मेडिकल कॉलेज को दान कर दिया जाएगा सोमनाथ चटर्जी का पार्थिव

0
1414

पूर्व लोकसभा अध्यक्ष और 10 बार सांसद रहे, ममता बनर्जी पैदल विधानसभा लाईं उनका पार्थिव

कोलकाता : बंगाल से 10 बार सांसद व 14वीं लोकसभा के अध्यक्ष रहे सोमनाथ चटर्जी का सोमवार, 13 अगस्त की सुबह सवा आठ बजे के करीब कोलकाता के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया. आज शाम को उनका पार्थिव शरीर कोलकाता के सेठ सुखलाल करनानी मेमोरियल (एसएसकेएम) मेडिकल कॉलेज अस्पताल को दान कर दिया जाएगा.

उनके शव की अंत्येष्टि नहीं की जाएगी. क्योंकि उन्होंने जीत जी ही अपना शरीर मेडिकल छात्रों की पढ़ाई के लिए दान कर दिया था. दोपहर 12.30 बजे को उनके शव को अस्पताल से पहले कलकत्ता हाईकोर्ट ले जाया गया. इससे पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अस्पताल पहुंच गई और अपनी देखरेख में उनके पार्थिव शरीर के साथ अंतिम यात्रा निकाली गई. हाईकोर्ट में न्यायाधीश से लेकर अधिवक्ताओं ने उनके पार्थिव शरीर का अंतिम दर्शन किए.

इसके बाद उनके शव को बंगाल विधानसभा ले जाया गया जहां राज्य सरकारी की ओर से पूर्ण राजकीय सम्मान के साथ-साथ गन शैल्यूट दिया गया. हालांकि, वह कभी भी बंगाल विधानसभा के विधायक नहीं रहे लेकिन ममता के निर्देश पर सम्मान देने के लिए उनके शव को विधानसभा लाया गया था.

ममता पैदल ही हाईकोर्ट से विधानसभा तक उनके पार्थिव शरीर के साथ चल कर पहुंची. वहीं सोमनाथ चटर्जी की बेटी ने माकपा का झंडा पिता के शव यात्रा में शामिल करने से इनकार कर दिया. विधानसभा से उनके पार्थिव शरीर को दक्षिण कोलकाता के राजाबसंत राय रोड स्थित आवास पर ले जाया गया, जहां साढ़े चार बजे के करीब लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन व माकपा महासचिव सीताराम येचुरी के पहुंचने की बात है. चटर्जी की बेटी ने तो ममता बनर्जी को भी वहां आने का अनुरोध किया है.

इसके बाद शाम साढ़े छह बजे के करीब उनके पार्थिव शरीर को एसएसकेएम अस्पताल में दान दे दिया जाएगा. बताते चलें कि इसी अस्पताल में पूर्व मुख्यमंत्री ज्योति बसु के शव को भी दान किया गया था.

NO COMMENTS