सिंधी समाज को मिले उनके लीज भूखंडों के मालिकी पट्टे

0
509
मालिकी
नागपुर सेंट्रल सिंधी पंचायत के अध्यक्ष प्रताप मोटवानी ने सोमवार को सिंधु नगर, जरीपटका में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री फड़णवीस का स्वागत पुष्पगुच्छ भेंट कर किया.

नागपुर सेंट्रल सिंधी पंचायत ने किया मुख्यमंत्री का सत्कार

नागपुर : महाराष्ट्र के सिंधी समाज के लोगों को लीज भूखंडों के मालिकी पट्टे का वितरण की शुरुआत मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने नागपुर में की. इसके साथ ही अब पूरे राज्य के सिंधी समाज की यह मांग पूरी करने की दिशा में राज्य सरकार ने कार्रवाई शुरू कर दी है. इससे पूरे महाराष्ट्र के सिंधी समाज में बेहद खुशी की लहर रही.

नागपुर के 300 लोगों को मिले पट्टे
मुख्यमंत्री ने मालिकी पट्टों का वितरण यहां सोमवार को जरीपटका के सिंधुनगर में आयोजित भव्य समारोह किया. नागपुर के सिंधी समाज के लगभग तीन सौ लोगों को भूकंडों के मालिकी पट्टे दिए गए. बताया गया कि नागपुर में ऐसे तीन दो हजार से अधिक लोगों को पट्टे देने हैं. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने बताया कि पिछले 5-7 वर्षों में पाकिस्तान से आए सिंधी और अन्य लोगों की देश की नागरिकता के आवेदन का निष्पादन भी केंद्र सरकार का गृह मंत्रालय करता जा रहा है. इस दौरान अनेक लोगों को नागरिकता भी प्रदान की गई.

भूखंडों का मिला स्वामित्व
लीज भूखंडों का वितरण देश के विभाजन के बाद सिंध प्रांत से आए सिंधी समाज के लोगों को राज्य सरकार की ओर से किया गया था. लेकिन उन्हें भूखंडों की मालिकी नहीं दी गई थी. अब वे एक तरह से किराए पर मिले भूखंड के मालिक हो गए हैं. अर्थात उन भूखंडों का स्वामित्व उन्हें प्राप्त हो गया है. सिंधी समाज पिछले अनेक वर्षों से इसकी मांग कर रहा था.

मोटवानी ने सिंधी समाज की ओर से मुख्यमंत्री का किया सत्कार
जरीफटका में सोमवार की शाम आयोजित कार्यक्रम में नागपुर सेंट्रल सिंधी पंचायतसिंधी समाज के अध्यक्ष प्रताप मोटवानी ने मुख्यमंत्री फड़णवीस का स्वागत बुके देकर किया. उन्होंने नागपुर के सिंधी समाज की तरफ से मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया और आभार माना.

ऐतिहासिक और यादगार दिन
मोटवानी ने कहा कि सिंधी समाज के लिए यह दिन एक ऐतिहासिक और यादगार दिन बन गया है. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद सिंधी समाज को मिले लीज पर मिले भूखंडों की मालिकी देने की हमारी मांग बहुत पुराणी है. लेकिन यह मांग भाजपा शासन और मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस के द्वारा ही संभव हुआ है. उन्होंने कहा कि वे मुख्यमंत्री का यह स्वागत पूरे महाराष्ट्र के सिंधी समाज की तरफ से कर रहे हैं. दादा घनश्यामदास कुकरेजा, डॉ. विन्की रुघवानी, प्रो. विजय केवलरामनी ने भी सिंधी समाज की तरफ से मुख्यमंत्री का सत्कार किया.

सिंधी समाज को भूखंडों के मालिकी पट्टे मुख्यमंत्री के हाथों वितरित कराने के कार्यक्रम को साकार करने के लिए युवा नेता विकीभाई कुकरेजा का प्रमुख योगदान रहा. उनकी मेहनत से यह कार्यक्रम साकार हुआ. सिंधी समाज की ओर से उनका भी सत्कार किया गया.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY