बेहतर संवाद के लिए महाजेनको को राष्ट्रीय पुरस्कार

0
110
संवाद

सोशल मीडिया के माध्यम से प्रभावी संवाद के नए उपक्रम को दिया अंजाम

 
नागपुर : महाराष्ट्र की बिजली उत्पादन कंपनी महाजेनको को बहुत ही कड़ी प्रतियोगिता के बीच “उत्कृष्ट कर्मचारी संवाद” श्रेणी में द्वितीय राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा गया. हैदराबाद में पब्लिक रिलेशन्स सोसाइटी ऑफ इंडिया (पीआरएसआई) के तीन दिवसीय 41वें राष्ट्रीय अधिवेशन में यह पुरष्कार तेलंगाना सरकार के गृहमंत्री मोहम्मद मेहमूद अली ने दिया. 

नवरत्न सहित करीब 52 कम्पनियों ने इसमें भाग लिया
कॉर्पोरेट, सार्वजनिक उपक्रम, सरकारी तथा निजी कम्पनियों, विज्ञापन एवं प्रकाशन क्षेत्रों में कार्यरत जनसंपर्क अधिकारियों का तीन दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन पब्लिक रिलेशन्स सोसाइटी ऑफ इंडिया की ओर से हैदराबाद के होटल “द मनोहर” में 13-15 दिसंबर को सम्पन्न हुआ. इस राष्ट्रीय सम्मेलन के निमित्त कई श्रेणियों में राष्ट्रीय पुरस्कारों की घोषणा की गई थी. देश भर की नवरत्न सहित करीब 52 कम्पनियों ने इसमें भाग लिया था, जिनकी प्रविष्टियों का मूल्यांकन सम्बन्धित क्षेत्र के  विशेषज्ञों ने किया था.

महाजेनको के कार्यकारी निदेशक (मानव संसाधन) भीमा शंकर मन्ता तथा अतिरिक्त जनसंपर्क अधिकारी यशवंत मोहिते ने उक्त सम्मान, सम्मेलन के मुख्य अतिथि तेलंगाना सरकार के गृहमंत्री मोहम्मद मेहमूद अली के हाथों ग्रहण किया. इस अवसर पर मंच पर पीआरएसआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अजित पाठक और सेक्रेटरी जनरल निवेदिता बनर्जी प्रमुखता से उपस्थित थीं. देश भर से करीब तीन सौ जनसम्पर्क अधिकारियों ने इस सम्मेलन में भाग लिया.  

“कनेक्ट एमएसपीजीसीएल” ब्रॉडकास्ट ग्रूप से प्रभावी संवाद
महाजेनको की ओर से प्रभावी कर्मचारी संवाद के लिए व्हाट्सएप के जरिये “कनेक्ट एमएसपीजीसीएल” ब्रॉडकास्ट ग्रूप बनाकर नए तरीके अपना कर, करीब 3,500 अधिकारी-कर्मचारी को विद्युत क्षेत्र की रोजमर्रा की गतिविधियों- व्यक्ति विशेष दिवस विशेष, कला, क्रीड़ा, नाटक, सेवानिवृत्ति, प्रशिक्षण आदि से जोड़ा गया. इससे टीम भावना, स्वस्थ स्पर्द्धा, व्यक्तिगत प्रोत्साहन, उपभोक्ता समाधान आदि ऑनलाईन फीडबैक का सकारात्मक शुभारंभ हुआ. 

इस अनूठे उपक्रम में महाजेनको के अतिरिक्त जनसंपर्क अधिकारी यशवंत मोहिते के अथक परिश्रम का उल्लेखनीय योगदान रहा. सूचना तकनीक में प्रोग्रामर सुमित पाटिल सहयोग कर रहे हैं. महाजेनको के उच्च प्रबन्धन के सहयोग से उपरोक्त नवीन कल्पना पूरे महाजेनको में प्रभावी संवाद के माध्यम के रूप में साकार हुई है.

NO COMMENTS