युवा प्राध्यापिका को पेट्रोल से जलाकर मारने का प्रयास

0
1275
प्राध्यापिका

वर्धा के हिंगणघाट में सुबह की वारदात, आरोपी गिरफ्तार

रवि लाखे, 
हिंगणघाट (वर्धा, महाराष्ट्र) :
स्थानीय नंदोरी चौक पर यहां एक युवा कॉलेज प्राध्यापिका को उनके कॉलेज के समीप ही एक बदमाश युवक ने आज सोमवार की सुबह जला दिया. 25 वर्षीया प्राध्यापिका अंकिता पिसुद्दे करीब 40 फीसद जल गई हैं. यहां प्राथमिक चिकित्सा के बाद उपचार के लिए उनको नागपुर भेज दिया गया है. पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर लिया है.

नंदोरी चौक में आज प्रातः महालक्ष्मी किराना शॉप के समक्ष यह घटना हुई. प्राध्यापिका अंकिता पिसुद्दे प्रतिदिन की तरह आज सबेरे अपने गांव दारोडा से बस से नंदोरी चौक पर उतरीं. वह वहां से पैदल मातोश्री आशाताई कुणावार महाविद्यालय जा रही थीं. इसी बीच बाइक सवार बिकेश नगराले नामक एक विवाहित युवक ने अंकिता को रोका और उनकी पीठ पर एक बोतल से पेट्रोल उड़ेल कर आग लगा दी.

पेट्रोल की आग से अंकिता के कपड़ों में तुरंत आग लग गई और वह बुरी तरह जलने लगी. लेकिन अंकिता के पीछे ही आ रही एक छात्रा और एक अन्य युवक तुरंत उसकी मदद के लिए आ पहुंचे. उन्होंने आग बुझा कर उसे तुरंत स्थानीय उपजिला अस्पताल पहुंचाया. उधर पेट्रोल फेंकने वाला बदमाश अपने सहयोगी के साथ बाइक से फरार हो गया.  

टाकलघाट में गिरफ्तार हुआ बदमाश
घटना की पूर्ण जानकारी एक प्रत्यक्षदर्शी अन्य छात्रा ने भी पुलिस को दी. अंकिता के गांव दारोडा का ही रहने वाला बिकेश नगराले को पुलिस ने बुटीबोरी के टाकलघाट में गिरफ्तार किया. इस प्रकरण में अंकिता के कॉलेज के प्राचार्य डॉ. उमेश तुलस्कर की शिकायत पर बदमाश नगराले के विरुद्ध भादंवि की दफा 307 और 326 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

ऑरेंजसिटी अस्पताल, नागपुर में चल रहा है इलाज
मिली जानकारी के अनुसार आरोपी नगराले शादीशुदा है. वह दारोडा का ही रहने वाला है. बताया जाता है कि वह कई दिनों से प्राध्यापिका अंकिता पिसुद्दे के पीछे पड़ा हुआ था. मौके पर उपस्थित लोगों ने बताया कि आरोपी, महिला को आग के हवाले करने के बाद मौके से फरार हो गया. जानकारी मिलते ही पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंच गई. अंकिता की गंभीर हालत को देखते हुए प्राथमिक के उपचार के बाद उन्हें फौरन नागपुर के आरेंजसिटी अस्पताल ले जाया गया. वहां के डॉक्टरों ने बताया कि अंकिता के चेहरे, सिर, गर्दन सबसे अधिक प्रभावित हुआ है, जिससे श्वसन तंत्र पर असर पड़ा है.

एकतरफा चाहत का मामला
बताया जा रहा है कि आरोपी विवाहित नगराले अंकिता को एकतरफा चाहता था. लेकिन अंकिता उसे कभी फटकने नहीं देती थीं. मिली जानकारी के अनुसार वह अंकिता की शादी कहीं और तय हो जाने से भी नाराज था. आज भी यहां कॉलेज जाते वक्त रास्ते में रोककर नगराले ने उनसे अपने प्यार का इजहार किया. लेकिन जब अंकिता ने उसे फिर फटकार लगाई तो वह पूर्व योजना के अनुसार अपने साथ एक बोतल में लाया पेट्रोल अंकिता पर उड़ेल कर आग लगा दी और फरार हो गया. मामले में तेजी से कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आरोपी नगराले को टाकलघाट, बुटीबोरी से गिरफ्तार कर लिया है.

डीआईजी के समक्ष नागरिकों की नाराजगी
घटना की जानकारी मिलते ही यहां लोगों में नाराजगी फैल गई. कॉलेज में जैसे ही वारदात की खबर पहुंची कालेज के प्राचार्य डॉ. तुल्सकर, अन्य लेक्चरर और छात्रों के साथ नागरिकों का एक समूह स्थानीय उपविभागीय पुलिस अधिकारी के कार्यालय जा पहुंचा. वहां पूर्व निर्धारत कार्यक्रम के अनुसार डीआईजी के.एम. मल्लिकार्जुन प्रसन्ना भी नागपुर से पुलिस अधिकारियों की बैठक के लिए आए थे. कॉलेज के प्राचार्य सहित नागरिकों ने आरोपी की तत्काल गिरफ्तारी और उस पर कड़ी कार्रवाई की मांग की.

NO COMMENTS