YouTube : सावधान हो जाएं, नए साल से नहीं चलेगी मनमानी

0
403
YouTube
Sign with logos for Google and the Google owned video streaming service YouTube at the Googleplex, the Silicon Valley headquarters of search engine and technology company Google Inc in Mountain View, California, April 14, 2018. (Photo by Smith Collection/Gado/Getty Images)

Google (गूगल) अपने महत्वपूर्ण वीडियो शेयरिंग प्लेटफार्म YouTube की सेवा की शर्तों में बदलाव करने जा रहा है. हालांकि, इन बदलावों से YouTube इस्तेमाल करने के तरीके पर कोई असर नहीं पड़ेगा. यह बदलाव भारत सरकार के सूचना और प्रसारण मंत्रालय के निर्देशों के मुताबिक किए जा रहे हैं. 
 
YouTube पर अश्लीलता, नग्नता, मानहानि, उत्पीड़न, वाणिज्यिक और विज्ञापन और आपराधिक आचरण को प्रोत्साहित करने वाली सामग्री पहले से निषिद्ध हैं. इन शर्तों के माध्यम से अब ऐसे वीडियो पर प्रभावी अंकुश लगाया जा सकेगा. अब तक पंजीकृत और गैर-पंजीकृत दोनों प्रकार के उपयोगकर्ता मनमानी ढंग से अप्रमाणिक और मानहानि करने वाले कंटेंट अपलोड करते रहे हैं. ऐसे उपयोगकर्ताओं को अब सावधान हो जाने की जरूरत है. 

इसके अंतर्गत भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी (मध्यवर्ती संस्थानों के लिए दिशा-निर्देश और डिजिटल मीडिया आचार संहिता नियम, 2021) के नियम पांच में बताई गई जरूरी शर्तों के मुताबिक, YouTube उपयोगकर्ता को यह बताना अनिवार्य होगा कि इस प्लेटफॉर्म पर प्रेषित होने वाले समाचार ऐप्लिकेशन या हाल-फिलहाल की घटनाओं से जुड़े कॉन्टेंट के प्रकाशक आप ही हैं. आपको YouTube पर अपने खाते की जानकारी, भारत सरकार के सूचना और प्रसारण मंत्रालय को देनी होगी.

YouTube अपने पंजीकृत सदस्यों को वीडियो अपलोड करने, देखने, शेयर करने, पसंदीदा वीडियो के रूप में जोड़ने, रिपोर्ट करने, टिप्पणी करने और दूसरे सदस्यों के चैनल की सदस्यता लेने देता है. इसमें सदस्यों से लेकर कई बड़े कंपनियों के तक वीडियो मौजूद रहते हैं. इनमें वीडियो क्लिप, टीवी कार्यक्रम, संगीत वीडियो, फ़िल्मों के ट्रेलर, लाइव स्ट्रीम आदि होते हैं. कुछ लोग इसे वीडियो ब्लॉगिंग के रूप में भी प्रयोग करते हैं.
 
गैर-पंजीकृत सदस्य केवल वीडियो ही देख सकते हैं, वहीं पंजीकृत सदस्य असीमित वीडियो अपलोड कर सकते हैं और वीडियो में टिप्पणी भी जोड़ सकते हैं. कुछ ऐसे वीडियो, जिसमें मानहानि, उत्पीड़न, नग्नता, अपराध करने हेतु प्रेरित करने वाले वीडियो या जो भी 18 वर्ष से कम आयु के लोगों के लिए घातक हो, उन्हें केवल 18+ आयु के पंजीकृत सदस्य ही देख सकते हैं. YouTube पर अश्लीलता, नग्नता, मानहानि, उत्पीड़न, वाणिज्यिक और विज्ञापन और आपराधिक आचरण को प्रोत्साहित करने वाली सामग्री पहले से निषिद्ध हैं.

बदलावों के बारे में खास जानकारी और अपडेट की हुई शर्तें YouTube के पंजीकृत और गैर-पंजीकृत सदस्यों दोनों तरह के सदस्यों पर लागू होने वाले हैं. ये सेवा की शर्तें अब भी एक कानूनी दस्तावेज हैं. इन शर्तों में खाते का निलंबन और खाता बंद करना जैसे कुछ सेक्शन को फिर से व्यवस्थित किया जा रहा है. साथ ही, अन्य सेक्शन भी फिर से तैयार किए जा रहे हैं, जैसे, इस कानूनी समझौते को बदलना.

ख़ास कर कम्यूनिटी दिशा-निर्देशों के उल्लंघन की शिकायत करने की प्रक्रिया को शामिल किया जाने वाला है. YouTube का इस्तेमाल हमेशा से इसके कम्युनिटी दिशा-निर्देशों और उनके उल्लंघन की शिकायत करने की प्रक्रिया पर निर्भर रहा है. अब हर चीज़ के बारे में साफ तौर पर जानकारी देने के लिए, कम्यूनिटी दिशा-निर्देशों के उल्लंघन की शिकायत कैसे की जाती है या किसी कॉन्टेंट के खिलाफ या चैनल को शिकायत कब मिलेगी, इन दोनों प्रक्रियाओं में कोई बदलाव नहीं किए गए हैं.

ये शर्तें और Google की निजता नीति और आपके YouTube के इस्तेमाल पर लागू होती है. इन कानूनी समझौतों का उल्लंघन करने पर चेतावनी दी जा सकती है या आगे किसी और तरह की कार्रवाई भी हो सकती है. इसमें आपके पूरे खाते या उसके किसी हिस्से का ऐक्सेस हटाना या बंद करना शामिल है.

5 जनवरी, 2022 के बाद भी YouTube इस्तेमाल करने पर, यह माना जाएगा कि आप उनकी अपडेट की हुई शर्तों से सहमत हैं. ध्यान दें, अगर आपका बच्चा YouTube Kids इस्तेमाल करता है या Family Link से बच्चे के YouTube के इस्तेमाल को मैनेज किया जाता है, तो उसे भी इन बदलावों के बारे में जानकारी दें.

NO COMMENTS