विश्व सिंधी सेवा संगम का प्रदेश महासम्मेलन 23 नवंबर को

0
67
सिंधी सेवा

राज्य स्तरीय बैठक में महत्वपूर्ण निर्णय

नागपुर : अंतरराष्ट्रीय संस्था ‘विश्व सिंधी सेवा संगम’ के महाराष्ट्र प्रदेश महासम्मेलन का आयोजन अमरावती में किया जाएगा. यह प्रस्ताव बैठक में सर्वसम्मति से पारित किया गया. तीन दिवसीय सम्मेलन की तारीख 23, 24 और 25 नवंबर तय की गई. यह आयोजन अंतरराष्ट्रीय संस्था विश्र्व सिंधी सेवा संगम द्वारा अंतराष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. राजू मनवानी की अध्यक्षता में होगा, पूरे प्रदेश से हजारों की संख्या में सिंधी बंधुओं को आमंत्रित किया जाएगा. यह जानकारी महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष सुनील सचदेव ने दी.
सिंधी सेवा
विश्र्व सिंधी सेवा संगम की महत्वपूर्ण बैठक मंगलवार को नागपुर के वर्धा रोड स्थित होटल सुखकर्ता के सभागृह में संपन्न हुई. महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष सुनील सचदेव, महाराष्ट्र उपाध्यक्ष नानकराम नेभनानी, विदर्भ अध्यक्ष जेसामल मोटवानी, नागपुर महानगर और जिला अध्यक्ष प्रताप मोटवानी के साथ प्रत्येक जिले से अध्यक्ष एवं पदाधिकारी उत्साह से बैठक में उपस्थित थे. सिंधी समाज और सिंधीयत के हित में अनेक विषयों पर उपस्थितों ने विचार रखे. बैठक में राज्य स्तरीय महासम्मेलन आयोजित करने का सुझाव सामने आया.  

बताए उद्देश्य और किया आह्वान
बैठक में अंतरराष्ट्रीय संस्था विश्र्व सिंधी सेवा संगम के गठन के महत उद्देश्यों से सभी पदाधिकारियों, जिला अध्यक्षों को अवगत कराया गया. संगठन का उद्देश्य सिंधी बोली भाषा को प्रोत्साहन देना, सिंधी समाज के बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित करना और हर संभव सहायता उपलब्ध कराना, सिंधी समाज में धर्मांतरण रोकना, समाज में व्याप्त कुरीतियों को रोकना तथा समाज के प्रतिभाओं को मंच उपलब्ध कराने की दृष्टि से सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन है.

विदर्भ अध्यक्ष जैसाराम मोटवानी ने बताया रजिस्टर्ड संस्था विश्व सिंधी सेवा संगम की पूरे देश मे तथा करीब 42 देशों में संगठन कार्यरत है. इसका मुख्य कार्यालय मुम्बई में है. जगदीश मिहानी ने भी समाज हित में सुझाव दिए.

राजनीति में आगे आएं
बैठक में सिंधी समाज के हित में अनेक विषयों और मुद्दों पर मान्यवरों ने बेबाकी से विचार रखे. कहा गया कि समाज को आगे बढाने के लिए गरीब तबकों और वर्गों की भरपूर सहायता की जानी चाहिए. उसी प्रकार समाज उत्थान के विविध उपक्रमों पर चर्चा हुई. साथ ही राजनीति के क्षेत्र में समाज बंधुओं को आगे बढ़ाने पर विचार हुआ. सभी ने राय रखी कि राजनीतिक क्षेत्र में समाज के लोगों को आगे आना चाहिए. इससे व्यापक परिवर्तन का लक्ष्य साध्य किया जा सकता है. ऐसे ही राजनीति में कदम रखनेवाले समाजबंधु-भगिनी का एकजुट होकर साथ देने का विचार भी सेवा संगम की नागपुर बैठक में प्रमुखता से रखा गया। नागपुर जिला अध्यक्ष प्रताप मोटवानी ने बताया कि अतिशीघ्र नागपुर जिले के सभी पदाधिकारियों की लिस्ट जारी की जाएगी और सिंधी समाज के लिए पुरजोर तरीके से कार्य किए जाएंगे.

सत्कार किया
बैठक में आयोजकों की तरफ से विश्र्व सिंधी सेवा संगम के महाराष्ट्र अध्यक्ष एवं  सुनील सचदेव, महाराष्ट्र उपाध्यक्ष  नानकराम नेभनानी, विदर्भ अध्यक्ष जेसामल मोटवानी, नागपुर महानगर और जिला अध्यक्ष प्रतापराय मोटवानी आदि का शाल, श्रीफल और पुष्पगुच्छ देकर स्वागत सत्कार किया गया.

सभी का सत्कार कर जीता दिल  
विश्र्व सिंधी सेवा संगम की इस बैठक में सर्वश्री विश्र्व सिंधी सेवा संगम के गोदिंया जिला अध्यक्ष भगतराम ठकरानी, वर्धा जिला अध्यक्ष जगदीशभाई मिहानी, गढ़चिरोली जिला अध्यक्ष मोतीराम जेठानी, भंडारा जिला अध्यक्ष राजकुमार शादीजा, अमरावती जिला अध्यक्ष हरीश सुंदरानी, वाशिम जिला अध्यक्ष पुरणलाल बदलानी, भंडारा से राजकुमार भोजवानी, वाशिम से बंशीलाल बदलानी, नागपुर से अमरलाल वीरवानी और गोंदिया से दर्यानो आसवानी की उत्साहपूर्ण उपस्थिति रही. आयोजकों ने अनूठे अपनत्व का एहसास कराते हुए सभी का शाल, श्रीफल देकर सम्मान कर लोगों का दिल जीत लिया. सम्मेलन की घोषणा से सेवा संगम के पदाधिकारी और सभासदों में उत्साह भी नजर आया. जिससे अंबानगरी का महासम्मेलन शानदार होने के संकेत मिले.

NO COMMENTS