कोल मिनिस्टर्स अवार्ड – 2020 मिलने से WCL में उत्साह

0
335
कोल मिनिस्टर्स
वेकोलि के सीएमडी मनोज कुमार कोयला और खान मंत्री प्रह्लाद जोशी से कोल मिनिस्टर्स अवार्ड ग्रहण करते हुए. साथ में नागपुर क्षेत्र के महाप्रबंधक दिवाकर गोखले एवं महाप्रबंधक (पर्यावरण) कौशिक चक्रवर्ती भी.

NCL और CCL भी अवार्ड से सम्मानित, लॉन्च हुआ ‘प्रोजेक्ट पैशन’ के तहत ERP फेज-1

 
नई दिल्ली : संसदीय कार्य, कोयला एवं खान मंत्री प्रल्हाद जोशी ने गुरुवार 21 जनवरी को वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (WCL वेकोलि) सहित नॉर्दन कोलफील्ड्स लि. (NCL) और सेन्ट्रल कोलफील्ड्स लि. (CCL) को ‘कोल मिनिस्टर्स अवार्ड – 2020’ (Coal Minister’s Award -2020)  प्रदान किया. वेकोलि की ओर से कंपनी के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक मनोज कुमार ने यह अवार्ड ग्रहण किया. 

यह अवार्ड NCL को जहां सर्वोत्तम कोयला उत्पादन और उत्पादकता के लिए दिया गया, वहीं WCL और CCL को Coal Minister’s Award क्रमशः सस्टेनेबल माइनिंग और उत्कृष्ट सुरक्षा उपायों के लिए दिया गया. 

सस्टेनेबिलिटी के लिए प्राप्त इस कोल मिनिस्टर्स अवार्ड का श्रेय सीएमडी मनोज कुमार ने टीम वेकोलि को दिया. उन्होंने कहा कि यह उपलब्धि कम्पनी कर्मियों की मेहनत का सुखद प्रतिफल है. सीएमडी ने कहा कि साल के प्रथम महीने में प्राप्त इस पुरस्कार से निश्चय ही हमारी टीम का उत्साह बढ़ेगा. उन्होंने कहा कि इस अवार्ड की खबर से ही वेकोलि के सभी कर्मियों का उत्साह अत्यधिक बढ़ा है. 

ERP फेज -1 का शुभारंभ 
कोयला मंत्री जोशी ने इस अवसर पर कोल इंडिया की महत्वाकांक्षी योजना ‘प्रोजेक्ट पैशन’ के तहत Enterprise Resource Planning (ERP) (फेज -1 ईआरपी इम्प्लीमेंटेशन) का भी शुभारंभ किया. जोशी ने कहा कि इस प्रोजेक्ट का उद्देश्य कोल इंडिया के सभी 8 अनुषंगी कंपनियों को वास्तविक काल क्रम में अपनी परियोजनाएं लागू करने में मदद पहुंचाना है. 

कोल मिनिस्टर्स अवार्ड – 2020 समारोह में कोयला मंत्रालय के सचिव अनिल कुमार जैन तथा कोल इंडिया लिमिटेड, कोलकाता के अध्यक्ष प्रमोद अग्रवाल एवं निदेशक (तकनीकी) विनय दयाल प्रमुखता से उपस्थित थे. साथ ही WCL के सीएमडी मनोज कुमार के साथ NCL के सीएमडी पी. के. सिन्हा और CCL के सीएमडी पी. एम. प्रसाद भी समारोह में अवार्ड ग्रहण करने के लिए अपने वरिष्ठ सहयोगियों के साथ उपस्थित थे. 

इस अवसर पर WCL के नागपुर क्षेत्र के महाप्रबंधक दिवाकर गोखले एवं महाप्रबंधक (पर्यावरण) कौशिक चक्रवर्ती भी मौजूद थे.  

NO COMMENTS