कोश्यारी कमिटी के सिफारिशों के अनुरूप पेंशन लागू करें 

0
1329
कोश्यारी
तिलक पत्रकार भवन में आयोजित सभा में नागपुर श्रमिक पत्रकार संघ के अध्यक्ष शिरीष बोरकर, दादा झोड़े और प्रकाश पाठक.

EPS-95 सेवानिवृत कर्मचारी, दिल्ली के जंतर-मंतर और नागपुर में विधानमंडल के समक्ष प्रदर्शन करेंगे

नागपुर : EPS-95 योजना के तहत सेवानिवृत्त पेंशनरों की कोश्यारी कमिटी के सिफारिशों के अनुरूप पेंशन देने की मांग से केंद्र सरकार मुकर नहीं सकती. उसे हर हाल में देश के 65 लाख से अधिक पेंशनरों की यह मांग जल्द से जल्द पूरी करनी चाहिए. यह बात नागपुर श्रमिक पत्रकार संघ के अध्यक्ष शिरीष बोरकर ने तिलक पत्रकार भवन में आयोजित सभा में कही.
 
उन्होंने कहा कि EPS-95 योजना के तहत सेवानिवृत्तों को अब तक दिया जा रहा अल्प पेंशन, हमारा संवेदनशील समाज कभी स्वीकार नहीं कर सकता.

कोश्यारी
नागपुर श्रमिक पत्रकार संघ के अध्यक्ष शिरीष बोरकर पेंशनर्स की सभा को संबोधित करते हुए.

सभा को संबोधित करते हुए ईपीएस 95 सेवानिवृत्त कर्मचारी राष्ट्रीय समन्वय समिति के राष्ट्रीय महासचिव प्रकाश पाठक ने बताया कि कोश्यारी कमेटी की सिफारिशों के अनुरूप पेंशन में वृद्धि की मांग को लेकर दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना-प्रदर्शन के साथ राज्य सरकार को भी घेरने की तैयारी की जा रही है. राष्ट्रीय महासचिव पाठक ने घोषणा की कि नागपुर में विधानमंडल के शीतकालीन सत्र में नागपुर सहित राज्य के सेवानिवृत्त पेंशनर्स विशाल प्रदर्शन करेंगे.  

पाठक गुरुवार, 15 दिसंबर को पत्रकार भवन में ईपीएस 95 सेवानिवृत्त कर्मचारी राष्ट्रीय समन्वय समिति, नागपुर श्रमिक पत्रकार संघ, तिलक पत्रकार भवन ट्रस्ट, ज्येष्ठ नागरिक संघ, विदर्भ द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित पेंशनरों की बैठक में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे. अध्यक्षता पत्रकार संघ के अध्यक्ष शिरीष बोरकर ने की.

मंच पर वरिष्ठ पत्रकार विनोद देशमुख, कर्मचारी समन्वय समिति के राष्ट्रीय विधि सलाहकार दादा तुकाराम झोड़े सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति मुख्य रूप से उपस्थित थे.

समन्वय समिति के राष्ट्रीय सलाहकार दादा झोड़े ने बताया कि ईपीएस पेंशन को लेकर सुप्रीम कोर्ट के हालिया फैसले के कारण 1-9-2014 तक सेवानिवृत्त हुए सभी लोगों को पेंशन मिलेगी. लेकिन परिणाम के बारे में भ्रम को दूर करते हुए उन्होंने स्पष्ट किया कि उसके बाद सेवा में शामिल होने वालों पर पेंशन लागू रहेगी.

वरिष्ठ नागरिक संघ के महासचिव अविनाश तैलंग ने अपील की कि कोश्यारी कमेटी की सिफारिशों को लागू करने के लिए सरकार पर सभी ओर से दबाव बनाया जाना चाहिए.

समन्वय समिति नागपुर के अध्यक्ष श्याम देशमुख ने पेंशनरों को संघर्ष करने के लिए तैयार रहने को कहा. उन्होंने कहा कि इसके अलावा कोई विकल्प नहीं है और बिना संघर्ष के सरकार नहीं जागेगी.

सभा के संयोजक वरिष्ठ पत्रकार विनोद देशमुख ने सभा का उद्देश्य बताया और उसका संचालन किया. इस अवसर पर विभिन्न प्रतिष्ठानों के सेवानिवृत्त पेंशनर बड़ी संख्या में उपस्थित थे.

NO COMMENTS