पूर्व मंत्री हैवीवेट नेता सतीश चतुर्वेदी कांग्रेस से निष्काषित

0
2591

प्रदेशाध्यक्ष अशोक चव्हाण पर स्याही फेंकवाने, पार्टी विरोधी कार्य करने का आरोप

नागपुर : पार्टी विरोधी कार्य करने और पार्टी अनुशासन भंग करने के आरोप में पूर्व मंत्री एवं नागपुर के हैवीवेट नेता सतीश चतुर्वेदी को कांग्रेस ने पार्टी से निष्काशित दिया है. पार्टी ने उनकी प्राथमिक सदस्यता रद्द कर दी है. कांग्रेस की ओर से प्रदेश कांग्रेस महामंत्री अधि. गणेश पाटिल ने गुरुवार को पार्टी का यह आदेश अपने हस्ताक्षर से जारी किया.

कारण बताओ नोटिस का जवाब भी नहीं दिया

पूर्व मंत्री रहे विदर्भ के किसी नेता को इस प्रकार कांग्रेस द्वारा पार्टी से निकाले जाने की यह पहली घटना है. इस कार्रवाई से चतुर्वेदी को भारी धक्का पहुंचा है. वे प्रदेशाध्यक्ष अशोक चव्हाण के विरोध में सक्रीय थे. उन्होंने पार्टी से पिछले 25 जनवरी को जारी कारण बताओ नोटिस का जवाब देना भी जरूरी नहीं समझा था. उनके विरुद्ध शहर कांग्रेस अध्यक्ष विकास ठाकरे ने अपनी रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस भेजकर उन्हें पार्टी से की थी. लेकिन चतुर्वेदी ने इस चुनौती देते हुए मानकर चल रहे थे कि उनका कोई कुछ बिगाड़ नहीं सकता.

प्रदेशाध्यक्ष चव्हाण पर स्याही फेंकवाने का आरोप

चतुर्वेदी पर नागपुर महापालिका चुनाव की पार्टी की प्रचार सभा के दौरान प्रदेशाध्यक्ष अशोक चव्हाण पर स्याही फेंकवाने के साथ ही उम्मीदवार चयन प्रक्रिया पर विवाद पैदा करने, कांग्रेस के अधिकृत उम्मीद्वार की जगह बागी उम्मीदवारों की मदद करने और उनका प्रचार करने के साथ अन्य पार्टी विरोधी कार्य करने के आरोप हैं.

शहर अध्यक्ष ठाकरे, पूर्व केंद्रीय मंत्री मुत्तेमवार की स्थिति सुदृढ़

निष्काशन से नागपुर शहर अध्यक्ष विकास ठाकरे का पक्ष अब मजबूत हुआ है. साथ ही पूर्व मंत्री विलास मुत्तेमवार की स्थिति भी सुदृढ़ हुई है.

NO COMMENTS