स्वतंत्रता दिन पर पुलगांव में निकली भव्य ‘संविधान सम्मान रैली’

0
1780

जंतर-मंतर पर असामाजिक तत्वों द्वारा संविधान की प्रति जलाने के दुष्कर्म का कड़ा विरोध

अश्विन शाह
पुलगांव (वर्धा) :
स्वतंत्रता दिन पर बुधवार, 15 अगस्त को यहां विभिन्न सामाजिक संगठनों और सर्वधर्मीय नागरिकों ने “संविधान सम्मान रैली” का आयोजन किया. इसके साथ ही पिछले दिनों देश की राजधानी नई दिल्ली के जंतर-मंतर पर संविधान की प्रति जलाकर संविधान की घोर अवमानना का कड़ा विरोध किया गया. रैली में मांग की गई कि ऐसे असामाजिक तत्वों को गिरफ्तार कर उनपर कड़ी से कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाए.

रैली का नेतृत्व कुंदन जांबुलकर, प्रमोद नितनवारे, प्रकाश टेंभुर्णे, चंद्रकलाबाई डोईफोड़े, जमनाबाई खोड़े, रितेश मड़ावी, नितिन सोमकुंवर, चंद्रकांत पवार आदि ने किया. संविधान की प्रति के प्रतीक को तिरंगे के बोर्ड के मध्य अशोक चक्र पर लगा कर एक ट्रक पर बहुत ही सुन्दर ढंग से फूलों से सजाया गया था. साथ ही रैली में शामिल हजारों की संख्या में सभी आयुवर्ग के स्त्री-पुरुष, युवा-बच्चे और बुजुर्ग ‘संविधान अमर रहे’ के नारे लगाते हुए चल रहे थे. घोड़े पर सवार शहीद भगत सिंह की के रूप में युवक आगे चल रहे थे. सैकड़ों तिरंगा रैली में शामिल लोगों के हाथों में लहरा रहे थे.

संविधान सम्मान रैली की शुरुआत पुलगांव के बुद्ध विहार परिसर से हुई. इसके बाद नगरपालिका पहुंच कर डॉ. बाबासाहब आंबेडकर की प्रतिमा को माल्यार्पण किया गया. वहां से साप्ताहिक बाजार चौक, भगत सिंह चौक से होते हुए स्टेशन के समीप तिलक चौक पहुंची. वहां से पुलिस स्टेशन में नई दिल्ली के जंतर-मंतर पर संविधान की प्रति जलाकर संविधान की घोर अवमानना करने वालों को गिरफ्तार कर उन पर कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की मांग का निवेदन थाना प्रभारी को सौंपा गया. इसके उपरान्त रैली वापस बुद्ध विहार पहुंची, जहां संविधान की रक्षा की शपथ के साथ रैली का समापन हुआ.

पुलगांव में लहराया तिरंगा
इसके पूर्व नगराध्यक्ष शीतल संजय गाते ने नगरपालिका में नगरसेवकों, अधिकारियों और कर्मचारियों की उपसिहिति में राष्ट्रीय ध्वज फहराया. तहसील कार्यालय में तहसीलदार राठौड़ ने सभी अधिकारियों और कर्मचारयों के साथ ध्वजारोहण किया. गांधी चौक पर युवा नेता विलास कड़ु ने तिरंगा फहराया. भगत सिंह चौक पर ज्येष्ठ नेता रमेश शर्मा ने राष्ट्रीय तिरंगा फहराया. साथ ही तुकड़ोजी चौक पर व्यापारी संघ के पंकज पड़रिया ने ध्वज फहराया.

NO COMMENTS