मातृ शक्ति केंद्र की बेटियों के दिए और मटकी की लगाई प्रदर्शनी

0
1366
मातृ
मातृ शक्ति केंद्र की अनाथ बेटियों द्वारा निर्मित दिए और मटकी की दीपावली प्रदर्शनी का उदघाटन करते हुए प्रताप मोटवानी. प्रदर्शनी का आयोजन vsss की पूर्व नागपुर महिला टीम ने किया था. 

vsss महिला टीम ने चीन निर्मित दीपावली की सामग्रियों का बहिष्कार किया

 
नागपुर : मातृ शक्ति केंद्र, नागपुर की बेटियां बहुत सुंदर मिट्टी के दिए और मटकी बनाती हैं. विश्व सिंधी सेवा संगम (vsss) की पूर्व नागपुर महिला टीम ने निर्णय लिया है कि उनके घरों में इस वर्ष मातृ शक्ति केंद्र की अनाथ बेटियों द्वारा निर्मित दिए और मटकी ही खरीदेंगी और अपने-अपने घरों में इस दीपावली में उपयोग करेंगी.
मातृ
सभी बहिनों ने चीन के बने दियों और अन्य सभी सामानों का बहिष्कार करने का निर्णय भी लिया. शनिवार को मातृ शक्ति केंद्र की बच्चियों के दिये, मटकी की प्रदर्शनी सिंधु भवन वर्धमान नगर में लगाई गई. समाज के सभी वर्ग के लोगों से अनुरोध किया गया कि स्वदेशी दियों और मटकियों का अधिक से अधिक मात्रा में अपने-अपने घरों के लिए खरीदी करें और बच्चियों को प्रोत्साहित करें. जिससे उनकी आर्थिक मदद हो सके और स्वरोजगार को प्रोत्साहन मिले.

प्रदर्शनी का उदघाटन VSSS महाराष्ट्र के अध्यक्ष प्रताप मोटवानी ने रिबन काट कर किया. इस अवसर पर vsss महाराष्ट्र महिला टीम की कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. हिना मुनियार, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एडवोकेट मीरा भमभवानी, नागपुर VSSS के महासचिव महेश ग्वालानी, पूर्व नागपुर की अध्यक्ष अर्चना छाबरिया, उपाध्यक्ष मीता चावला, महासचिव हितिशा मुलतानी, विदर्भ टीम महिला अध्यक्ष कंचन जगयासी, उपाध्यक्ष नीलम आहूजा, महासचिव रिचा केवलरमानी, नागपुर महिला टीम की कार्याध्यक्ष विद्या बाखरू, महासचिव पूजा मोरयानी, युवा टीम से शिल्पा तलरेजा, सुनीता जेसवानी, करिश्मा मोटवानी, रितिका भोजवानी, भावना दयानी, पार्वती ग्वालानी, साक्षी थारवानी, अनिता नागवानी, विधि सुगंध, सुमन आहूजा सहित भारी में बहिने सभी सामग्री की खरीद की,

कार्यक्रम के अध्यक्ष प्रताप मोटवानी का सत्कार पूर्व नागपुर महिला अध्यक्ष श्रीमती अर्चना छाबरिया, हितिशा मुलतानी,सुनीता जेसवानी  ने किया, डॉ. हिना मुनियार का स्वागत शिल्पा तलरेजा, महेश ग्वालानी का सत्कार मीता चावला , मीरा भमभवानी, कंचन जगयासी का  सत्कार करिश्मा मोटवानी और भावना दयानी ने किया.  

मोटवानी ने अपने संबोधन में vsss की महिलाओं के इस कदम की प्रशंसा की. उन्होंने कहा कि आप सभी बहनों ने अनाथ बेटियों से दिवाली के लिए दिए खरीद कर उनकी न केवल आर्थिक मदद की है, बल्कि उनको मोटिवेट कर आत्मनिर्भर बनने की प्रेरणा भी दी है. आप सभी को उनकी ढेर सारी दुआएं मिलेंगी. वैसे भी दीपावली में घर के लिए दिए, मटकी खरीदने ही पड़ते हैं, बाजार से चीन निर्मित दिए खरीदने की जगह उन अनाथ बच्चियों से दिए खरीद कर आपने एक आदर्श प्रस्तुत कर समाज में मिसाल कायम की है और मानवता का कार्य कर पुण्य भी कमाया है.

मोटवानी ने कहा कि आज सभी बहिनो ने चीन निर्मित दिए या अन्य कोई भी समान नही खरीदने का संकल्प कर चीनी सामग्रियों का बहिष्कार करने का जो निर्णय लिया, वह देश हिट में लिया गया निर्णय है. उन्होंने सभी बहिनों का इसके लिए अभिनन्दन किया. अंत मे महेश ग्वालानी ने आभार माना. मीता चावला और भावना दयानी ने अनाथ बच्चों द्वारा निर्मित दियों और मटकी महिला परिवारों को बिक्री करने में सहयोग किया.

NO COMMENTS