अमृतसर में बड़ा रेल हादसा, रावण-दहन देख रहे रेल पटरी पर बैठे लोग कुचले गए

0
494

खून से लथपथ लाशें बिखरी हुई हैं, नजारा देश के विभाजन के समय हुए दंगों जैसा

नई दिल्ली : पंजाब के अमृतसर में आज शाम करीब 7 बजे बड़ी रेल दुर्घटना हुई है. खबर है कि पठानकोट से अमृतसर की तरफ आ रही इस ट्रेन संख्या 74943ने 50 ने अधिक लोगों कुचल दिया है. अनेक एक समाचार एजेंसी के अनुसार एक रेल अधिकारी का कहना है कि अमृतसर-माननवाला के निकट गेट संख्या-27 के पास रावण दहन देखने के लिए रेल पटरी पर खड़े बहुत से लोगों के ऊपर से यह ट्रेन गुजरी है.

क्रैकर की आवाज के कारण ट्रेन की आहाट नहीं मिली
पता चला है कि यह हादसा अमृतसर के चौड़ा बाजार के समीप हुआ है. यह हादसा उस समय हुआ, जब ट्रेन पटरी के पास राणव का पुतला जलाया जा रहा था, जिसे देखने के लिए ट्रैक पर लोग खड़े थे. उस समय रावण दहन हो रहा था और समझा जाता है कि क्रैकर फूटने की आवाज के कारण लोगों ने ट्रेन के आने की आवाज नहीं सुनी. आशंका है कि ट्रेन लोगों की भीड़ के ऊपर चढ़ गई. इसमें काफी लोगों के मारे जाने की आशंका है. बताया जा रहा है कि घटना के वक्त भगदड़ मच गई.

खून से लथपथ लाशें बिखरी पड़ी हैं
यह हादसा अमृतसर के जोड़ा फाटक के पास हुआ है. घटना स्थल से हृदयविदारक तस्वीरें आ रही हैं, जिसे देखा नहीं जा सकता है. ट्रैक के आसपास खून से लथपथ लाशें बिखरी पड़ी हुई हैं. घटनास्थल पर मौजूद चश्मदीद बता रहे हैं कि ट्रेन की स्पीड बहुत ज्यादा थी, जबकि भीड़भाड़ वाले इलाके को देखते हुए इसकी रफ्तार कम होनी चाहिए. इस घटना को लेकर स्थानीय लोगों में काफी नाराजगी है.

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने घटना को लेकर दु:ख जताया है. उन्होंने कहा कि सभी सरकारी और निजी अस्पतालों को घायलों के इलाज के लिए खुला रखने को कहा गया है. जिला प्रशासन को उचित कदम उठाने को कहा गया है.

इधर, दुर्घटनास्थल के पास काफी लोग जमा हैं और स्वजनों को ढूंढ रहे हैं. मौके पर बचाव दल पहुंच गया है. वहां पर सुरक्षा और राहत के लिए पुलिस बल को भी तैनात किया गया है. घायलों को अस्पताल पहुंचाया जा रहा है. एक चश्मदीद का कहना है कि ट्रैक के पास का नजारा 1947 में देश के विभाजन के समय हुए दंगों जैसा हो गया है, जहां लाशें क्षत-विक्षत स्थिति में पड़ी हुईं हैं.

NO COMMENTS