कोरोना इफेक्ट : राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल स्थगित

0
95
टोल

नई दिल्ली : सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी ने कोरोना संक्रमण के कारण लॉकडाउन को देखते हुए महत्वपूर्ण घोषणा की है. उन्होंने कहा है कि आपात सेवाओं का काम आसान करने के लिए देश में अस्थायी तौर पर राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल नहीं लिया जाएगा.  

टोल लेने का काम रोकें
देश में कोरोना वायरस के संक्रमण और लॉकडाउन के मद्देनजर उन्होंने यह आदेश जारी किया है. केंद्रीय मंत्री ने अपनी घोषणा में कहा, ‘कोविड-19 को देखते हुए आदेश दिया जाता है कि देश के सभी टोल प्लाजा पर टोल लेने का काम बंद किया जाए.’ उन्होंने कहा कि इससे आपात सेवाओं के काम में लगे लोगों को जरूरी समय बचाने में मदद मिलेगी. 

हाईवे और प्रदेश की सीमाएं सील
इसके अलावा गड़करी ने अपने ट्वीट में लिखा- सड़कों के रखरखाव और टोल प्लाजा पर आपातकालीन संसाधनों की उपलब्धता हमेशा की तरह जारी रहेगी. दरअसल, कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देश में 21 दिनों का लॉकडाउन 14 अप्रैल तक चलेगा. इस दौरान हाइवे और प्रदेशें की सीमाएं सील कर दी गई हैं.

केवल आपातकालीन वाहनों को ही अनुमति
ऐसे में केवल आपातकालीन वाहनों को ही आने-जाने की अनुमति है. जरूरी वस्तुओं की सप्लाई करने वाले ट्रक, अनिवार्य सेवाओं से संबंधित सरकारी वाहन और एंबुलेंस ही आ-जा रही हैं. इतना ही नहीं पुलिस इक्का-दुक्का प्राइवेट कारों को ही वाजिब कारण बताने पर हाईवे पर जाने की अनुमति दे रही है. ऐसे में टोल नहीं लेने से आपात काल सेवाओं में लगे लोगों को फायदा होगा और वे कम समय में बिना कहीं रुके सुचारू रूप से सेवा दे पाएंगे.  

NO COMMENTS