सांसद पप्पू यादव को भारत बंद के दौरान अज्ञात लोगों ने पीटा, रो-रोकर दी जानकारी

0
1484

बताया- एसपी को, आईजी को, सीएम को फोन किया, किसी ने नहीं उठाया मेरा फोन

सीमा सिन्हा
पटना :
जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के मुखिया और मधेपुरा से सांसद पप्पू यादव पर बुधवार, 6 सितंबर को बिहार के मुजफ्फरपुर में एसटी-एससी एक्ट के विरोध में ‘भारत बंद’ के दौरान बंद में शामिल अज्ञात लोगों द्वारा हमला होने का समाचार है.

गंदी-गंदी गालियां देते हुए उन्होंने उनको पीटा
राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के जमाने में जिस पप्पू यादव की दबंगई की तूती बोलती थी, उस पप्पू यादव पर नीतीश कुमार के शासन में अज्ञात लोगों ने ऐसे हमला किया, यह जानकारी यहां प्रसार माध्यमों के प्रतिनिधियों के समक्ष रो-रोकर दिए उनके बयान के बाद टीवी समाचार से लोगों को मिली. उन्होंने बताया कि ‘भारत बंद’ वालों को उन्होंने कहाकि वे भी एससी-एसटी एक्ट के विरोध में उनके साथ हैं, इसके बावजूद गंदी-गंदी गालियां देते हुए उन्होंने उनको पीटा.

मेरा गार्ड नहीं होता तो मुझे ये लोग मार देते
प्रसार माध्यमों को अपनी आपबीती बताते हुए पप्पू यादव फूट-फूटकर रोने लगे. उन्होंने कहा, “मेरा गार्ड नहीं होता तो मुझे ये लोग मार देते. उन्होंने कहा कि मैंने एसपी को फोन किया. आईजी को फोन किया. सीएम को फोन किए, नहीं उठाए मेरा फोन. उन्होंने कहा, ‘सीएम के सचिव ने तो फोन उठाया भी. हमने कहा जान बचा लीजिए, हम फंस गए हैं, लेकिन कहीं से कोई मदद नहीं मिली.” उन्होंने कहा, जिस तरह से मुझे मारा बता नहीं सकते. उन्होंने कहा कि जाति पूछ-पूछकर मारा गया.

ट्वीट कर भी यादव ने दी जानकारी
पप्पू यादव ने ट्वीट कर भी अपने ऊपर हुए हमले की जानकारी दी. उन्होंने लिखा ‘नारी बचाओ पदयात्रा में मधुबनी जाने के दौरान हमारे काफिले पर भारत बंद के नाम पर गुंडों ने हमला किया. कार्यकर्ताओं को बुरी तरह जाति पूछ-पूछकर पीटा गया. आखिर बिहार में कोई शासन प्रशासन है, या नहीं! सीएम नीतीश कुमार आप किस कुंभकर्णी नींद में सोए हुए हैं.’

उल्लेखनीय है कि पप्पू यादव को वाई (Y) कटैगरी की सुरक्षा प्राप्त है.

NO COMMENTS