर महासभा के नए अध्यक्ष घोषित

महासभा की दिल्ली बैठक में करेंगे शपथ ग्रहण पुलगांव (वर्धा) : भारतीय तैलिक साहू राठौर महासभा की दो दिवसीय राष्ट्रीय बैठक प्रधानमंत्री के अनुज प्रह्लाद भाई मोदी की उपस्थिति में संपन्न हुआ. इस अवसर पर राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व सांसद रामनारायणजी साहू, राष्ट्रीय महिला आयोग की पूर्व सदस्य श्रीमती सुषमा साहू, विधायक पारुल साहू एवं 18 राज्यों से आए स्वजातीय बन्धुगण उपस्थिति थे. देश भर से आए समस्त महानुभावों की उपस्थिति में राष्ट्रीय अध्यक्ष रामनारायणजी साहू ने नागपुर (महाराष्ट्र) के उमेश नन्दलालजी साहू को अपना उत्तराधिकारी (राष्ट्रिय अध्यक्ष) घोषित किया. अध्यक्षजी के इस प्रस्ताव का सकल साहू समाज ने स्वागत किया. महासभा की अगली बैठक दिल्ली में होना तय हुआ, जिसमें उत्तराधिकारी उमेश नन्दलालजी साहू राष्ट्रीय अध्यक्ष पद का शपथ ग्रहण करेंगे.

कलमेश्वर-सावनेर मार्ग पर ट्रक ने ऑटो को उड़ाया, 5 मृत, 6 जख्मी

नागपुर से दर्शन के लिए धापेवाड़ा गांव की चांदशाह दर्गाह जा रहे थे ब्रजेश तिवारी, नागपुर : कलमेश्वर पुलिस थाना अंतर्गत वटोडा गांव के समीप नागपुर से दर्शन के लिए धापेवाड़ा दर्गाह जा रहे ऑटोरिक्सा को ट्रक ने सामने से टक्कर मार दी, जिसमें 5 लोगों की घटनास्थल पर मृत्यु हो गई तथा 6 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. कलमेश्वर पुलिस से प्राप्त जानकारी अनुसार मोहर्रम के अवसर पर हैदराबाद से आए मेहमान तथा नागपुर के ताजबाग निवासी तीन ऑटोरिक्सा में सवार होकर आज गुरुवार, 20 सितंबर को दोपहर 2 बजे नागपुर से धापेवाड़ा गांव की चांदशाह दर्गाह दर्शन के लिए निकले थे. दोपहर 4 बजे के दरम्यान कलमेश्वर-सावनेर मार्ग पर पहले ऑटो क्रमांक एमएच-49ए/आर-4006 को सामने से तेज रफ्तार से आ रहे ट्रक क्रमांक एमएच-04ए/एल-8423 ने वाटोडा गांव के समीप एक मोड़ पर जबरदस्त टक्कर मार दी, यह टक्कर इतनी भाषण थी कि पूरा ऑटो चकनाचूर हो गया. 5 मृतकों में तीन बच्चे भी, 6 घायलों में दो जुड़वां शामिल ऑटो में सवार फातीमा रफीक मोहम्मद खान (40), आसमा परवीन मोहम्मद खान (23), नजीर तौसीफ मोहम्मद खान (1 साल 6 महीना), महिम तौसिफ मोहम्मद खान (2साल 6 महीना), फज्जु शेख शकील शेख (5 वर्ष) इन पांच लोगों की घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गई तथा नसरिन शेख युनुस शेख (30), पिंकी शेख शकील शेख (29), हसन नजीर शेख (30) तथा हुसेन नजीर शेख (30) जुड़वां भाई, इब्बु युनुस शेख (7), सईदा शेख शहाद्दुला (75) सभी नागपुर ताजबाग निवासी गंभीर रूप से घायल हो गए. सभी घायलों को नागपुर के मेयो हॉस्पीटल में भरती कराया गया. दुर्घटना की जानकारी मिलते ही कलमेश्वर के थानेदार चंद्रशेखर बहादुरे हे.कॉ. राजकुमार राऊत तत्काल घटनास्थल पहुंचे तथा घायलों उपचार के लिए नागपुर रवाना किया. उन्होंने ट्रक चालक के विरुद्ध मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है.

महारत्न कम्पनियों की तरह वेतन चाहते हैं वेकोलि केअधिकारी भी

मांगों के समर्थन में किया प्रदर्शन, पूरी नहीं होने पर हड़ताल पर जाने का किया ऐलान नागपुर : वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (वेकोलि) में कार्यरत अधिकारियों ने अपनी विभिन्न मांगों के समर्थन में आज कम्पनी मुख्यालय के सामने धरना-प्रदर्शन किया. आज मुख्यालय एवं सभी क्षेत्रों के अधिकारियों ने तीसरे वेतन आयोग की सिफारिशों के प्रति अपनी नाराजगी जताई. कोल माइंस आफसर्स असोसिएशन ऑफ इंडिया (सीएमओएआई) के बैनर तले अधिकारियों ने शांतिपूर्ण धरना-प्रदर्शन किया. संगठन की अपेक्स बॉडी के निर्णय के अनुसार, विरोध प्रदर्शन में बड़ी संख्या में शामिल अधिकारियों ने कहा कि कोल इंडिया के लोगों को अन्य महारत्न कम्पनियों की तरह वेतन मिलना ही चाहिए. अपनी मांगों के लिए कोल इंडिया लिमिटेड के अधिकारीगण काला फीता लगाकर अपना विरोध दर्ज कर रहे हैं और 26 सितम्बर, 2018 को सभी अनुषंगी कंपनियों के अधिकारीगण कोलकाता में कोल इंडिया के मुख्यालय ले समक्ष विरोध प्रदर्शन करेंगे. अपेक्स के वरिष्ठ उपाध्यक्ष और वेकोलि शाखा के अध्यक्ष श्री सौरभ दुबे ने कहा कि यदि कोल इंडिया लिमिटेड हमारी मांगों पर जल्द विचार नहीं करता है तो अधिकारीगण हड़ताल पर भी जाने से पीछे नहीं हटेंगे. वेकोलि शाखा के कोषाध्यक्ष व कार्यवाहक महासचिव डॉ. ए.के. सिंह, वेकोलि मुख्यालय शाखा के अध्यक्ष इकबाल सिंह, गोपाल सिंह सयुंक्त महासचिव अपेक्स बॉडी, ए.के. सिंह उपाध्यक्ष वेकोलि शाखा, ए.के. मिश्रा सयुंक्त कोषाध्यक्ष वेकोलि शाखा, वेकोलि मुख्यालय शाखा के सचिव डॉ. मनोज कुमार आदि ने कार्यक्रम की सफलता के लिए सक्रिय योगदान किया. इसमें वेकोलि सभी क्षेत्रों के अधिकारियों ने भाग लिया.

