शिवनाथ और इंटरसिटी एक्सप्रेस अब चलेगी इतवारी स्टेशन से

0
223

15 वर्षों की नागपुर के व्यापारियों की मांग रेलवे बोर्ड ने की पूरी

नागपुर : उपराजधानी के व्यापारिक क्षेत्र इतवारी के साथ अंततः न्याय करते हुए शिवनाथ और इंटरसिटी को इतवारी स्टेशन से चलाने का निर्णय रेलवे बोर्ड ने किया है. दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे से करीब 20 वर्षों से जुड़े DRUCC और ZRUCC सदस्य प्रताप मोटवानी ने कहा कि रेलवे बोर्ड ने अंततः व्यापारिक क्षेत्र के स्टेशन इतवारी के साथ न्याय किया है.

मोटवानी ने बताया कि रेलवे बोर्ड से वे विगत 15 वर्षों से यह मांग कर रहे थे. उन्होंने कहाकि इतवारी स्टेशन को टर्मिनल के रूप में विकसित कर और दक्षिण द्वार बना कर उस ओर से हावड़ा से आने जाने वाली सभी ट्रेनों का इतवारी स्टेशन पर स्टापेज देने एवं इतवारी स्टेशन का सौंदर्यीकरण करने की लगातार मांग करने से इतवारी स्टेशन में पिछले कुछ वर्षों से विकास कार्य शुरू किए गए. मोटवानी ने कहा कि जैसे मुम्बई में दादर, कुर्ला और अन्य स्थानों से ट्रेन टर्मिनल बनाए गए ताकि CSMT पर नयात्रियों और ट्रेनों की भीड़ कम हो सके. उसी तरह नागपुर जंक्शन के लिए भी जरूरी हो गया है कि अजनी और इतवारी स्टेशनों को भी टर्मिनल के रूप में विक्सित किया जाए.

उन्होंने कहा कि इतवारी पूरे विदर्भ का सबसे बड़ा न केवल व्यापारिक क्षेत्र है, बल्कि भारी जनसंख्या वाला क्षेत्र भी है, इसे टर्मिनल बनाने से न केवल व्यापारियों को सुविधा मिलेगी, बल्कि नागपुर लोगों भी इसका लाभ मिलेगा. अजनी स्टेशन का विकास भी कुछ वर्षों से हो रहा है, वहां से कुछ ट्रेनों का चलना शुरू हो चुका है, लेकिन इतवारी स्टेशन के साथ न्याय नहीं हो पाया था.

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के महाप्रबंधक सुनील सिंघ सोइन और नागपुर की डीआरएम श्रीमती शोभना बंदोपाध्याय के कुशल नेतृत्व में इतवारी स्टेशन का महत्व बढ़ाते हुए विकास कार्य शुरू किए गए और आज इतवारी से टाटानगर पैसेंजर के बाद 2 महत्वपूर्ण ट्रेनों की शुरुआत इतवारी स्टेशन से हो रही है.

मोटवानी ने महाप्रबंधक सोइन और डीआरएम श्रीमती बंदोपाध्याय के साथ रेलवे बोर्ड का आभार मानते हुए कहा कि अब व्यापारिक क्षेत्र के स्टेशन इतवारी में सभी यात्रियों के काफी लाभ मिलेगा और यात्रियों के साथ पार्सल सेवा को भी बढ़ावा मिलने से कलमना के व्यापारियो को इतवारी से सामान भेजने में सुविधा मिलेगी.

मोटवानी ने नागपुर मंडल के डीआरएम और वरिष्ठ डीसीएम से आग्रह किया है कि व्यापारियों द्वारा पार्सल भेजने का समय 7.30 से बढ़ाकर 8.30 की जाए और पार्सल घर के बाहर शेड लगाए जाएं ताकि बारिश में यात्रियों का माल भीगे नहीं.

उन्होंने स्टेशन पर कुलियों की संख्या बढ़ाने, साथ ही स्टेशन पर कॉसमॉस रेस्टॉरेंट देने और प्लेटफार्म को अधिक बढ़ा कर सुंदर बनाने की भी मांग की है. मोटवानी ने विश्वास प्रकट किया कि अब इतवारी स्टेशन पर रौनक बढ़ेंगी और यात्रियों व व्यापारियों को भरपूर सुविधा मिलेगी, साथ ही भविष्य में छिंदवाड़ा लाइन बड़ी होने पर वहां के लिए इतवारी से ही ट्रेन संचालित हो सकेगी. मोटवानी ने रेलवे बोर्ड को धन्यवाद देते हुए इतवारी से हावड़ा, इतवारी से पुणे, इतवारी से हरिद्वार, इतवारी से अहमदाबाद, इतवारी से जोधपुर, इतवारी से चेन्नई ट्रेन सेवा शुरू करने की भी मांग की है.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY