इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक का शुभारंभ किया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने

0
124

अपने फोन से मैसेज भेजकर अपना खाता खोला, घर बैठे ही पैसा जमा कराने और निकालने की सुविधा मिलेगी

नई दिल्ली : केंद्र सरकार के इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) का शुभारंभ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम पहुंच कर किया. इस दौरान सबसे पहले पीएम मोदी ने अपने फोन से मैसेज भेजकर अपना खाता खोला.

डाकिया अब चलता-फिरता बैंक बना
केंद्र सरकार आज से इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) के जरिए उन लोगों के द्वार तक बैंकिंग सुविधाएं मुहैया करा रही है, जो अभी तक ऐसी सेवाओं से वंचित हैं. चूंकि डाकघरों पर लोगों का भरोसा है और ये उनकी पहुंच में भी हैं, इसलिए सरकार ने यह योजना बनाई है. इसके जरिए डाकिया अब चलता-फिरता बैंक बन गया है.

मात्र आधार कार्ड से खुल जाएगा खाता
इससे घर बैठे ही पैसा जमा कराने और निकालने की सुविधा मिलेगी. मात्र आधार कार्ड से खाता खुल जाएगा. पीएम मोदी ने बताया कि केवल एक मैसेज कर देने भर से डाकिया घर आकर पैसा ले जाएगा और दे जाएगा. इसके जरिए बचत खाते में 4% ब्याज भी मिलेगा. इसमें न्यूनतम राशि रखने की कोई बाध्यता नहीं है. देश के 650 जिलों में ये सेवा मिलेगी.

650 शाखाएं, 17 करोड़ खातों से शुरुआत
बड़े पैमाने पर शुरू होने वाली इस सेवा में 650 शाखाएं शामिल होंगी और 17 करोड़ खातों के साथ यह अपनी बैंकिंग शुरू करेगा. इससे ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को बड़े पैमाने पर फायदा होगा. आईपीपीबी बैंकिंग सेवा डाकघरों के लिए मील का पत्थर साबित होगा.

पहले जिन लोगों के पीछे बैंक भागते थे, अब वो बैंकों के पीछे भागेंगे
पीएम मोदी ने कहा कि डाक भारतीय इतिहास का हिस्सा है, इसीलिए डाकिया पर विश्वास बना रहेगा. उन्होंने कहा कि अब डाकिया बैंक लाया. नई तकनीक को सराहते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक नई ओर अद्भुत व्यवस्था साबित होगी. इसके जरिए ग्राहकों को अपने पासवर्ड और पिन को याद रखने की जरूरत नहीं रहेगी. पीएम मोदी ने नीरव, माल्या जैसे लोगों का उदाहरण देते हुए कहा कि पीएम मोदी ने कहा कि पहले जिन लोगों के पीछे बैंक भागते थे, अब वो बैंकों के पीछे भागेंगे.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY