LATEST ARTICLES

भाजपा ने

भाजपा ने बिहार में कांग्रेस के 11 विधायकों पर डाले डोरे

*सीमा सिन्हा, पटना : बिहार में सत्ता पक्ष में बड़े घटक भाजपा ने, लगता है अपना संख्या बल बढ़ाने की कोशिशें तेज कर दी है. उसने विपक्षी गठबंधन के कांग्रेस के 11 विधायकों पर डोरे डाल दिए हैं. अरुणाचल में अपने सहयोगी दल जेडीयू के ही छह विधायकों को ही शामिल करने के बाद अब बिहार में भी गतिशील होता नजर आ रहा है. लेकिन फिलहाल यहां अपने एनडीए गठबंधन में कोई छेड़छाड़ तो नहीं कर रहा, लेकिन उसकी नजरें विपक्षी गठबंधन पर जरूर है.   विपक्षी गठबंधन के एक घटक कांग्रेस पार्टी के 11 विधायकों के बारे में आ रही खबर इस बात की पुष्टि करता नजर आ रहा है. क्योंकि कांग्रेस नेता और पूर्व विधायक भरत सिंह ने माना है कि ये 11 विधायक टूट कर एनडीए में शामिल हो सकते हैं. उन्होंने दावा किया है कि पार्टी में जल्द ही यह सब सामने आ जाएगा. हालांकि, कांग्रेस हाईकमान ने उनके बयान को खारिज कर दिया है. भरत सिंह का दावा है कि बिहार में पार्टी छोड़ने वाले नेताओं में प्रदेश अध्‍यक्ष मदन मोहन झा व कांग्रेस विधायक दल के नेता अजित शर्मा के भी नाम जुड़ सकते हैं. आरोप है कि भाजपा ने इन दोनों नेताओं को पहले से ही अपने पाले में ले लिया था. कांग्रेस नेता के इस बयान पर बिहार में राजनीति गर्मा गई है.   ज्ञातव्य है कि हाल में सम्‍पन्‍न हुए बिहार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के 19 विधायक जीते हैं. समझा जाता है कि भाजपा ने इनमें से 11 को तोड़ने की जुगत बिठा ली है. भरत सिंह ने दावा किया कि ये 11 विधायक ऐसे हैं, जो बाहर से आए और चुनाव जीत गए. ये पार्टी का कैडर नहीं हैं. उन्‍होंने आरोप लगाया चुनाव में कई लोगों ने पैसा देकर टिकट हासिल किए. भरत सिंह ने कहा कि बिहार में सत्तारूढ़ एनडीए अपना संख्‍या बल बढ़ाने के लिए लगातार प्रयासरत है. ऐसे में कांग्रेस के विधायकों पर उसकी नजर है. भरत सिंह ने कांग्रेस विधायक दल के नेता अजीत शर्मा पर भी पार्टी तोड़ने की इच्‍छा रखने वालों में शामिल होने का आरोप लगाया.   उनका कहना है कि 'जो 11 कांग्रेस विधायक पार्टी छोड़ना चाहते हैं, उन सब के मार्गदर्शक कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, राज्यसभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सदानंद सिंह हैं.  सदानंद सिंह और मदन मोहन झा एमएलसी बनाना चाहते हैं. राज्यपाल कोटे से अभी एमएलसी का नॉमिनेशन होना है.' विदित हो कि पूर्व विधायक भरत सिंह कांग्रेस में प्रदेश अध्‍यक्ष मदन मोहन झा के पुराने विरोधी रहे हैं. बीते दिनों कांग्रेस मुख्‍यालय सदाकत आश्रम में उन्‍होंने मदन मोहन झा सहित कई बड़े नेताओं पर गंभीर आरोप लगाते हुए धरना भी दिया था. अब उनका ताजा बयान भी मदन मोहन झा सहित कई बड़े नेताओं को कटघरे में खड़ा कर रहा है.
रॉबर्ट वाड्रा

