‘धीरे-धीरे आएंगे 15 लाख रुपए, रिजर्व बैंक दे नहीं रहा’

0
375
रामदास आठवले

केंद्रीय मंत्री व रिपा(ए) नेता रामदास आठवले के बिगड़े बोल

मुंबई : 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान उठा ’15 लाख रुपए’ खाते में आने का मुद्दा एक बार फिर केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने चर्चाओं में ला दिया है. अपने अजीबोगरीब बयान में आठवले ने कहा कि सरकार लोगों को 15 लाख रुपए देने के लिए आरबीआई से रुपया मांग रही है.

उन्होंने कहा, ’15 लाख रुपए धीरे-धीरे आएंगे, एक बार में नहीं. रिजर्व बैंक से इसके लिए रुपया मांगा गया है, लेकिन वे नहीं दे रहे हैं. इसलिए रुपया इकट्ठा नहीं हो रहा है. इसमें कुछ तकनीकी समस्याएं हैं.’

राहुल गांधी ‘पप्पा’ बन गए हैं
अपने बयानों के लिए मशहूर महाराष्ट्र के नेता और सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री रामदास आठवले ने तीन राज्यों में कांग्रेस की जीत पर कहा था, ‘ राहुल गांधी ने तीन राज्यों में अच्छी जीत हासिल की है. वह अब ‘पप्पू’ नहीं हैं लेकिन ‘पप्पा’ बन गए हैं.’

रामदास आठवले रिपब्लिक पार्टी ऑफ इंडिया (ए) के अध्यक्ष हैं. उनकी यह पार्टी सत्ताधारी एनडीए का एक घटक दल है. अपने बयान में आठवले ने शिवसेना को भाजपा से गठबंधन न तोड़ने की सलाह भी दी थी.

शिवसेना को सलाह, कांग्रेस को नसीहत
उन्होंने कहा था, ‘शिवसेना को भाजपा के साथ अपना गठबंधन बनाए रखना चाहिए. अगर ऐसा नहीं होता है तो इससे शिवसेना को ही नुकसान होगा. मैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से सेना सुप्रीमो बाल ठाकरे के सपनों को पूरा करने की अपील करता हूं. उसे (सेना) अकेले चुनाव लड़ने के बारे में नहीं सोचना चाहिए. कांग्रेस को यह धारणा नहीं रखनी चाहिए कि वह राफेल सौदे को बार-बार उठाकर 2019 का चुनाव जीत लेगी.’

NO COMMENTS