विदर्भ के लिए विशेष फायदेमंद होंगे इजरायल के साथ आज के समझौते

खारे पानी पट्टे और अनावृष्टि वाले क्षेत्र के किसानों को हो सकता है लाभ

0
2185
इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू का भारत आगमन पर रविवार को नई दिल्ली में विमानतल पर स्वागत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

नई दिल्ली : इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू का कल रविवार से शुरू हुए 6 दिवसीय भारत दौरे आज सोमवार का दिन विदर्भ के लिए काफी शुभ होने वाला है. आज दोनों देशों के बीच करीब 10 से अधिक समझौतों पर हस्ताक्षर हो सकते हैं.

प्रधानमंत्री नेतन्याहू 130 प्रतिनिधियों की मौजूदगी में एनर्जी, वॉटर, ऑटोमेशन प्रॉजेक्ट्स और आईटी के क्षेत्र में कई समझौते करेंगे. इन समझौतों में समुद्री खारे पानी को पीने योग्य पानी बनाने वाले तकनीक और काम पानी से भी फसलें उपजाने जैसी तकनीक भारत को उपलब्ध करना शामिल हो सकता है.

विदर्भ के “खारे पानी पट्टे” को मिलेगी बड़ी राहत

उल्लेखनीय है की विदर्भ के अकोला जिले और अमरावती, वाशिम आदि जिलों के अधिकांश क्षेत्र “खारे पानी का पट्टा” है. इन क्षेत्रों के निवासियों का जीवन भूगर्भीय खारे पानी के कारण अत्यधिक कष्टप्रद बना हुआ है. इन विशाल क्षेत्रों के निवासियों के लिए पेयजल उपलब्ध कराना राज्य सरकार के लिए बड़ी समस्या है. इजरायल के खारे पानी को पीने योग्य पानी बनाने वाले तकनीक से विदर्भ के बहुत बड़े भूभाग के निवासियों को अत्यधिक लाभ मिल सकता है.

विदर्भ के अनावृष्टि वाले क्षेत्र.

अनावृष्टि वाले क्षेत्र भी होंगे लाभान्वित

इसी प्रकार कम पानी से भी अच्छी फसल उगाने की इजरायली तकनीक विदर्भ के किसानों के लिए भी बहुत फायदेमंद हो सकती है. किसान आत्महत्या से पीड़ित विदर्भ में अनावृष्टि वाले क्षेत्र के किसानों की फसलों की सिंचाई की समस्या का हल इस तकनीक से मिल सकता है.

भारतीय कंपनियों के लिए भी अच्छे अवसर

आज होने वाले 10 समझौतों के बारे में दिल्ली में इजरायली आर्थिक और व्यापार मिशन के प्रमुख बराक ग्रैनॉट का कहना था, ‘भारत-इजरायल बिजनस इनोवेशन फोरम से हम काफी उम्मीद कर रहे हैं। हम इसे लेकर उत्साहित हैं.’ भारत की अर्थव्यवस्था की तारीफ करते हुए बराक का कहना था कि इजरायल में अनगिनत टेक स्टार्टअप्स हैं. ऐसे में भारतीय कंपनियों के लिए बिजनस बढ़ाने की इजरायल अच्छी जगह है.

19 तक भारत में रहेंगे बेंजामिन नेतन्याहू

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू 14 जनवरी से 19 जनवरी तक भारत में रहेंगे. इस दौरान वे दिल्ली, अहमदाबाद और मुंबई में मुख्य कार्यक्रम में शामिल होंगे. इसी दौरान भारत की ओर से आयोजित भू-राजनीति और भू-अर्थशास्त्र पर प्रमुख सम्मेलन ‘रायसिना वार्ता’ में भी वे शिरकत करेंगे.

NO COMMENTS