रॉबर्ट वाड्रा के बेनामी संपत्ति केस की जांच, 9 घंटे पूछताछ

आयकर जांच के बाद कसा शिकंजा, धनशोधन की जांच कर रहा ईडी नई दिल्ली : कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा की बेमानी संपत्ति मामले की जांच के बाद आयकर विभाग ने उनका बयान रिकॉर्ड कर लिया है. जांच के क्रम में उनसे 9 घंटे पूछताछ की गई. विभाग की ओर से उनकी बेनामी संपत्ति मामले की जांच सोमवार, 4 जनवरी को शुरू की गई थी. वाड्रा कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद और प्रॉपर्टी डीलर सहित बड़े बिजनेसमैन भी हैं. सूत्रों के अनुसार वाड्रा का जवाब दक्षिण-पूर्व दिल्ली के सुखदेव विहार कार्यालय में रिकार्ड किया गया. सूत्रों ने बताया कि आयकर विभाग राबर्ट वाड्रा से उनके बीकानेर और फरीदाबाद के भूखंड घोटाला प्रकरण की जांच की जा रही है. रॉबर्ट वाड्रा पर स्काईलाइट हॉस्पिटिलिटी से 69.55 हेक्टेयर भूखंड 72 लाख रुपए में खरीद कर बाद में एलेगेनी फिनलेज को 5.15 करोड़ रुपए में बेचने का मामला दर्ज हुआ था. इस डील में वाड्रा ने 4.43 करोड़ रुपए का तथाकथित अवैधानिक मुनाफ़ा कमाया.   धनशोधन मामले की जांच कर रहा ईडी उल्लेखनीय है कि कुछ महीने पहले रॉबर्ट वाड्रा को लगातार प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के ऑफिस बुलाया जा रहा था. उस दौरान ईडी ने दिल्ली उच्च न्यायालय से यहां तक कहा था कि रॉबर्ट वाड्रा को हिरासत में लेकर पूछताछ किए जाने की आवश्यकता है. जांच एजेंसी ने दलील दी थी कि 'धन के लेन-देन की कड़ियों से' कथित रूप से उनका सीधा संबंध है. ईडी ने वाड्रा पर आरोप लगाया था कि वे अपने खिलाफ धनशोधन मामले की जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं. हालांकि वाड्रा के वकील ने ईडी के दावों को खारिज करते हुए कहा था कि एजेंसी जब कभी उनके मुवक्किल को बुलाती है, वह उसके सामने पेश होते हैं और उन्होंने जांच में पूरा सहयोग किया है. वकील ने यह भी कहा था कि ईडी ने जो प्रश्न किए, उनके मुवक्किल ने उनका उत्तर दिया और उन पर लगाए गए आरोपों को स्वीकार नहीं करने का यह अर्थ नहीं है कि वह सहयोग नहीं कर रहे हैं. बता दें कि निचली अदालत ने वाड्रा को अग्रिम जमानत दे दी थी, जिसे ईडी ने उच्च न्यायालय में चुनौती दी थी. वाड्रा पर लंदन के 12, ब्रायनस्टन स्क्वायर स्थित 17 करोड़ रुपए की सम्पत्ति की खरीदारी में धनशोधन का भी आरोप है.
गौशाला

गौशाला जाकर गौसेवा की VSSS की महिलाओं ने, मेट्रो में यात्रा की

नागपुर : विश्व सिंधी सेवा संगम के नागपुर-विदर्भ की बहिनों की टीम ने कोंडाली रोड पर लोहिया गौशाला में गौशाला में गौसेवा का आनंद प्राप्त किया. नए साल के पूर्व एक और बेमिसाल यादगार गतिविधि में सम्मिलित होकर उन्होंने बेहद खुशगवार अनुभव प्राप्त किया. विश्व सिंधी सेवा संगम की नागपुर-विदर्भ की 50 महिलाओं की टीम नागपुर-अमरावती रोड पर स्थित लोहिया गौशाला गईं, जहां सैकड़ों गौ माता का वास है. बहिनों ने गौसेवा की और दिन भर गौशाला में बिताकर गौशाला व्यवस्थापन संबंधी जानकारी भी प्राप्त की. वे गौ माता के लिए गुड़-चना और रोटियां बना कर ले गईं थी. उन्होंने सभी गौ माता को भोजन करवाया और आत्मिक आनंद की अनुभूति से अपने को धन्य किया. महाराष्ट्र महिला टीम की अध्यक्ष डॉ. हिना मुनियार और महासचिव सुनीता जेसवानी, विदर्भ महिला अध्यक्ष कंचन जगयासी, नागपुर महिला अध्यक्ष सुनीता बजाज, पूर्व नागपुर महिला अध्यक्ष अर्चना छाबरिया, उपाध्यक्ष उषा आमेसर, हितिशा मुलतानी और अन्य बहिनों ने महाराष्ट्र वीएसएसएस के अध्यक्ष प्रताप मोटवानी का धन्यवाद किया, जिनकी प्रेरणा से गौसेवा की सुखद अनुभूति उन्होंने पाई. गौशाला में सेवा करने वाली बहिनो में डॉ.हिना मुनियार, सुनीता जेसवानी, कंचन जग्यासी, करिश्मा मोटवानी, विद्या बाखर, कशिश सच्चानी, मोनिका मेठवानी, मंजू कुंगवानी, सुनीता बजाज, अर्चना छाबरिया, उषा आमेसर, हितिशा मुलतानी, भूमिका प्रेमानी, नाव्या सचदेव, नीतू बंसल प्रेमानी, कमला सुगंध, कोमल चंदवानी, काजल सुगंध, आँचल सुगंध, चांदनी मुनियाल, वंदना वटियानी, कंचन चंदवानी, कोमल जगयासी, रूप तनवानी, दिव्या ग्वालानी, भावना दयानी, काजल नागदेव, गीता चावला, पूनम मोटवानी, संगीता कृष्णानी, डॉ भाग्यश्री, अनिता राजपाल, किरण जीवनानी, वान्या खूबचंदानी, रिया रामचंदानी, वीना अडवाणी, प्रियंका सावलानी, प्रिया चंदवानी, हीर आहूजा, आशा लालवानी, संगीता दलवानी, पुनिता आमेसर, रिचा वटियानी, निशा केवलरमानी, गौरी काछेला शामिल थीं. उन्होंने गौशाला में दिन भर सेवा कर एक मिसाल पेश की. शहरी संस्कृति में पाली-बढ़ीं युवा बहिनों के लिए गौसेवा की अनुभूति अनूठी और अत्यंत आनंदमयी थी. गौशाला से वापसी पर डॉ. हिना मुनियार और सुनीता जेसवानी ने गौशाला प्रबंधकों का आभार माना. नागपुर मेट्रो में आनंदमय यात्रा नागपुर शहर के लिए गौरव की बात है कि शहर के अधिकतम क्षेत्रो में मेट्रो रेल शुरू हो गई है. विश्व सिंधी सेवा संगम महाराष्ट्र के अध्यक्ष प्रताप मोटवानी के नेतृत्व में पिछले रविवार को संगम की महिलाओं के एक दल ने मेट्रो-यात्रा का आनंद लिया. यह यात्रा नाग विदर्भ चेम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष अश्विन भाई मेहाडिया के निमंत्रण पर आयोजित की गई थी. संगम की टीम ने सीताबर्डी से खापरी तक सपरिवार मेट्रो की आनंदमय यात्रा कर बेहद ही सुखद आनंद प्राप्त किया. सभी भाई.बहिनें नाग विदर्भ चेम्बर ऑफ कॉमर्स की टीम के साथ पगड़ी पहन कर शामिल हुईं. और किसी बारात में जाने जैसा सुखद अहसास किया.   मोटवानी ने बताया कि अधिकतम भाई-बहिन पहली बार मेट्रो में यात्रा कर रहे थे. इसीलिए उनकी यह प्रथम यात्रा रोमांचकारी रही. मेट्रो के आकर्षण वातानुकूलित डिब्बों में बैठने का मजा ही कुछ अलग था. कुछ टीवी चैनल वालों ने उनसे मेट्रो यात्रा के अनुभव साझा करने का साक्षात्कार भी लिया. सभी ने केंद्रीय मंत्री नीतिनजी गड़करी की सराहना की, जिनके कारण नागपुर मेट्रो प्रकल्प साकार हुआ है. मेट्रो से नागपूर शहर की...
सेवानिवृत्त हुए

सेवानिवृत्त हुए वेकोलि के CMD मिश्र, भाव-भीनी विदाई 

नागपुर : वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (वेकोलि) परिवार ने आज अपने मुखिया सेवानिवृत्त हुए CMD राजीव रंजन मिश्र को भावभीनी बिदाई दी. आज उनकी सेवा-निवृत्ति के अवसर पर कम्पनी मुख्यालय के सांस्कृतिक भवन में आयोजित सम्मान समारोह में उनका सपत्नीक सत्कार किया गया. वेकोलि के सेवानिवृत्त CMD मिश्र ने अपने उद्गार व्यक्त करते हुए कहा कि इस कम्पनी की टीम पूरी कोल इंडिया में सर्वश्रेष्ठ है. इसीलिए, इस टीम के भरोसे वे बहुत कुछ वेकोलि में करने में सफ़ल रहे. उन्होंने कहा कि उत्पादन-उत्पादकता में कम्पनी की उपलब्धि के साथ इस टीम ने सभी मोर्चों पर सफतापूर्वक कार्य निष्पादन कर इतिहास रचा है. उनके प्रति टीम वेकोलि के सदस्यों के प्रेम के लिए मिश्र ने भावुक शब्दों में आभार जताया. उन्होंने कहा कि नागपुर में उनके छह साल के कार्यकाल के दौरान सभी का बहुत सहयोग मिला, जिससे वे कभी उऋण नहीं हो सकते. आज सेवानिवृत्त हुए उमेश कुमार जैन (मुख्य प्रबन्धक ई एंड एम) तथा एम. भूपति (कार्यालय अधीक्षक सामान्य, सेवाएं विभाग) को भी समारोह में बिदाई दी गई.  इस अवसर पर झंकार महिला मंडल की अध्यक्ष श्रीमती अनिता मिश्र, उपाध्यक्ष सर्वश्रीमती रीना कुमार,अनिता अग्रवाल, राधा चौधरी, आरती शुक्ला, श्रद्धा श्रीवास्तव तथा निदेशक (कार्मिक) डॉ. संजय कुमार,निदेशक तकनीकी (संचालन) मनोज कुमार, निदेशक तकनीकी (योजना व परियोजना) अजित कुमार चौधरी, निदेशक (वित्त) आर.पी. शुक्ला, सीवीओ अमित कुमार श्रीवास्तव तथा वेकोलि संचालन समिति के सदस्य सर्वश्री सुनील मिश्रा, नारायण राव सारटकर, शिव कुमार यादव, सी जे जोसेफ़, एस.एच. बेग, सौरभ दुबे एवं कल्याण मंडल सदस्य सर्वश्री कमलाकर पोटे, ब्रजेश सिंह, रामकेरा यादव तथा कामेश्वर राय आदि प्रमुखता से उपस्थित थे. वेकोलि की गत छह वर्षों की विकास यात्रा की डॉक्यूमेंट्री भी दिखाई गई. स्वागत भाषण डा. संजय कुमार ने किया. मनोज कुमार ने कम्पनी के विकास और स्थायित्व में सेवानिवृत्त CMD आर.आर. मिश्र के योगदान को याद करते हुए उनके प्रति आदर व्यक्त किया. इस अवसर पर महाप्रबंधक (खनन) और सीएमडी के तकनीकी सचिव ने भी अपने अनुभव को साझा किया. टीम वेकोलि की ओर से मिश्र दम्पत्ति का सभी ने दिल से सत्कार किया. कार्यक्रम का संचालन सलाहकार (जनसंपर्क) एस.पी. सिंह ने किया. 
पोखरियाल

