वर्धा के 7 मेडिकल विद्यार्थियों की भीषण दुर्घटना में मौत

0
729
वर्धा
दुर्घटनाग्रस्त महिंद्रा जायलो एसयूवी कार जिसमें सवार वर्धा के सावंगी स्थित आचार्य विनोबा भावे मेडिकल कॉलेज के सात विद्यार्थियों की भीषण दुर्घटना में मौत हो गई. 

पीएम ने संवेदना प्रकट की और दो-दो लाख की सहायता की घोषणा की

 
*आश्विन शाह-
वर्धा (महाराष्ट्र) : वर्धा जिले के सावंगी स्थित आचार्य विनोबा भावे मेडिकल कॉलेज के 7 विद्यार्थियों की सोमवार की रात एक भीषण दुर्घटना में मृत्यु हो गई. मेडिकल कॉलेज के हॉस्टल के ये सभी विद्यार्थी रात्रि में अपने एक मित्र का जन्मदिन मना कर वापस लौट रहे थे. देवली के निकट सेलसुरा के निकट सेलसुरा नदी की पुलिया से 40 फीट नीचे गिरी महेंद्रा जायलो एसयूवी कार के परखच्चे उड़ गए. सभी सात विद्यार्थियों की ऐसी दर्दनाक मौत की खबर कॉलेज को आज, मंगलवार के तड़के मिली. 


इस दर्दनाक दुर्घटना की जानकारी मिलते ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर वर्धा के सभी मृत विद्यार्थियों के अभिभावकों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय सहायता निधि (PMNRF) से मृतकों के अभिभावकों लिए 2 लाख रुपए और जख्मी के लिए 50,000 रुपए की सहायता राशि देने की घोषणा की है. वर्धा के पूर्व सांसद रामदास तड़स जानकारी मिलते ही दुर्घटना स्थल पर पहुंच कर मृतकों के परिजनों की मदद करने का निर्देश दिया.  

मेडिकल कॉलेज के प्रशासकी अधिकारी अभ्युदय मेघे के अनुसार सभी  7 मृत विद्यार्थियों के नाम इस प्रकार हैं-1. नीरज चौहान, एमबीबीएस प्रथम वर्ष 2. नितेश सिंह, इंटर्न 20153. विवेक नंदन, एमबीबीएस फाइनल ईयर 2018 पार्ट-1 4. प्रत्युष सिंह, एमबीबीएस फाइनल पार्ट-2 2017 5. शुभम जायसवाल, एमबीबीएस फाइनल पार्ट-2 2017 6. पवन शक्ति, एमबीबीएस फाइनल पार्ट-1 2020 और 7. आविष्कार राहंगडाले. 

वर्धा
सेलसुरा नदी की पुलिया, जहां से कार 40 फीट नीचे गिरी.

इनमें से एक विद्यार्थी महाराष्ट्र का, तीन उत्तर प्रदेश के, दो बिहार के और एक विद्यार्थी ओड़िसा का है. सात में एक इंटर्न, दो फाइनल ईयर, दो पार्ट-2 के और एक प्रथम वर्ष का था. मृतकों  आविष्कार राहंगडाले महाराष्ट्र के गोंदिया जिले के तिरोड़ा गोरेगांव के विधायक विजय राहंगडाले का पुत्र था. सभी की उम्र 25 से 35 वर्ष के बीच बताई जाती है. बताया गया कि महेंद्रा जायलो एसयूवी कार के ड्राइविंग सीट नीरज सिंह का शव मिला. इससे पता चला कि कार वही चला रहा था.
 
अभ्युदय मेघे ने बताया कि ये सभी विद्यार्थी अपने एक साथी का जन्मदिन मनाने के लिए हॉस्टल से बाहर जाने और जल्द लौट आने की बात बता कर निकले थे. रात 10 बजे तक उनके नहीं लौटने पर खोज शुरू कर दी गई थी. उनके अभिभावकों को भी फोन से उनके देर रात हॉस्टल नहीं लौटने की सूचना दे दी गई थी. लेकिन मंगलवार की तड़के ही दुर्घटना और इसमें मृतकों के सभी विद्यार्थी कॉलेज के ही होने की पुष्टि हो सकी. 

दुर्घटना की जानकारी मिलाने पर वर्धा जिले के सावंगी पुलिस थाने के अधिकारी और एसडीओपी पीयूष जगताप दुर्घटना स्थल पर पहुंचे. आवश्यक पंचनामा कर सभी मृत विद्यार्थियों के शव वर्धा के जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. 

NO COMMENTS