जीएसटी दरों में कमी करने का स्वागत

0
441
जीएसटी परिषद

ब्रांडेड दालों पर 5 फीसदी जीएसटी भी समाप्त करने, पेट्रोल को भी जीएसटी के दायरे में लाने की मांग

नागपुर : दि होलसेल ग्रेन ऐंड सीड्स मर्चैंट्स एसोसिएशन के सचिव प्रताप मोटवानी ने जीएसटी में उपभोक्ताओं को भारी राहत देने के लिए जीएसटी परिषद और वित्त मंत्री अरुण जेटली के प्रति आभार व्यक्त किया है. उन्होंने आशा व्यक्त की है कि जीएसटी परिषद की जनवरी में होने वाली बैठक में आम जनता को और बड़ी राहतें दी जाएंगी.

मोटवानी ने सरकार से आम जनता की जरूरत की ब्रांडेड दालों पर 5 फीसदी का वर्तमान जीएसटी भी समाप्त करने की मांग की है. उन्होंने इस आशय का पत्र प्रधान मंत्री और वित मंत्री को दिया है. साथ ही उन्होंने लोकसभा चुनाव के पूर्व पेट्रोल को भी जीएसटी के दायरे में लाकर आम जनता को राहत देने का निवेदन किया है.

मोटवानी ने व्हील चेयर पर जीएसटी 28 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी करने, फ्रोजन वेजिटेबल पर जीएसटी 5 फीसदी से घटाकर शून्य करने, फुटवियर पर जीएसटी दर 18 से घटाकर 12 फीसदी और 5 फीसदी करने, बिलयर्डस और स्नूकर पर जीएसटी दर 28 फीसदी से घटाकर 18 फीसदी करने, लीथियम बैट्री पर जीसएटी दर 28 फीसदी से घटाकर 18 फीसदी करने, थर्ड पार्टी मोटर इंश्योरेंस पर जीएसटी 18 से घटाकर 12 फीसदी करने के साथ ही धार्मिक यात्रा पर दरें 18 फीसदी से घटाकर 12 और 5 फीसदी करने पर प्रसन्नता व्यक्त की है.

इसके अलावा टायर, वीसीआर और लिथियम बैट्री को 28 फीसदी से 18 फीसदी पर लाने, 32 इंच तक के टीवी पर दरें 28 फीसदी से घटाकर 18 फीसदी करने, 100 रुपए से ऊपर के सिनेमा टिकट पर 18 फीसदी जीएसटी लगाने और 100 रुपए से कम से सिनेमा टिकट पर 12 फीसदी जीएसटी करने का भी उन्होंने स्वागत किया है.

सीमेंट और ऑटो पार्ट्स की जीएसटी दरें घटाने से सरकार को क्रमशः 13,000 करोड़ रुपए का और 20,000 करोड़ का राजस्व नुकसान होने की बात बात बताते हुए वित्त मंत्री ने कहा है कि फिलहाल इनके दर नहीं घटाए गए हैं. मोटवानी ने वित्त मंत्री से आग्रह किया है कि सीमेंट और ऑटो पार्ट्स की जीएसटी दरों को भी कम करने की दिशा में कदम उठाए जाएं.

NO COMMENTS