पोखरियाल : 4 मई से शुरू होंगी 10वीं-12वीं की CBSE परीक्षाएं

प्रैक्टिकल एग्जाम शुरू होगा 1 मार्च से, 15 जुलाई तक जारी होगा रिजल्ट नई दिली : केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने CBSE 10वीं-12वीं परीक्षा के लिए डेटशीट जारी कर दी है. शिक्षा मंत्री ने बताया कि बोर्ड की परीक्षा 4 मई से शुरू होकर 10 जून तक चलेगी, जबकि प्रैक्टिकल एग्जाम 1 मार्च से शुरू होंगे. वहीं, परीक्षा का रिजल्ट 15 जुलाई तक जारी किया जाएगा. स्टूडेंट्स और टीचर्स का जताया आभार सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए आयोजित हुए लाइव वेबिनार वेबिनार में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कोरोना के समय छात्रों ने पूरे मनोबल के साथ परीक्षाएं दीं और हम सबने मिलकर साल बर्बाद होने से बचाया. अब हम आने वाले सेशन की तैयारी में जुटे हुए हैं. ऑनलाइन क्लास और टीवी चैनलों से सभी बच्चों तक शिक्षा पहुंचा रहे हैं. उन्होंने कहा कि CBSE ने कोरोना महामारी के कारण पढ़ाई को हुए नुकसान को देखते हुए 10वीं- 12वीं के सिलेबस में 30 फीसदी की कटौती की है. इससे छात्रों को काफी राहत मिली है. Announcing the date of commencement for #CBSE board exams 2021. @SanjayDhotreMP @EduMinOfIndia @cbse @mygovindia @MIB_India @PIB_India @DDNewslive https://t.co/PHiz3EwFvz?ref=tpst-msn — Dr. Ramesh Pokhriyal Nishank (@DrRPNishank) December 31, 2020 इससे पहले में केंद्रीय मंत्री पोखरियाल ने बुधवार को अपने सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए जानकारी देते हुए साफ किया कि बोर्ड परीक्षाएं ऑनलाइन नहीं होंगी। इन्हें कोरोना प्रोटोकॉल के तहत कराया जाएगा. सोशल मीडिया पर दी जानकारी पोखरियाल ने इससे पहले शनिवार को सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर कर बताया था कि वह 10वीं- 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं की तारीखों का ऐलान 31 दिसंबर को करेंगे. उन्होंने अपनी में पोस्ट लिखा कि साल 2021 में CBSE बोर्ड परीक्षा देने वाले स्टूडेंट्स की परीक्षाएं कब शुरू होंगी, इस बारे में मैं 31 दिसंबर को ऐलान करुंगा. उन्होंने कहा था कि स्टूडेंट, पेरेंट्स और टीचर्स काफी दिनों से 10वीं- 12वीं की बोर्ड परीक्षा की तारीखों का इंतजार कर रहे थे. इस बारे में सभी से विचार-विमर्श के बाद बोर्ड परीक्षा की तारीखें तय कर ली गई हैं. 📢Major announcements for students & parents! I will announce the date when the exams will commence for students appearing for #CBSE board exams in 2021. Stay tuned. pic.twitter.com/Lvp9Lf0qsT — Dr. Ramesh Pokhriyal Nishank (@DrRPNishank) December 26, 2020 स्टूडेंट्स और टीचर्स से की बातचीत इससे पहले केंद्रीय शिक्षा मंत्री पोखरियाल ने 10 दिसंबर और 22 दिसंबर को स्टूडेंट्स और टीचर्स से लाइव वेबिनार के जरिए बातचीत भी की थी. बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि बोर्ड परीक्षाएं फरवरी 2021 तक आयोजित नहीं कराई जाएंगी. हालांकि, फरवरी के बाद यह परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में ही आयोजित होंगी.
Big Bazaar

Big Bazaar : कैरी बैग के लिए अतिरिक्त वसूली अनुचित ट्रेड प्रैक्टिस

NDRC ने खारिज किया बिग बाजार (फ्यूचर रिटेल लिमिटेड) की ओर से दायर पुनर्विचार याचिका     चंडीगढ़ : राष्ट्रीय उपभोक्ता विवाद निवारण आयोग (NCDRC) ने Big Bazar को भुगतान करने के समय उपभोक्ता पर कैरी बैग की अतिरिक्त लागत लगाने के अपने अनुचित ट्रेड प्रैक्टिस को तत्काल प्रभाव से बंद करने का निर्देश दिया है. Big Bazaar की ओर से दायर पुनर्विचार याचिका खारिज करते हुए आयोग ने कहा कि उपभोक्ता को खास रिटेल आउटलेट के पास जाने और उस आउटलेट से खरीद के लिए वस्तुओं के चयन करने से पहले यह जानने का हक है कि कैरी बैग के लिए उसे अतिरिक्त पैसे देने होंगे. इतना ही नहीं, उपभोक्ता को उस कैरी बैग की कीमत और उसकी विभिन्न विशेषताएं जानने का भी हक होगा. Big Bazaar (फ्यूचर रिटेल लिमिटेड) बनाम साहिल डावर मामले में NDRC के समक्ष मुद्दा यह था कि क्या शिकायतकर्ता द्वारा खरीदे गए सामान को ले जाने के लिए कैरी बैग के लिए अतिरिक्त पैसे (इस मामले में 18/-रु.) वसूले जाने को दोष और अनुचित कारोबार व्यवहार कहा जा सकता है? इससे पूर्व अक्टूबर 2019 में हरियाणा के चंडीगढ़ जिला उपभोक्ता फोरम और राज्य उपभोक्ता विवाद निपटारा आयोग ने बिग बाजार पर दो ग्राहकों की शिकायत पर 23000 हजार रुपए का जुर्माना लगा चुके हैं. उन्होंने बलदेव राज और संतोष कुमारी के ऐसे ही मामले में फैसला सुनाते हुए 10-10 हजार रुपए Consumer Legal Aid Account में जमा करने और दोनों उपभोक्ताओं को 1,500-1,500 रुपए देने का आदेश दिया था. जिला उपभोक्ता फोरम और राज्य उपभोक्ता विवाद निपटारा आयोग ने बिग बाजार के खिलाफ आदेश जारी करते हुए कहा कि रिटेल आउटलेट में खरीदे गए सामान को घर तक ले जाने में सहूलियत के लिए बगैर अतिरिक्त खर्च के कैरी बैग उपलब्ध कराने की सामान्य प्रथा है. याचिका खारिज करते हुए आयोग ने आगे निर्देश दिया : 2019 के संबंधित कानून की धारा 39 (1) (जी) के तहत ऑपोजिट पार्टी कंपनी को उसके मुख्य कार्यकारी के माध्यम से आदेश दिया जाता है कि वह किसी उपभोक्ता द्वारा रिटेल आउटलेट का चयन करने तथा सामान के चयन और उसकी खरीद से पहले प्रमुखता से पूर्व सूचना और जानकारी तथा कैरी बैग की प्रमुख विशेषताओं और कीमत की जानकारी दिये बिना एकतरफा तरीके से कैरी बैग के लिए अतिरिक्त पैसे लेने के अनुचित ट्रेड प्रैक्टिस को तत्काल प्रभाव से बंद करे.  
PMC

