महाबैंक के एमडी रविंद्र मराठे अस्पताल में

0
340

डीएसके की कंपनी को अवैध कर्ज देने के मामले में हैं पुलिस कस्टडी में

पुणे : बिल्डर एवं उद्योगपति डी.एस. कुलकर्णी (डीएसके) की कंपनी को अवैध रूप से कर्ज देने के मामले में बुधवार, 20 जून को गिरफ्तार बैंक ऑफ महाराष्ट्र के प्रबंध निदेशक रवींद्र मराठे को मध्य रात्रि में यहां ससून अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा. उनका बीपी (रक्तचाप) बढ़ जाने से उनकी तबीयत खराब हो गई थी.

पुणे शहर पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने बुधवार के दोपहर रवींद्र मराठे समेत बैंक के चार वरिष्ठ अधिकारी, पूर्व अध्यक्ष और चार्टड अकाऊंटेंट को गिरफ्तार कर उन्हें शिवाजीनगर जिला न्यायालय में पेश किया था. न्यायालय ने सभी को 27 जून तक पुलिस कस्टडी में रखने का आदेश दिया है. वहां से उन्हें पुलिस आयुक्तालय लाया गया, जहां से पूछताछ कर रात में उन्हें पुलिस कस्टडी में भेज दिया गया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार रात 2 बजे रवींद्र मराठे ने बेचैनी और छाती में दर्द की शिकायत की. पुलिस अधिकारियों ने उन्हें तुरंत सूसन अस्पताल में दाखिल कराया.

अस्पताल में उनकी जांच की गई. गुरुवार को डॉ. अजय तावरे ने बताया कि रवींद्र मराठे की जांच की गई. उनका बीपी बढ़ा हुआ है, आवश्यक उपचार के बाद उनकी हालत स्थिर बनी हुई है.

NO COMMENTS