108 वां भारतीय विज्ञान कांग्रेस जनवरी में नागपुर में

0
654
108
अगले वर्ष 3 जनवरी से नागपुर में आरंभ होने वाले 108 वें भारतीय विज्ञान कांग्रेस का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे.

नागपुर विश्वविद्यालय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे उद्घाटन

नागपुर : भारतीय विज्ञान कांग्रेस का 108 वां संस्करण राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय के तत्वाधान में 3 से 7 जनवरी तक आयोजित किया जाएगा. इससे पूर्व 61वीं भारतीय विज्ञान कांग्रेस का आयोजन 1974 में नागपुर में किया गया था. 107 वां विज्ञान कांग्रेस का आयोजन यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर, बंगलुरु में 2020 किया गया था. इसके आयोजन की तैयारी राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय के साथ ही प्रशासन के स्तर पर भी शुरू हो गई है.

भारतीय विज्ञान कांग्रेस का उद्घाटन प्रत्येक वर्ष प्रधानमंत्री द्वारा किया जाता है. प्रधानमंत्री देश भर के वैज्ञानिकों, विज्ञान के विभिन्न विषयों के प्रोफेसर्स और विभागाध्यक्षों सहित शोधकर्ताओं का मार्गदर्शन करते हैं. वे अपने भाषण में सरकार की विकास नीतियों के अनुरूप शोध कार्य और वैज्ञानिक एवं चिकित्सकीय से लेकर कृषि एवं अन्य क्षेत्रों में कार्य करने का आह्वान भी करते हैं. इस 108 वें भारतीय विज्ञान कांग्रेस में पिछले वर्षों की भांति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शिरकत करेंगे और अपने उद्घाटन भाषण में उनका मार्गदर्शन करेंगे.

108
108 वें भारतीय विज्ञान कांग्रेस के नागपुर में होने वाले आयोजन के संबंध में मंगलवार, 22 नवंबर को संभागायुक्त की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक का दृश्य.

भारत में विज्ञान और प्रौद्योगिकी को बढ़ावा देने के लिए कोलकाता में पहली भारतीय विज्ञान कांग्रेस का आयोजन 1914 में किया गया था. भारत के प्रमुख विश्वविद्यालयों के तत्वाधान में विज्ञान और प्रौद्योगिकी को बढ़ावा देने के लिए हर साल यह कार्यक्रम केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा आयोजित किया जाता है. अगला विज्ञान कांग्रेस 108 वां विज्ञान कांग्रेस है.

इस दौरान कृषि, वानिकी, पशु विज्ञान, जूलॉजी, इंजीनियरिंग, भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान, पर्यावरण सूचना प्रौद्योगिकी, सामग्री विज्ञान, सांख्यिकी, चिकित्सा विज्ञान, नई जीव विज्ञान जैसे विषयों पर नवीन शोध पत्र प्रस्तुत किए जाएंगे. इन विषयों से संबंधित भव्य प्रदर्शनी, मार्गदर्शन का आयोजन भी किया जाएगा. इसमें 14 विभिन्न विषयों के विशेषज्ञों की भागीदारी रहेगी. सम्मेलन में विज्ञान को समर्पित एक व्यापक दायरे में वैज्ञानिक और शोधकर्ता अपनी प्रस्तुति देंगे.

इस दौरान वैश्विक और राष्ट्रीय स्तर के कई प्रतिष्ठित वैज्ञानिक और शोधकर्ता नागपुर शहर में रहने वाले हैं. इसके अलावा पूर्व में महत्वपूर्ण शोध करने वाले प्रमुख संस्थान इस स्थान पर प्रदर्शनी में भाग लेंगे. देश-विदेश के वैज्ञानिकों का शामिल होना और उनके साथ विज्ञान में प्रगति कर रहे छात्रों का परस्पर संवाद भी इस बैठक की एक विशेषता है. इस सम्मेलन में राष्ट्रीय किशोर विज्ञान सम्मेलन भी आयोजित किया जाता है. इसके लिए किशोर वैज्ञानिक भी नागपुर में रहेंगे.

108 वें भारतीय विज्ञान कांग्रेस के नागपुर में होने वाले आयोजन के संबंध में आज संभागायुक्त की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक की गई. राष्ट्रीय स्तर के इस आयोजन को लेकर बैठक में नागपुर जिला प्रशासन, नागपुर नगर निगम, पुलिस प्रशासन, नागपुर विश्वविद्यालय सहित अन्य प्रमुख संस्थानों के विभाग प्रमुख उपस्थित थे. इसमें संभागायुक्त राजलक्ष्मी प्रसन्ना बिदारी, नागपुर विश्वविद्यालय के कुलपति एस.आर. चौधरी , कलेक्टर डॉ. विपिन इटनकर, नगर आयुक्त राधाकृष्णन बी, उपायुक्त आशा पठान, प्रदीप कुलकर्णी नगर निगम अपर आयुक्त राम जोशी, पुलिस उपायुक्त एम. सुदर्शन, निरी शामिल थे.

साथ ही मुख्य शोधकर्ता पद्म डॉ. राव, निरी के विज्ञान सचिव रीता डोडाफकर, नगर अभियंता वाईकर, विज्ञान परिषद के स्थानीय सचिव जी.एस. खाडेकर, राजेश सिंह और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे.

NO COMMENTS