PMC Bank Fraud : संजय राउत की पत्नी की पेशी 29 को

मुंबई : शिवसेना नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत अब एक नई परेशानी में फंस गए हैं. प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने उनकी पत्नी वर्षा राउत पर शिकंजा कसा है. ED ने PMC Bank Fraud मामले में उनकी पत्नी वर्षा संजय राउत को 29 दिसंबर को पेश होने के लिए कहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक PMC Bank Fraud के एक आरोपी प्रवीण राउत की पत्नी के साथ संजय राउत की पत्नी ने कुछ लेन-देन किया था, जिसे लेकर अब ED वर्षा राउत से पूछताछ करने के लिए उन्हें समन भेजकर बुलाया है. दरअसल कुछ दिन पहले ही ईडी ने प्रवीण राउत नाम के शख्स को इस मामले में गिरफ्तार किया था. इस मामले में उसस पूछताछ की गई. खबरों की माने तो प्रवीण राउत के अकाउंट से कुछ लेन-देन वर्षा राउत के अकाउंट में हुए थे, जिसे लेकर ED जानकारी हासिल करना चाहती है. इसी मामले में वर्षा राउत को ईडी ने समन भेजकर पूछताछ के लिए बुलाया है. ED की नोटिस के बाद संजय राउत ने ट्वीट किया, 'आ देखें जरा किसमें कितना है दम, जमके रखना कदम मेरे साथिया.' ईडी ने यह कार्रवाई पंजाब एंड महाराष्ट्र कॉपरेटिव बैंक फ्रॉड मामले में की है. हालांकि,  ED  इससे पहले भी वर्षा राउत को पेश होने के आदेश दे चुकी है. ED ने इससे पहले उन्हें 11 दिसंबर को पेश होने के लिए कहा था. इस मामले पर भारतीय जनता पार्टी के नेता और पूर्व लोकसभा सांसद किरीट सोमैया ने संजय राउत पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने वीडियो संदेश के जरिए कहा, 'PMC Bank Fraud के संबंध में ईडी ने संजय राउत जी के परिवार को नोटिस भेजा है. ऐसा कहा जाता है. मैं संजय राउत साहब से पूछता हूं कि क्या आपका या आपके परिवार का पीएमसी बैंक के साथ आर्थिक व्यवहार हुआ था.' उन्होंने कहा, 'क्या आर्थिक व्यवहार हुआ था, वह भी जनता के सामने रखें. क्या आपके पास इस संबंध में इससे पहले जानकारी या नोटिस आई थी क्या, यह जानकारी भी जनता के सामने रखें. सोमैया ने बैंक को फिर से शुरू करने की बात पर जोर दिया है. उन्होंने कहा, '10 लाख लोगों के पैसे पीएमसी बैंक में फंसे हैं. बैंक पुनर्जीवित होना चाहिए, ऐसे हमारे प्रयत्न हैं. उसी प्रकार से उसके लाभार्थी की भी जांच होनी चाहिए.' क्या है PMC Bank Fraud   PMC Bank ने अवैध तरीके से HDIL ग्रुप को 6500 करोड़ रुपए लोन दिया था, जो सितंबर 2019 में बैंक के टोटल लोन बुक साइज 8880 करोड़ रुपए का का 73% था. मार्च, 2019 में बैंक का डिपोजिट बेस 11,617 करोड़ रुपए था. यह घोटाला उजागर होने के बाद PMC Bank के पूर्व एमडी जॉय थॉमस और पूर्व चेयरमैन वरयाम सिंह को पिछले साल अक्टूबर में मुंबई की इकोनॉमिक ऑफेंस विंग ने गिरफ्तार कर लिया था. इनके अलावा बैंक के और भी कई सीनियर अधिकारियों को गिरफ्तार किया गया था. यह मामला सितंबर 2019 में सामने आया था. तब एक 'व्हिसलब्लोअर' की मदद से रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया को यह जानकारी मिली थी कि बैंक एक रियल ऐस्टेट डेवलपर को रुपए देने के लिए नकली खातों का...
झंकार महिला,

