सेन्ट्रल जेल के चार कैदियों की मौत की जांच होगी

0
1248
सेन्ट्रल

संबंधितों को सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट के समक्ष जानकारी 21 अप्रैल तक प्रस्तुत करने का निर्देश

 
नागपुर : नागपुर सेन्ट्रल जेल के चार कैदियों मौत 12 दिसंबर 2021 से 17 जनवरी 2022 के बीच उपचार के दौरान हुई थी. सभी की मृत्यु नागपुर के सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हुई थी.

इन कैदियों की मौत के कारणों की जांच शुरू की जा रही है.

सेन्ट्रल जेल के इन मृत कैदियों में एक दिल्ली, एक मुंबई और दो नागपुर के थे. 

जिला प्रशासन ने अब इन सेन्ट्रल जेल के चारों कैदियों की मृत्यु की जांच के आदेश दिए हैं. कलेक्टर आर. विमला ने इस जांच के लिए सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट (अनुमंडल पदाधिकारी) शेखर घाडगे के समक्ष साक्ष्य अथवा जानकारी प्रस्तुत करने का आदेश दिया है. जिलाधिकारी कार्यालय द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि जिन लोगों को घटना की प्रत्यक्ष जानकारी है और जो जांच में भाग लेना चाहते हैं, वे शपथ-पत्र के साथ कमरा नं.1 अनुमंडल पदाधिकारी शेखर घाडगे के कार्यालय में प्रतिवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं. प्रतिवेदन 21 अप्रैल, 2022 तक या इससे पूर्व जमा करना होगा.

सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट कैदी की मौत के कारणों और परिस्थितियों, मृतक की मौत के अन्य सहवर्ती कारणों, जैसे सरकार द्वारा देरी और झूठी रिपोर्ट की भी जांच करेंगे.

सेन्ट्रल जेल के मृत कैदियों के नाम इस प्रकार हैं- राजेश हीरालाल शर्मा (46 वर्ष) निवासी-एफ-56 तीसरा माला, विश्वकर्मा कॉलोनी, सूरजकुंड, दिल्ली की मृत्यु 12 दिसंबर 2021 को, गोपाल भाऊरावजी तरार (59), निवासी-नेरी, मानकर, हिंगना, जिला नागपुर की मृत्यु 17 जनवरी 2022 को. जयनाथ संतलाल जायसवाल (66 वर्ष), निवासी तुलीसपाड पाईपलाईन मॉर्डन चाल, मुंबई पश्चिम की मृत्यु 31 दिसंबर 2021 को और विष्णु रामकृष्ण ढोमने (63 वर्ष) निवासी-यादव नगर, इंदिरा नगर नागपुर का निधन 18 दिसंबर 2021 को.

सामाजिक न्याय विभाग के छात्रावास में 8 अप्रैल को स्पॉट एडमिशन
पिछड़ा वर्ग के छात्रों के लिए सामाजिक न्याय एवं विशेष सहायता विभाग द्वारा संचालित शासकीय छात्रावास के पूर्व एवं वर्तमान शैक्षणिक सत्र की प्रवेश प्रक्रिया पूर्ण कर ली गई है. आगामी 8 अप्रैल को इच्छुक छात्रों को अब  छात्रावास में स्पॉट एडमिशन दिया जाएगा.

जिन्होंने सरकारी छात्रावास में प्रवेश के लिए आवेदन करने वाले छात्रों से कहा गया है कि वे कार्यालय-सहायक आयुक्त, समाज कल्याण, सामाजिक न्याय भवन, शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान, श्रद्धानंद पेठ, नागपुर में 8 अप्रैल को दोपहर 12 बजे स्पॉट प्रवेश के लिए आवश्यक दस्तावेजों के साथ उपस्थित हों.

सहायक आयुक्त समाज कल्याण बाबासाहेब देशमुख ने कहा है कि यदि छात्र निर्धारित तिथि पर उपस्थित नहीं होंगे तो उनके प्रवेश की पुष्टि नहीं की जाएगी और पूरी जिम्मेदारी छात्रों की होगी. अधिक जानकारी के लिए सरकारी छात्रावास पिछड़ा वर्ग, रहाटे कॉलोनी, वर्धा रोड, नागपुर में संपर्क कर सकते हैं.

NO COMMENTS