विदर्भ नदी की बाढ़ ने किनारा तोड़ घोंनसा कोयला खदान को किया तबाह

0
1604

प्राणहानि नहीं हुई, किन्तु वेकोलि की करोड़ों की मशीन डूबी

रवि लाखे
वर्धा :
वर्धा जिले के वनी तहसील में विदर्भ नदी अपना किनारा तोड़ता हुआ वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (वेकोलि) की ओपन कास्ट घोंनसा कोयला खदान को लबालब कर दिया। इससे हालांकि किसी की जान जाने की खबर तो नहीं है, लेकिन वेकोलि की कोयला खनन की कई भारी मशीन खदान में डूब गई. खबर लिखने तक वेकोलि प्रबंधन खदान में पानी से नुकसान का अनुमान लगाने में जुटा हुआ है. समझा जाता है कि वेकोलि को करोड़ों का नुकसान हुआ है.

विदर्भ नदी के तीव्र बहाव के कारण कुछ ही देर में खदान पानी से लबालब भर गया. बताया जाता है की बारिश के कारण खदान में कोयला निकालने काम उस वक्त बंद था. इस कारण वहां कोई मौजूद नहीं था. इस कारण कोई प्राणहानि नहीं हुई.

प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले दिनों ही घोंनसा ओपन कास्ट खदान के निकट के दो नालों फुलोरा और जगलोन के पानी का बहाव दूसरी तरफ मोड़ दिया गया था. किंतु विदर्भ नदी में पानी का स्तर बढ़ने के कारण खदान के पास छोटा बांध अथवा नदी का किनारा टूट गया और उफनती नदी का तेज भाव देखते-देखते पूरे खदान को लबालब कर डाला.

स्थानीय लोगों के अनुसार नदी यदि अपना किनारा तोड़ कर घोंनसा खदान में नहीं घुसता तो आस-पास के घोंनसा, रासा, जगलोन, बोरडा आदि कुछ गांव उसकी चपेट में आ जाते और जान-माल का भारी नुकसान होता.

NO COMMENTS