शहीदों के सम्मान में उनके परिजनों का होगा सत्कार

0
2544
पत्रपरिषद में पत्रकारों को "एक शाम शहीदों के नाम" कार्यक्रम की जानकारी देते हुए शहीद दिन समारोह समिति, पुलगांव के अध्यक्ष अभ्युदय मेघे.

विदर्भ के शहीदों को कल 31 मई को याद करेगा पुलगांव, “एक शाम शहीदों के नाम” का आयोजन

पुलगांव (वर्धा) : स्थानीय सेन्ट्रल आर्डनेंस डिपो (केन्द्रीय गोला-बारूद भंडार), में दो वर्ष पूर्व 2016 के 31 मई के ही दिन देर रात हुए भयंकर विस्फोट में दो अधिकारियों सहित कुल 19 जवान शहीद हो गए थे. उन शहीदों के पुण्य स्मृति में स्थानीय ‘शहीद दिन समारोह समिति’ ने गुरुवार, 31 मई को “एक शाम शहीदों के नाम” कार्यक्रम का आयोजन किया है. कार्यक्रम शहीद स्मृति मंच, आर.के. हाईस्कूल प्रांगण में शाम 6 बजे आरंभ होगा.

रक्षा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष भामरे होंगे मुख्य अतिथि
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में केंद्रीय रक्षा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष भामरे के साथ प्रमुख अतिथि के रूप में राज्य के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार, पूर्व ले. जनरल राजेंद्र निंभोरकर, सुचिर दिले जी.एस.डी. जल संचारण मंत्रालय, सांसद रामदास तड़स, पुलगांव सीएडी के ब्रिगेडियर आयवर गोल्डस्मिथ, पूर्व सांसद दत्ता मेघे, जिला परिषद नितिन मड़ावी, पूर्व मंत्री एवं विधायक रणजीत कांबले, विधायक अमर काले, विधायक पंकज भोयर, विधायक समीर कुनावार, विधायक बच्चू कडू (अचलपुर), नगर परिषद अध्यक्ष शीतालाताई साते, नाचणगांव की सरपंच श्रीमती सरिता गावंडे, प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष चारूलता टोकस, पूर्व विधायक दादाराव केचे (आर्वी), पूर्व विधायक सुरेश देशमुख (वर्धा) और समाजसेवी मोहन अग्रवाल सहित अनेक गणमान्य अतिथि उपस्थित रहेंगे.

विदर्भ के 11 शहीदों के परजनों को किया आमंत्रित
कार्यक्रम की उपरोक्त जानकारी देते हुए शहीद दिन समारोह समिति के अध्यक्ष अभ्युदय मेघे ने इस सम्बन्ध में बताया कि देश की सीमा पर दुश्मन से मुठभेड़ में शहीद और नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में विदर्भ के 11 शहीद जवानों के परिजनों को भी सम्मानित करने के लिए आमंत्रित किया गया है. इनमें से 9 शहीद जवानों के परिजनों ने कार्यक्रम में शामिल होने की सहमति प्रदान की है. इनमें शहीद सिपाही पंजाबराव उइके (नांदगांव खंडेश्वर), शहीद सिपाही विकास कुल मीठे (पुरद, यवतमाल), शहीद सिपाही आनन्द गवई (अकोला), सिपाही संजू खंडारे (अकोला), कांस्टेबल प्रेमदास मेंढे (सोनोरा ढोक, पुलगांव), मंगेश बालपांडे (तुमसर), कांस्टेबल नंदकुमार आत्राम (चंद्रपुर), सिपाही सुमेध गवई (लोनाग्रा, अकोला) और मेजर प्रफुल्ल मोहरकर (भंडारा) के परिजनों का समावेश है.

13 शहीद सिविलियंस को भी राष्ट्रपति शौर्य पदक
मेघे ने बताया कि कार्यक्रम में 13 शहीद सिविलियंस (नागरिकों) को भी राष्ट्रपति शौर्य पदक से सम्मानित किया जाएगा. ये सिविलियंस 31 मई 2016 को यहीं डिपो में हुए विस्फोट में शहीद हो गए थे. मेघे ने या जानकारी भी दी कि सरकार की ओर से इन शहीदों के परजनों के बैंक खाते में 23 लाख रुपए जमा कराए जे हैं. इसके साथ ही पुलगांव में एक भव्य शहीद स्मारक बनाने का प्रस्ताव भी सरकार के विचाराधीन है.

सेवानिवृत ले.जनरल निम्भोरकर का होगा नागरिक सत्कार
उन्होंने बताया कि कार्यक्रम के मुख्य आकर्षण सेवानिवृत ले.जनरल राजेन्द्र निम्भोरकर होंगे, जिन्होंने पिछले दिनों पाकिस्तान के विरुद्ध सेना द्वारा किए गए सर्जिकल स्ट्राइक का नेतृत्व किया था. इस अवसर पर उनका सार्वजनिक रूप से नागरिक सत्कार किया जाएगा.

कार्यक्रम में सभी आमंत्रितों के साथ वर्धा जिले के साथ-साथ पूरे विदर्भ के नागरिकों से वीर शहीदों के इस श्रद्धांजलि समारोह में शामिल होने की अपील अभ्युदय मेघे और समिति के उपाध्यक्ष दिलीप अग्रवाल, सचिव श्रीधर राऊत, सहसचिव अनिल गावंडे, कोषाध्यक्ष अनिल बंसोड सदस्य सचिन शंचेवार और प्रमोद बोराटने ने की.

NO COMMENTS