बांग्लादेशी और नेपाल की कई महिलाओं को भी जबदस्ती रखे हुए था ब्रजेश ठाकुर

0
189

सीमा सिन्हा
पटना :
मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड का मुख्य अभियुक्त ब्रजेश ठाकुर संस्था सेवा संकल्प की आड़ में विदेशी महिलाओं को भी अपना शिकार बनाता था. उसने अल्पावास गृह में बांग्लादेश और नेपाल की कई महिलाओं को जबदस्ती रखे हुए था. उन्हें भी देह व्यापार में शामिल होने के लिए दबाव बनाया जाता था. उनके साथ भी मारपीट की जाती थी.

ब्रजेश पर प्राथमिकी दर्ज होने के बाद अल्पावास गृह को बंद कर दिया गया है. हिंसा से पीड़ित 16 महिलाओं को बेगूसराय अल्पावास गृह में रखा गया है. वहां की एक बांग्लादेशी महिला को ब्रजेश ठाकुर अपने पास रखे हुए था. उस महिला ने बताया कि तीन साल पहले वह फ्लाइट से पटना आई थी, रात हो गई थी. वह ऑटो से हाजीपुर जा रही थी. रास्ते में ऑटो में ही उसे नशा सूंघा दिया गया. जब होश में आई तो खुद को मुजफ्फरपुर के अल्पावास गृह में पाया. महिला के अनुसार ब्रजेश की खासम-ख़ास मधु ने उसका पासपोर्ट और वीजा भी छीन लिया था. कभी-कभी मोबाइल से घर पर बात करवाती थी. बांग्लादेशी महिला का बैंक पासबुक और पैसा भी छीन लिया गया था.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY