100 करोड़ वसूली : बार मालिक हर महीने वझे को देता था 2.5 लाख

0
1632
100
dismissed API सचिन वझे

मुंबई : एक बार मालिक ने 100 करोड़ रुपए की वसूली के मामले में मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के आरोपों की पुष्टि की है, जिसमें उन्होंने मुख्यमंत्री और राज्यपाल को पत्र लिख कर इस वसूली के बारे में उन्हें बताया था. 

बार मालिक के बयान से उनके आरोप का खुलासा हुआ है, जिसमें उसने प्रवर्तन निदेशालय (ED) को उसने बताया है कि वह API सचिन वझे को ढाई लाख रुपए हर महीने दिया करता था. बता दें कि उगाही मामले में सीबीआई के अलावा ईडी भी जांच कर रही है.
100
ज्ञातव्य है कि परमबीर सिंह ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र के तत्कालीन गृहमंत्री अनिल देशमुख चाहते थे कि पुलिस अधिकारी बार और होटलों से हर महीने 100 करोड़ रुपए की वसूली करके उन्हें पहुंचाएं.  

वझे को हर महीने 2.5 लाख रुपए देता था बार मालिक
सूत्रों ने बताया कि ईडी (ED) ने 100 करोड़ रुपए की वसूली के मामलें में एक बार मालिक का बयान रिकॉर्ड किया है, जो मुंबई के अंधेरी इलाके का बताया जा रहा है. बार मालिक ने स्वीकार किया है कि वह सचिन वझे (पूर्व सब इन्स्पेक्टर, अब बर्खास्त) को हर महीने ढाई लाख रुपये देता था. बता दें सीबीआई (CBI) इस बार मालिक का बयान पहले ही रिकॉर्ड कर चुकी है.

ईडी ने नागपुर में भी की छापेमारी
इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने नागपुर नागपुर के शिवाजी नगर के हरे कृष्ण अपार्टमेंट में छापा मारा है. सागर भटेवार नाम के व्यापारी के यहां आज ही मंगलवार, 25 मई की सुबह ईडी के अधिकारी पहुंचे और सर्च ऑपरेशन शुरू किया. इस व्यापारी का संबंध एक बड़े नेता से बताया जा रहा हैं.

इस मामले में उन्होंने बॉम्बे हाई कोर्ट में याचिका दायर कर सीबीआई जांच की मांग की थी, जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया. हाई कोर्ट के आदेश के बाद सीबीआई ने अप्रैल में भ्रष्टाचार के आरोप में अनिल देशमुख के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी. इसके अलावा प्रवर्तन निदेशालय ने भी उनके खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है.

NO COMMENTS