सीएम केजरीवाल ED अधिकारियों की करवा रहे थे जासूसी 

0
288
सीएम केजरीवाल
Delhi CM Arvind Kejriwal.

150 पन्नों की दो ED अधिकारियों की रिपोर्ट मिली घर से, एक और गढ्ढा अपने लिए खोद लिया है दिल्ली के सीएम ने 

नई दिल्‍ली : दिल्‍ली में मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपनी मुश्किलें खुद बढ़ा ली हैं. सुविज्ञ सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार सीएम केजरीवाल के घर से बृहस्पतिवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) के अधिकारियों को 150 पन्नों का एक दस्तावेज मिला है. इस दस्तावेज़ में ED के दो वरिष्ठ अधिकारियों की डेढ़ सौ पन्ने की डिटेल रिपोर्ट है. ये दोनों अधिकारी ज्‍वाइंट डायरेक्टर लेवल के अधिकारी हैं. 

आपराधिक कृत्य..!

प्रश्न है कि इतने सीनियर अधिकारियों के बारे में 150 पन्नों की जानकारी सीएम केजरीवाल ने क्यों इकट्ठी की? क्या यह अवैध तरीके से जासूसी का मामला नहीं बनता? क्या दिल्ली के सीएम द्वारा आपराधिक कृत्य नहीं है? सूत्रों ने बताया कि  केजरीवाल के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय जासूसी का मामला दर्ज करने पर भी विचार कर रही है. 

केजरीवाल ने ED अधिकारियों ये के बारे में जानकारी जुटाई…

सूत्रों के अनुसार ED का मानना है कि सीएम केजरीवाल शराब घोटाले की जांच कर रहे अधिकारी एडिशनल डायरेक्टर कपिल राज और स्पेशल डायरेक्टर सत्यव्रत पर नजर रख रहे थे. केजरीवाल अपने घर से कपिल राज और सत्यव्रत का डोजियर बना रहे थे, इस रिपोर्ट में दर्ज है कि दोनों अधिकारी क्या-क्या करते हैं, कौन-कौन कौन से केस हैं, दोनों की कितनी प्रॉपर्टी है. इन सबका पूरा ब्योरा केजरीवाल ने बनाया हुआ था. ईडी ने सभी दस्तावेज सीज कर लिए हैं. इस मामले को लेकर ED और नजर आ रही है.

अलग से जासूसी का मुकदमा…?

अरविंद केजरीवाल के रिमांड नोट में भी इस दस्तावेज का जिक्र किया जा रहा है, साथ ही इस दस्तावेज के बरामद होने के बाद ED इस पर भी विचार कर रही है कि उसके दो बड़े अधिकारियों की जासूसी करने के मामले में केजरीवाल के खिलाफ अलग से कोई मुकदमा दर्ज किया जाए?

जेल नहीं भेजा, पहली रात ईडी हेडक्वार्टर में गुजरी

शराब घोटाला मामले में दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को प्रवर्तन निदेशालय ने गुरुवार, 21 मार्च की शाम दो घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया. इस दौरान ED ने उनके घर की तलाशी भी ली. सूत्रों ने बताया कि तलाशी में इस रिपोर्ट के अलावा अन्य दस्तावेज भी बरामद हुए हैं, जो उनकी मुश्किलें और बढ़ा सकते हैं. गिरफ्तारी के बाद उन्हें जेल नहीं भेजा गया. केजरीवाल की पहली रात ईडी हेडक्वार्टर में गुजरी.

NO COMMENTS