अचलपुर में 15 लाख का गुटखा जब्त, गुटखा तस्करों ने फिर पैर पसारे

0
487
15 लाख रुपए का अवैध गुटखा जब्त करने वाली अचलपुर पुलिस की टीम गुटखों की बोरियों के साथ.

पुलिस ने फिर छेड़ी अवैध गुटखा तस्करों के खिलाफ मुहीम

इरशाद अहमद
अचलपुर (अमरावती) :
अचलपुर पुलिस ने छापा मार कर मोमिनपुरा निवासी बुरहान नामक एक पुराने व्यापारी के घर से करीब 15 लाख का तलब, नजर आदि गुटखा जब्त किया. यह अवैध माल माजिद नामक कारोबारी का बताया जा रहा है.

बताया यह भी जा रहा है कि यह अवैध गुटखा कारोबारी जाविद का है, लेकिन पुलिस अभी इसकी तहकीकात करने में लगी है. अचलपुर के थानेदार आधार सिंह सोनोने के मार्गदर्शन में गुप्त सूचना के आधार पर रवि बवने, पुरूषोत्तम बावनेर, विनोद राउत व सचिन बुंबे ने कार्रवाई की है.

तस्करों के हौसले बुलन्द
अचलपुर पुलिस की बार-बार कार्रवाई के बाद भी अचलपुर में गुटखा तस्करों के हौसले बुलन्द हैं. अचलपुर थाना प्रभारी आधार सिंह ने पिछले डेढ़ वर्ष में शहर के दो बड़े तस्करों को यह अवैध धंधा बंद करने पर मजबूर कर दिया था. लेकिन इसके बाद भी भी थानेदार ने गुटखा विक्रेताओं को रंगे हाथों पकड़ा था. अभीतक 38 लाख का अवैध गुटखा आधार सिंह सोनोने ने पकड़ा है.

इसके बावजूद वही तस्कर आज पुलिस व खाद्य पदार्थ फुड एंड ड्रग्स प्रशासन विभाग के बिना डर के बेखौफ अवैध गुटखा बेच रहे हैं. अचलपुर में जिन लोगों ने गुटखा तस्करी बंद कर दी थी, वे फिर से अपने तस्करी में आगे बड़ कर फिर इसकी शुरआत कर चुके हैं.

चर्चा यह भी है कि एक तस्कर ने तो यहां तक दावा कर रहा है कि पुलिस हमारा कुछ नही बिगाड़ सकती, हमारा बड़ा डॉलर तस्कर बडनेरा से सब कुछ संभाल लेगा. फिलहाल कार्रवाई के नाम पर पुलिस को अवैध गुटखा पकड़ने का अधिकार नहीं है. उच्च न्यायालय के ऐसे आदेश से उनके हौसले परवान चढ़े हुए हैं.

लेकिन सरकारी आदेशों और कानून का उल्लंघन करने वाले लोगों पर संबंधित विभाग को पुलिस थाने में ही मामला दर्ज करना होता है. अब खाद्य व औषधि प्रशासन को चाहिए कि छोटे-छोटे तस्करों पर कार्रवाई के साथ बड़े तस्करों परभी हाथ डाले.

इसी सप्ताह अचलपुर के थानेदार आधार सिंह सोनोने ने 4 सितंबर को एएसआई शांतिलाल पटेल की दर्दनाक हत्या के मामले में कड़े कदम उठाना आरंभ कर दिया है. शहर में गांजेठिए, शराबी व जुआरियों के साथ वर्ली मटका व अवैध गुटखा के खिलाफ भी उन्होंने विशेष मोहीम छेड़ दी है. आज अचलपुर में सभी के मोबाइल पर थानेदार की पोस्ट धुमाल मचा रही है. अब रही बात तो अचलपुर पुलिस स्टेशन के अलावा दूसरा सरमसपुरा पुलिस स्टेशन अभी हाथ पर हाथ धरे बैठा है.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY