सपना चौधरी आखिर बन ही गई भाजपा की

0
108
सपना

*जीवंत के. शरण
दिग्गज
भाजपा नेताओं की उपस्थिति में सपना चौधरी अब औपचारिक रूप से भारतीय जनता पार्टी की सदस्य बन गई हैं. दिल्ली भाजपा अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी का प्रयास रंग लाया. अपनी पार्टी को इस नायाब तोहफे से सजा दिया है तिवारी जी ने. भाजपा में आने के बाद उसे मिली प्रसिद्धी का जलवा निश्चय ही आने वाले दिनों में राज्यों के चुनावों में भाजपा को बाग-बाग कर देगी.

सपना
मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के समक्ष शनिवार को भाजपा की सदस्यता ग्रहण करती सपना चौधरी.

– उल्लेखनीय यह कि इसी कवायद में पिछले दिनों कांग्रेस फेल रही. नजदीकियां तो सपना की पहले कांग्रेस से ही थीं, पिछले चुनावों के दौरान कांग्रेस ने सपना को पार्टी में शामिल कर लोकसभा के समर में उतारने की तैयारी भी कर ली थी. लेकिन इसी बीच भोजपुरी अभिनेता और गायक से भाजपा नेता और सांसद बने मनोज तिवारी ने उसे झटक लिया और दिल्ली के अपने चुनाव के दौरान रोड शो में भी साथ उतारने में सफल हो गए थे.

– वैसे इस तरह की खबरें अब चौंकाती नहीं है. कारण- राजनीति को अब ऐसी ही “तितलियों और भौरों” का मोहताज बनाया जाने लगा है. पार्टी के समर्पित और पार्टी से लोगों को जोड़ने के लिए खून-पसीना बहाने वालों के अहमियत घटती जा रही है. हालांकि ऐसे लोगों की कमी नहीं है जो अभी भी उपेक्षा के बावजूद अपना वजूद लोगों के बीच बनाए हुए हैं.

सपना
पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी सांसद मनोज तिवारी के साथ उनके रोड शो में सपना चौधरी.

– हरियाणवी डांसर सपना चौधरी की शोहरत के अभी तो चंद साल ही हुए हैं. एक निम्न माध्यम वर्गीय परिवार से उदित इस हसीना ने हरियाणा से बाहर ‘बिग बॉस’ के जरिए अपने चहेतों का जुनूनी फैन तैयार किया है. बिना सिलवर स्क्रीन के मनोरंजन की दुनिया में ग्रामीण से लेकर शहरी क्षेत्र के मध्यमवर्गीय लोगों को सपना तेजी से सम्मोहित करने लगी है.

– हरियाणा के साथ दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान और गुजरात में भी सपना मनोरंजन की ऐसी चासनी परोसती रही है कि हर कोई उसका दीवाना बनता जा रहा है. लोग उसके करीब जाने और उसे अपनी चाहत का एहसास दिलाने के लिए लहूलुहान होने के लिए भी तैयार हो गए हैं. महाराष्ट्र में भी सपना के ऐसे चहेतों की संख्या बढ़ती जा रही है.

– जोश में होश खो देने वाले दीवानों की फौज तैयार करने वाले कलाकारों पर राजनीतिक दलों की नजर हमेशा रही है. लिहाजा सपना की शोहरत को भुनाने का पहला प्रयास कांग्रेस ने किया, लेकिन उसे मात दे कर भाजपा ने सपना को भगवा रंग में रंग दिया.

– अब सपना को डांस के अलावा एक राजनीतिक प्लेटफॉर्म भी मिल गया है. यह उसके हुनर को और धार देगा. अतिरिक्त सुरक्षा कवच और पब्लिसिटी मिलने के साथ उसकी प्रतिष्ठा और संपत्ति में इजाफा होना लाजिमी है. साथ ही उसकी महत्वकांछा भी बढ़ेगी. तब पार्टी उसे कहां-कहां पहुंचाएगी, यह देखना भी दिलचस्प होगा.

– सपना चौधरी को नृत्य का शौक बाल्यावस्था से रहा. पिता की मृत्यु के बाद आर्थिक रूप से बिखरे परिवार को सहारा देने के लिए वह मंच पर नृत्य करने लगी. आरंभ में वह बतौर लोक कलाकार मंचों पर रागिनी गाते हुए नृत्य करती थी. कुछ समय के बाद खूबसूरत सपना पूरे लिबास में ठुमके लगाते हुए मदमस्त गीतों पर लोगों को रिझाने लगीं.

– हरियाणा की इस छोरी की अदा लोगों को बेहद लुभाने लगी. दीवानगी का आलम यह कि उसे मंच पर ठुमकते देख कर नौजवान ही नहीं, अधेड़ वृद्ध भी गुलेटी मारने लगे. वह आंधी की तरह तेज संगीत पर थिरकने लगती हैं औऱ लोगों का उन्माद चरम पर पहुंचने के पहले ही गायब हो जाती हैं.

तेरी आख्यां का वो काजल…और अन्य गीत पर सपना का इतराते हुए अंखियों से घायल करना इतना त्वरित होता है कि भीड़ बेकाबू हो जाती है. यही नहीं सुरक्षा में लगे पुलिस वालों को भी सम्मोहित हो कर मोबाइल से वीडियो बनाते हुए भी देखा गया है. ऐसी गजब की जादूगरनी अब भाजपा के लिए मतदाताओं को सम्मोहित करेगी.

– हरियाणा में चुनाव इसी साल संभावित है. सो उसका सियासी जादू कितना चलेगा और उन्हें राजनीतिक मंच से कितना फायदा होगा, यह शीघ्र ही मालूम पड़ेगा.

NO COMMENTS