पूर्व प्रेमिका की करा दी हत्या, बाइक में कार से मारी टक्कर

0
372

आधी रात के बाद की घटना, चार आरोपी गिरफ्तार, पूर्व प्रेमी गिरफ्त से बाहर

विपेन्द्र कुमार सिंह,
नागपुर :
अपने मित्र के साथ बाइक पर देर रात घर लौट रही पूर्व प्रेमिका का कार से पीछा कर पीछे टक्कर मार कर गणेशपेठ थाना के निकट उसकी हत्या करा देने की खबर से यहां शहर में सनसनी फैल गई. शनिवार की अर्द्धरात्रि बाद हुई इस वारदात में हुई मयूरी तरुण हिंगणेकर (22) की हत्या के मामले में कार चला रहे मुख्य आरोपी छोटा लोहारपुरा, गणेशपेठ निवासी अनिकेत कृष्णाजी सालवे (23) को गणेशपेठ पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार कर लिया. अन्य आरोपियों में मोहित मनोहर सालवे, आशीष कृष्णा सालवे और झंडा चौक निवासी दीपक तुलसीदास भुले को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. मयूरी के पूर्व प्रेमी शुभम सालवे की गिरफ्तारी की भी मांग की जा रही है.

गणेशपेठ पुलिस को अक्षय ने दी जानकारी
कार द्वारा टक्कर मारे जाने से बाइक से मयूरी के साथ गिर कर जख्मी हुए उसके मित्र अक्षय भाग कर गणेशपेठ पुलिस स्टेशन पहुंचा और वहां पुलिसकर्मियों को जानकारी दी. पुलिस जब तक घटनास्थल पर पहुंची, कार छोड़कर सभी आरोपी फरार हो चुके थे. पुलिस ने मयूरी और अक्षय को मेडिकल अस्पताल पहुंचाया. वहां डॉक्टरों ने मयूरी को मृत घोषित कर दिया. अक्षय का उपचार चल रहा है. दूसरे दिन रविवार को पुलिस अक्षय से वारदात की पूरी जानकारी मिली तो हत्या और हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर आरोपियों की धर-पकड़ शुरू की.

ऐसे पीछा कर की गई हत्या
प्राप्त जानकारी के अनुसार मयूरी अपने मित्र अक्षय किशोर नगरधने के साथ रात में बाइक पर घर लौट रही थी. इसी दौरान कार में सवार उसके पूर्व प्रेमी शुभम के भाइयों ने पीछा शुरू किया. युवक-युवती से मारपीट करने का प्रयास किया. उन्होंने चलती गाड़ी में युवती का हाथ और बाल पकड़ कर खींचने का प्रयास किया. गणेशपेठ थाना के निकट ही गांधीसागर के गणेश घाट के पास कार में सवार आरोपी युवकों ने बाइक को जोरदार टक्कर मार दी. बाइक स्कीट होकर बंद दूकान के शटर पर जा टकराई. इस हादसे युवती की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि उसका मित्र अक्षय बुरी तरह जख्मी हो गया. मृतका मयूरी तेलंगीपुरा, गांधीबाग निवासी मयूरी तरुण हिंगणेकर (22) बताई गई. जख्मी युवक झंडा चौक, महल निवासी अक्षय किशोर नगरधने (22) का उपचार मेडिकल अस्पताल में चल रहा है.

मित्र के साथ रात 10 बजे निकली थी घूमने
बताया गया कि मयूरी के पिता का 2 वर्ष पहले देहांत हो गया. तब से मयूरी ही निजी संस्थानों में काम करके घर चला रही थी. शनिवार को उसके पिता के श्राद्ध का कार्यक्रम था. घर से भोजन करने के बाद वह रात 10 बजे के दौरान घर से निकली. फव्वारा चौक पर अक्षय उसे लेने आया. मयूरी ने अपने दोस्तों के साथ फिल्म देखने का प्लान बनाया था, लेकिन उसके दोस्त नहीं आए. फिल्म का समय चला गया तो अक्षय और मयूरी कोराडी मंदिर घूमने चले गए.

पूर्व प्रेमी शुभम सालवे के भाई और दोस्त हैं आरोपी युवक
रात 12.30 बजे के दौरान दोनों दर्शन कर वैरायटी चौक पर रुके. दोनों चाय की दूकान पर जा रहे थे. इसी दौरान कार क्र. एम.एच.31-डी.वी.4990 पर सवार उपरोक्त आरोपी उनके पास आए. आरोपी युवकों ने अक्षय को साथ देख मयूरी के साथ अभद्र व्यवहार किया. इस बीच अक्षय के साथ भी उनकी बहस हुई. मयूरी ने उसे बताया कि आरोपी युवक उसके पूर्व प्रेमी शुभम सालवे के भाई और दोस्त हैं. उसने अक्षय को चुपचाप अपने साथ चलने को कहा. अक्षय और मयूरी बाइक पर वहां से निकल गए.

पहले से दी जा रही थीं मयूरी को धमकियां
मयूरी के भाई चेतन ने बताया कि कई दिनों से मयूरी को धमकियां दी जा रही थीं. शनिवार रात भी उसे फोन पर धमकाया गया था. वाट्सएप पर धमकी भरे मैसेज भेजे जा रहे थे. जानकारी मिली है कि करीब डेढ़ वर्ष से मयूरी और शुभम के बीच प्रेम संबंध थे, लेकिन पिछले कुछ समय से मयूरी ने उससे दूरी बना ली थी. तब से शुभम और उसके साथी मयूरी को धमका रहे थे. शनिवार रात मयूरी को अक्षय के साथ देख आरोपी आगबबूला हो गए और मारने पर उतारू थे. कार चला रहा अनिकेत अन्य आरोपी भी पुलिस की गिरफ्त में हैं. उन सभी से पूछताछ की जा रही है.

NO COMMENTS