झंकार महिला मंडल के कार्य सराहनीय : डॉ. रेणु अग्रवाल

नागपुर : कोल इंडिया लिमिटेड ऑफिसर्स वाइव्स समिति की अध्यक्षा डॉ. (श्रीमती) रेणु अग्रवाल ने वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (वेकोलि) के झंकार महिला मंडल की सामाजिक गतिविधियों की प्रशंसा की है. उन्होंने कहा कि वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड की कामयाबी के साथ-साथ झंकार महिला मंडल का कार्य वास्तव में सराहनीय हैं. डॉ. रेणु अग्रवाल पिछले दिन वेकोलि के इंदौरा परिसर स्थित उद्यान में मंडल के कार्यक्रम को मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रही थीं. उन्होंने इस अवसर पर झंकार मंडल की वार्षिक पत्रिका "समर्पण" का विमोचन किया.  प्रारंभ में झंकार की अध्यक्ष श्रीमती अनिता मिश्र ने झंकार महिला मंडल की सामाजिक गतिविधियों का विवरण प्रस्तुत किया. कार्यक्रम में डॉ. रेणु अग्रवाल के हाथों झंकार ने 'हेल्प एज इंडिया' तथा 'गरज बहुउद्देशीय कल्याणकारी संस्था', नागपुर को 25-25 हजार रुपये की आर्थिक सहायता के चेक प्रदान किए गए.  इस अवसर पर झंकार मंडल की उपाध्यक्ष सर्वश्रीमती अनिता अग्रवाल, राधा चौधरी, आरती शुक्ला, श्रद्धा श्रीवास्तव तथा झंकार महिला मंडल की पदाधिकारी एवं सदस्य प्रमुखता से उपस्थित थीं. धन्यवाद ज्ञापन श्रीमती अनिता अग्रवाल ने एवं कार्यक्रम का संचालन श्रीमती संगीता दास ने किया.  कोल इंडिया लिमिटेड ऑफिसर्स वाइव्स समिति की अध्यक्षा डॉ. (श्रीमती) रेणु अग्रवाल ने वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (वेकोलि) के झंकार महिला मंडल की सामाजिक गतिविधियों की प्रशंसा की है. उन्होंने कहा कि वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड की कामयाबी के साथ-साथ झंकार महिला मंडल का कार्य वास्तव में सराहनीय हैं. डॉ. रेणु अग्रवाल पिछले दिन वेकोलि के इंदौरा परिसर स्थित उद्यान में मंडल के कार्यक्रम को मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रही थीं. उन्होंने इस अवसर पर झंकार मंडल की वार्षिक पत्रिका "समर्पण" का विमोचन किया.  प्रारंभ में झंकार की अध्यक्ष श्रीमती अनिता मिश्र ने झंकार महिला मंडल की सामाजिक गतिविधियों का विवरण प्रस्तुत किया. कार्यक्रम में डॉ. रेणु अग्रवाल के हाथों झंकार ने 'हेल्प एज इंडिया' तथा 'गरज बहुउद्देशीय कल्याणकारी संस्था', नागपुर को 25-25 हजार रुपये की आर्थिक सहायता के चेक प्रदान किए गए.  इस अवसर पर झंकार मंडल की उपाध्यक्ष सर्वश्रीमती अनिता अग्रवाल, राधा चौधरी, आरती शुक्ला, श्रद्धा श्रीवास्तव तथा झंकार महिला मंडल की पदाधिकारी एवं सदस्य प्रमुखता से उपस्थित थीं. धन्यवाद ज्ञापन श्रीमती अनिता अग्रवाल ने एवं कार्यक्रम का संचालन श्रीमती संगीता दास ने किया.
किसान दिवस

किसान दिवस : किसान परिवारों के साथ मनाया VSSS की बहिनों ने

नागपुर : विश्व सिंधी सेवा संगम (VSSS) की बहिनों ने किसानों के परिजनों के साथ मिलकर किसान दिवस मनाया. VSSS के महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष प्रताप मोटवानी ने बताया कि नागपुर विदर्भ टीम से जुड़ी सभी बहिनें नागपुर के पास सोनेगांव जाकर किसानों के परिवार के साथ उनके खेतों में बुधवार को अन्नदाता किसान दिवस मनाया. उनके परिवार की दिनचर्या में शामिल होकर उन्होंने समाज में उनके महत्त्वपूर्ण योगदान के प्रति आभार जताया. मोटवानी ने कहा कि विश्व सिंधी सेवा संगम परिवार के इतिहास में नागपुर की बहिनों ने जो कार्य किए हैं, उसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए, कम है. उनका यह कदम समाज को किसानों के प्रति आभार जताने का मार्ग सिखाया है. उन्होंने कहा कि आज पूरे देश में किसान आंदोलन चर्चा का विषय है और ऐसे समय विश्व सिंधी सेवा संगम की महिलाओं की सोच अदभुत है. किसानों को बहिनों ने कम्बल, कपड़े, खाद्य सामग्री और खेती के सामान भी वितरित किए. उनके परिवार के साथ बैठ नाश्ता और वनभोज भी किया. बहिनों ने किसानों के बच्चों के साथ मिल खेलकूद कर मनोरंजन भी किया. VSSS की बहिनों के इस स्नेहयुक्त व्यहवार से किसानों के परिजनों और उनके बच्चों के खुशी के आंसू छलक उठे. कोई शहर से आकर उन्हें प्यार, अपनत्व और स्नेह देकर उनके साथ समय बिताएगा, ऐसी कल्पना उनमें से किसी ने नहीं की थी. किसानों ने भी उनके सत्कार में कोई कमी नहीं की. उन्होंने उन्हें चाय नाश्ता और अपने खेतों की सब्जी उपहार स्वरूप भेंट कर अपनी कृतज्ञता जताई. उन्हें अपना खेत और फसलों की पैदावार के बारे में बताया. अपने खेत की वाहन बंडी पर, जिससे बैल खेत सींचते हैं, उसमें बैठा कर बहिनो को आनंदित किया. मोटवानी ने कहा कि बहिनों का यह उपक्रम बेहद तारीफ के योग्य है. बहिनों की इस टीम में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एड. मीरा भमभवानी, महाराष्ट्र महिला टीम अध्यक्ष डॉ. हिना मुनियार, श्रीमती सुनीता जेसवानी, विदर्भ अध्यक्ष श्रीमती कंचन जगयासी, महासचिव रिचा केवलरमानी, लता भागिया, कशिश सच्चानी, मोनिका मेठवानी, निशा केवलरमानी, महाराष्ट्र सचिव करिश्मा मोटवानी, महाराष्ट्र सचिव साक्षी थारवानी, नागपुर टीम अध्यक्ष सुनीता बजाज, कार्याध्यक्ष विद्या बाखरू, महासचिव पूजा मोरयानी, पूर्व नागपुर महिला टीम उपाध्यक्ष उषा आमेसर, दिव्या ग्वालानी, भावना दयानी, पुनीता आमेसर, पुष्पा गिडवानी, प्रिया जेसवानी, किरण केवलरमानी और अन्य बहिनें सम्मिलित थीं. किसान दिवस के उपलक्ष्य में किसानों के परिवारों के साथ खुशियां बांट कर उन्होंने सराहनीय कार्य किया, जिसकी सर्वस्त्र सराहना हो रही है. मोटवानी ने कहा VSSS का पूरा महाराष्ट्र संगठन टीम बहिनों का अभिननन्दन करता है.
"श्रमेव जयते"

“श्रमेव जयते” समारोह में कोल वारियर्स सम्मानित

कोल इंडिया अध्यक्ष ने WCL के कार्य-निष्पादन की सराहना की   नागपुर : कोल इंडिया लिमिटेड (CIL) के अध्यक्ष प्रमोद अग्रवाल ने वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (WCL) के "श्रमेव जयते" कार्यक्रम में उत्कृष्ट कोल वॉरियर्स को सम्मानित किया. उन्होंने WCL के कार्य-निष्पादन की प्रशंसा की. वे मुख्यालय के सांस्कृतिक भवन में आयोजित कार्यक्रम में Team WCL को सम्बोधित कर रहे थे. अध्यक्षता WCL के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक राजीव रंजन मिश्र ने की. समारोह में डीटीओ मनोज कुमार ने स्वागत भाषण किया.   अग्रवाल ने पिछले वर्षों में कम्पनी की विकास-यात्रा पर संतोष व्यक्त किया. उन्होंने टीम वेकोलि को "श्रमेव जयते" को चरितार्थ करने पर बधाई दी. उन्होंने कहा कि WCL के OUT Of BOX कार्यों की भी खूब चर्चा होती रही है. अग्रवाल ने कहा कि WCL के कर्मियों ने उल्लेखनीय कार्य कर कम्पनी को विकास-पथ पर आगे बढ़ाया, "श्रमेव जयते" को जमीन पर उतारा. उन्होंने आह्वान किया कि कोयला-उत्पादन के दौरान सेफ़्टी का पूरा ख्याल रखें. कोविड-19 के कारण लॉक डाउन में प्रबंधन की ततपरता से WCL कर्मियों द्वारा किए गए राहत-कार्य की उन्होंने विशेष सराहना की. चेयरमैन ने 'नो योर माइन' एप्प का शुभारम्भ भी किया. इस अवसर पर कोल इंडिया ऑफिसर्स वाइव्स समिति की अध्यक्ष  डॉ  रेणु अग्रवाल, झंकार महिला मंडल की अध्यक्ष श्रीमती अनिता मिश्र, सीएमडी, निदेशक गण, सीवीओ तथा संचालन समिति के सदस्य प्रमुखता से उपस्थित थे. इसके पूर्व उन्होंने क्षेत्रों के महाप्रबन्धकों के साथ कम्पनी के कार्य-निष्पादन की समीक्षा की. बैठक में अध्यक्ष सह प्रबन्ध निदेशक राजीव रंजन मिश्र ने स्वागत सम्बोधन और कम्पनी के कार्य-कलापों का विवरण पॉवर पॉइंट के माध्यम से किया. इस अवसर पर निदेशक तकनीकी (संचालन) मनोज कुमार, निदेशक (तकनीकी योजना व परियोजना) अजित कुमार चौधरी, निदेशक (वित्त) आर. पी. शुक्ला, मुख्य सतर्कता अधिकारी अमित कुमार श्रीवास्तव, CMPDIL के क्षेत्रीय निदेशक अमर, महाप्रबंधक (कॉर्पोरेट अफेयर्स) तरुण कुमार श्रीवास्तव तथा क्षेत्रों के महाप्रबंधक एवं मुख्यालय के विभागाध्यक्ष प्रमुखता से उपस्थित थे. उसके पूर्व चेयरमैन अग्रवाल ने शहीद स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की. बैठक के बाद उन्होंने नागपुर क्षेत्र की गोंडेगांव खुली खदान का निरीक्षण और सैंड प्रोसेसिंग प्लांट  का उद्घाटन किया. तत्पश्चात , उन्होंने  सावनेर स्थित बहुचर्चित ईको पार्क में नव निर्मित कोल म्यूजियम का उद्घाटन किया. उन्होंने पाटनसावंगी स्थित आर.ओ. बॉटलिंग प्लांट का भी मुआयना किया.