पांडुरंग फुंडकर पंचतत्व में विलीन

0
2168

गृहनगर खामगांव में हुआ अंतिम संस्कार, मुख्यमंत्री समेत अनेक नेता थे उपस्थित

खामगांव (महाराष्ट्र) : मुंबई में मंगलवार के तड़के 4 बजे तीव्र हृदयाघात के चलते दिवंगत हुए राज्य के कृषि व फलोत्पादन मंत्री, बुलडाणा जिले के पालक मंत्री तथा भाजपा के वरिष्ठ नेता पांडुरंग फुंडकर के पार्थिव का शेगांव रोड स्थित सिद्धिविनायक टेक्नीकल कैम्पस परिसर में पूरी राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार संपन्न हुआ.

इस अवसर पर मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस, विधानसभा अध्यक्ष हरिभाऊ बागड़े, भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष रावसाहब दानवे तथा विपक्षी नेता धनंजय मुंडे, वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व मंत्री एकनाथ खड़से, पूर्व मुख्यमंत्री अजित पवार, शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े तथा लोकनिर्माण राज्यमंत्री प्रवीण पोटे सहित राज्य सरकार के अनेकों मंत्री तथा विविध पार्टियों के गणमान्य नेता उपस्थित थे.

इससे पहले शुक्रवार की सुबह करीब 9 बजे स्थानीय माधव नगर स्थित फुंडकर परिवार के निवास ‘वसुंधरा’ बंगले से भाऊसाहब फुंडकर की अंतिम यात्रा निकाली गई, जिसमें अपने लोकप्रिय जननेता को अंतिम विदाई देने के लिए अपार जनसमूह उमड़ा.

कृषि मंत्री पांडुरंग फुंडकर को करीब 20 दिन पहले सांस लेने में तकलीफ रहने के चलते जसलोक हॉस्पिटल में भरती कराया गया था, बाद में स्वास्थ्य में सुधार होने के बाद उन्हें डिस्चार्ज दे दिया गया था. किंतु बुधवार को उन्हें एक बार फिर सांस लेने में तकलीफ हुई. जिसके बाद उन्हें सुबह 10 बजे जे.के. सोमय्या अस्पताल में दाखिल किया गया. यहां पर सारा दिन उनका स्वास्थ्य नियंत्रित रहा. किंतु रात 8 बजे उन्हें एकबार फिर सांस लेने में तकलीफ हुई और रात करीब 12.30 बजे उन्हें फिर हृदयाघात हुआ. उस वक्त अस्पताल में उनके पास उनकी पत्नी सुनिता फुंडकर, पुत्र सागर फुंडकर व अनिल राजभोर व अन्य कुछ रिश्तेदार भी उपस्थित थे. डॉक्टर ने रात भर उन्हें बचाने की कोशिश में लगे रहे. लेकिन तड़के चार बजे उन्होंने हार मान ली और उन्हें मृत घोषित कर दिया.

NO COMMENTS