अग्रवाल और मोटवानी पर फिर से जताया ग्रेन एंड सीड्स मर्चेंटस ने भरोसा

एसोसिएशन के द्वि वार्षिक चुनाव में दिखा 31 और 26 वर्षों का अटूट विश्वास नागपुर : मध्य भारत का सबसे पुराना व्यापारिक संगठन दी होलसेल ग्रेन एंड सीड्स मर्चेंट एसोसिएशन के द्वि वार्षिक (2018-2020) चुनाव में लगातार 31 वर्ष से अध्यक्ष पद पर रहे संतोष कुमार अग्रवाल पुनः अध्यक्ष और लगातार 26 वर्षों से सचिव रहे प्रताप ए मोटवानी पुनः सचिव निर्विरोध निर्वाचित हुए. सदस्यों ने लगातार अग्रवाल पर पिछले 31 वर्षों से और मोटवानी पर 26 वर्षों से अपना भरोसा कायम रखा. चुनावी आम सभा का आयोजन लक्ष्मीबाई सत्संग हाल इतवारी अनाज बाजार में हुआ. जिसमें उपाध्यक्ष पद पर सुहास श्रीरसागर, सहसचिव द्वय पवनकुमार पोद्दार औऱ दीपक कुमार लाहोटी और कोषाध्यक्ष मधुसूदन अग्रवाल निर्विरोध निर्वाचित हुए. चुनाव अधिकारी रामवतार हुरकट की देखरेख में चुने गए पदाधिकारियों द्वारा 15 कार्यकारणी सदस्यों का चयन भी किया. जिसमें सर्वश्री महेश जेजानी, सुधीर श्रीरसागर, गेंदलाल शाहू, शिवकुमार गुप्ता, अजय अग्रवाल, वीरभान तुलसियानी, प्रवीण शाहू, विजय वाघवानी, रमेश खंडेलवाल, राजेश मदरानी, रितेश गोधवानी, दिलीप सच्चानी, जयेश शाह, अरुण अग्रवाल, दिनेश जाखोटिया शामिल हैं. फिर से अपनी टीम पर भरोसा बनाए रखने पर अध्यक्ष संतोषकुमार अग्रवाल ने सदस्यों का आभार प्रकट कर कहा कि एसोसिएशन ने ऐतिहासिक कार्य कर विकास कार्य और सदस्यों के हित में काम किया है. सचिव प्रताप मोटवानी ने भी लगातार विश्वास कायम रख पुनः चुनने पर सदस्यों का आभार माना. सचिव ने सदस्यों को बताया कि केट और एनवीसीसी द्वारा वॉलमार्ट और एमेजॉन, स्नैपडील जैसी कंपनियों के खिलाफ भारत बन्द को समर्थन देकर 28 सितंबर को होलसेल अनाज बाजार बंद रखा जाएगा. अंत में चुनाव अधिकारी रामवतार हुरकट, नवनिर्वाचित अध्यक्ष संतोष कुमार अग्रवाल और सचिव प्रताप मोटवानी का सदस्यों ने बुके देकर स्वागत किया.

झंकार महिला मंडल ने शांति भवन को झूला एवं अन्य उपयोगी सामग्री प्रदान की

नागपुर : झंकार महिला मंडल (वेकोलि) नागपुर ने बुधवार, 19 सितंबर को शांति भवन में रह रहे निवासियों के लिए एक झूला एवं खाद्य सामग्री तथा फल प्रदान किया. झंकार महिला मंडल की अध्यक्ष श्रीमती अनिता मिश्र ने शांति भवन की प्रमुख सिस्टर जोसिका को उक्त सामग्री सौंपी. इस अवसर पर उपाध्यक्ष श्रीमती रीना कुमार एवं श्रीमती प्रगति लभाने प्रमुखता से उपस्थित थीं. स्थानीय काटोल रोड स्थित चैरिटी ऑफ मिशनरीज द्वारा संचालित शांति भवन में संपन्न संक्षिप्त कार्यक्रम की सफलता के लिए सचिव श्रीमती संगीता दास,कोषाध्यक्ष श्रीमती सुषमा गोखले एवं अन्य पदाधिकारी सर्वश्रीमती सिम्मी सिंह, लिपिका श्रीवास्तव, मीना आजमी तथा मौसमी सरकार ने सक्रिय योगदान किया. उल्लेखनीय है कि झंकार महिला मंडल हर महीने अपनी गतिविधियों के तहत समाज सेवा करता है.