दिए की आग से जली पत्नी के बाद पति की भी मृत्यु

0
1564

कोंढाली (संवाददाता) : स्थानीय पुलिस थाना अंतर्गत गोठणगांव में जलता दिया गिरने से जल गए दोनों पति-पत्नी की उपचार दरम्यान नागपुर के शासकीय मेडिकल हॉस्पीटल में उपचार के दौरान मृत्यु हो गई.

कोंढाली से 30 कि.मी. दूर हिंगणा तहसील के अंतर्गत आनेवाले गोठणगांव में पिछले 3 मार्च की रात 8 बजे गांव की बिजली जाने से शेवंताबाई मनोहर युवनाते (60) ने चुल्हे पर रॉकेल का दिया लगाकर खाना पका रही थी. गलती से शेवंताबाई से रॉकेल के दिये धक्का को लग गया, फलस्वरूप जलता दिया तथा रॉकेल शेवंताबाई के लुगड़े पर गिर गया. चुल्हे की आग से लुगड़ा जलने लगा. शेवंताबाई को जलते देख पति मनोहर चंपतराव युवनाते बचाने को दौड़ा, पर जलती शेवंताबाई पति मनोहर से चिपक गई. इससे मनोहर भी आग की चपेट में आ गया और पत्नी के साथ उसके कपड़ों और शरीर में आग लग गई.

उनकी चीख-पुकार सुन पहुंचे लोगों ने पति-पत्नी के शरार में लगी आग बुझाई और उन्हें उपचार के लिए अडेगांव प्राथमिक स्वास्थ केंद्र ले गए. अडेगांव प्राथमिक आरोग्य केंद्र के डॉक्टरो ने 85 फीसदी जली शेवंताबाई तथा 30 प्रतिशत जले मनोहर का प्राथमिक उपचार कर उन्हें नागपुर शासकीय मेडिकल हॉस्पीटल रेफर कर दिया.

3 मार्च की रात को ही उपचार के दौरान शेवंताबाई की मृत्यु हो गई तथा 15 मार्च की रात 12 बजे नागपुर शासकीय मेडिकल हॉस्पीटल के वार्ड क्रमांक-4 में मनोहर युवनाते की भी उपचार दरम्यान मृत्यु हो गई. कोंढाली के थानेदार पुरुषोत्तम अहेरकर के मार्गदर्शन मे हे.कॉ. किशोर लोही मामले की जांच कर रहे हैं.

NO COMMENTS