Arogya Setu App : 8 मिलियन लोगों ने सिखा कोरोना ट्रैक करना

0
432
Aarogya Setu App

चार दिन पहले ही लॉन्च किया है भारत सरकार ने; हिंदी, अंग्रेजी सहित 11 भारतीय भाषाओं में उपलब्ध

 
कोरोना वायरस के संक्रमण से पूरी दुनिया में हाहाकार मचा है. इस त्रासदी से लोगों को बचाने के लिए भारत सरकार ने एक कोरोना ट्रैकिंग ऐप लॉन्च किया है. इस ऐप का नाम Aarogya Setu App है. इसे चार दिन पहले ही लॉन्च किया गया है, लेकिन चंद दिनों में ही इस ऐप को 8 मिलियन लोगों ने गूगल प्ले स्टोर से अपने फोन में इंस्टॉल किया है.
Aarogya Setu App
Aarogya Setu App के बारे में आपको बता दें कि यह ऐप लोगों को कोरोना के बारे में यह जानकारी देता है कि आप जिस इलाके में रह रहे हैं या पिछले कुछ दिनों में जिस जगह की यात्रा की है, उसके हिसाब से आपको कोरोना संक्रमण का खतरा है या नहीं और है तो कितना है? अभी तक इस ऐप को तीन दिनों में करीब 8 मिलियन से ज्यादा बार इंस्टॉल किया जा चुका है.

Aarogya Setu App का यूज़ करने का तरीका
स्टेप 1 :- इस ऐप को डाउनलोड करने के लिए आपको पहले अपने फोन के गूगल प्ले स्टोर पर जाना होगा और वहां जाकर आपको Aarogya Setu ऐप को ढूंढना होगा.
 
स्टेप 2 :- ऐप इंस्टॉल करने के बाद आपको भाषा चुनकर Next पर क्लिक करना होगा. फिलहाल, यह ऐप हिंदी और अंग्रेजी समेत 11 भारतीय भाषाओं में उपलब्ध है.
 
स्टेप 3 :- उसके बाद आपको अपने फोन का ब्लूटूथ और लोकेशन का स्विच ऑन करना होगा.
 
स्टेप 4 :- आप अपनी लोकेशन शेयरिंग को हमेशा Always पर करके रखें, ताकि इस ऐप को पता रहे कि आप कब-कब कहां-कहां पर जा रहे हैं.

स्टेप 5 :- इसके बाद इसमें तीन-चार स्लाइड्स हैं, जिसमें COVID-19 के बारे में जानकारी दी गई है. इन जानकारियों को पढ़ने के बाद आप आगे बढ़ें. स्टेप 6:- अब आपको रजिस्टर करने का ऑप्शन आएगा. आपको अपना फोन नंबर आएगा, जिसमें आपको अपना फोन नंबर डालकर उसमें आने वाला ओटीपी डालना होगा.

स्टेप 7:- इसके बाद कुछ टर्म और कंडीशन आपको सामने आएगी, जिन्हें पढ़कर आपको नीचे आने वाले “मैं सहमत हूं” के विकल्प को क्लिक करना होगा.

स्टेप 8:- उसके बाद Aarogya Setu App आपसे आपके फोन के लोकेशन का एक्सेस मांगेगा, उसके Allow करना होगा. इसके बाद आपका फोन में एक नोटिश आएगा, जिसमें लिखा होगा कि वह आपके फोन के संपर्क में आने वाले ब्लूटूथ डिवाइसों को भी 120 सेकेंड के लिए एक्सेस करना चाहता है.

ऐसा इसलिए किया जाता है ताकि आपके फोन के साथ-साथ आपके फोन के आस-पास भी जितने डिवाइस हैं, उनके ब्लूटूथ के जरिए उनके ट्रैवल हिस्ट्री के बारे में भी पता किया जा सकता है और पता चल सकता है कि आपके आस-पास में रहने वाला व्यकित खुद कोरोना संक्रमित तो नहीं है या किसी कोरोना संक्रमित जगहों से तो नहीं आया है.

स्टेप 9 :- इसके बाद आपको वहां पर व्यक्तिगत विवरण भरना होगा. जिसमें नाम, उम्र, व्यवसाय भरना होगा. इसके बाद आपको पूछा जाएगा कि आपने पिछले 30 दिनों में किन देशों की यात्रा की है.

स्टेप 10 :- अगर आपने किसी भी देश की यात्रा नहींं की है तो आप None को भर दें, और अगर करा हैं तो उन देशों के नाम के आगे टिक कर दें और इसके बाद सब्मिट करें. COVID-19 का सेल्फ टेस्ट इसके बाद आपके फोन में लिखा आएगा कि आप सुरक्षित हैं या आपको कोरोना वायरस से संक्रमित होने का खतरा है.

उसके नीचे आपको COVID-19 सहायता केंद्र और सेल्फ असेसमेंट टेस्ट का विकल्प भी होगा. सेल्फ असेसमेंट टेस्ट में क्लिक करने के बाद आपको कुछ सवालों के जवाब देने होंगे, जिसके बाद आपको ये ऐप बता देगा कि आप कोरोना वायरस से सुरक्षित हैं या नहीं. अगर आपको मदद की जरूरत है तो आप COVID-19 सहायता केंद्र पर क्लिक कर सकते हैं और अपने लिए सहायता मंगवा सकते हैं.

आप ध्यान रखें कि आपके फोन का लोकेशन शेयरिंग हमेशा Always मोड में रहे और ब्लूटूथ भी हमेशा ऑन रखें. अगर भविष्य में भी कभी आपके संपर्क में कोई कोरोना व्यक्ति आएगा तो यह Aarogya Setu App आपको नोटिफिकेशन के जरिए सूचित करेगा.

NO COMMENTS