पूर्व मंत्री हर्षवर्धन देशमुख के विरुद्ध भंडारा जिले के सिहोरा थाने में चोरी की शिकायत

0
4497

मामला सिहोरा स्थित महाराष्ट्र स्कूल व महाविद्यालय के दस्तावेजों का

अमरावती : राज्य के प्रतिष्ठित श्री शिवाजी शिक्षा संस्था के अध्यक्ष तथा राज्य के पूर्व मंत्री हर्षवर्धन देशमुख तथा उनके अन्य 20 सहयोगियों के खिलाफ तुमसर तहसील के सिहोरा पुलिस थाने में दस्तावेज चोरी की शिकायत दर्ज कराई गई है.

यह मामला सिहोरा स्थित महाराष्ट्र स्कूल व कनिष्ठ महाविद्यालय का है. जिसका संचालन श्री शिवाजी शिक्षा संस्था द्वारा किया जाता है. इसी स्कूल से कई महत्वपूर्ण दस्तावेजों को चुराने के मामले में राज्य के पूर्व मंत्री और संस्थाध्यक्ष हर्षवर्धन देशमुख व 20 अन्य के खिलाफ पुलिस ने शिकायत दर्ज कराई गई है.

पुलिस ने इस मामले में 34 लोगों के बयान दर्ज किए है. किंतु इस मामले में शिक्षा विभाग द्वारा कोई कदम नहीं उठाया गया है. ज्ञातव्य है कि भंडारा जिला अंतर्गत तुमसर तहसील के सिहोरा गांव में महाराष्ट्र हाईस्कूल की स्थापना वर्ष 1961 में हुई थी और बाद में यहां पर कनिष्ठ महाविद्यालय भी शुरू किया गया.

श्री शिवाजी शिक्षण संस्था अमरावती द्वारा संचालित इस स्कूल में विगत दिनों संस्थाध्यक्ष हर्षवर्धन देशमुख ने भेंट दी थी. उसके बाद संस्था सचिव शेषराव खाड़े ने व्यवस्थापन मंडल के सदस्यों केसाथ इस शाला में उच्च न्यायालय का निर्णय दिखाते हुए सभा ली थी. जिसमें यहां के मुख्याध्यापक हरिराम शरणागत भी उपस्थित थे.

सभा के पश्चात सचिव खाड़े व अन्य सदस्यों ने शाला का बैंक पास बुक, प्रस्ताव बुक व अन्य दस्तावेज अपने कब्जे में ले लिया था और इस सभा की जानकारी सिहोरा पुलिस स्टेशन को दी गई. इस जानकारी के साथ पुलिस स्टेशन को मुख्याध्यापक शरणागत का पत्र और सभा का कार्य वृतांत भी पुलिस थाने को जानकारी के साथ सौंपा गया.

इसके पश्चात संस्था की उपाध्यक्ष राजू दलाल ने 6 मई 2018 को संस्थाध्यक्ष हर्षवर्धन देशमुख व सचिव शेषराव खाड़े सहित हेमंत कालमेघ, दिलीप इंगोले व 16 अन्यों के खिलाफ शाला से महत्वपूर्ण दस्तावेज चुरा लेने के संदर्भ में सिहोरा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई गई. इस शिकायत के बाद श्री शिवाजी शिक्षण संस्था में दरार और परस्पर भारी दुश्मनी जैसी स्थिति बनती देखी जा रही है.

सिहोरा पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए अब तक करीब 34 लोगों के बयान दर्ज किए हैं. हालांकि पुलिस ने अब तक किसी के भी खिलाफ कोई अपराध दर्ज नहीं किया है. किंतु पता चला है कि पुलिस बड़ी सावधानी के साथ इस मामले की जांच कर रही है और जांच पश्चात मामले की रिपोर्ट से शिक्षा विभाग को अवगत कराया जाएगा.

NO COMMENTS