डिमांड पूरी नहीं की तो व्हाट्सएप पर दे डाला तलाक

0
955
डिमांड

*सीमा सिन्हा,
पटना (सुपौल बिहार), :
पांच लाख की डिमांड पूरी नहीं करने पर एक महिला को शौहर द्वारा दो बार तलाक लिखकर व्हाट्सएप पर भेजे जाने को लेकर महिला, पति के खिलाफ थाने जा पहुंची है. महिला के अनुसार बिना जानकारी दिए शौहर ने उसके साथ दूसरी शादी की थी. पहली को भी उसने डिमांड पूरी नहीं करने पर छोड़ा था. अब 5 लाख रुपए की अपनी डिमांड पूरी नहीं कर पाने पर शौहर ने महिला के भाई के व्हाट्सअप पर तलाक-तलाक लिख कर भेज दिया है और अब तीसरी शादी भी रचा चुका है. उसने राज्य के सुपौल जिले के वीरपुर थाने में अपनी यह शिकायत दर्ज कराई है. 

महिला, कुमयाही वार्ड नंबर 12, लौकही थाना भंटाबारी, जिला सुनसरी नेपाली की रहने वाली रिजवाना खातून है. उसने हमारे संवाददाता को बताया कि 23 अगस्त 2019 को मुस्लिम रीति-रिवाज के साथ मेरी शादी भीमनगर ओपी क्षेत्र के कटैया वार्ड नंबर 3 निवासी तारिक अनवर से हुई थी. ससुराल में शादी के तीन माह बीतने के बाद ही ससुर मु. समसुल, सास सवेरा खातून, भैंसुर मु. हारुन, मु. तनवीर, मु. अयाज अली, मु. असलम सभी ने मिलकर शारीरिक रूप से प्रताडि़त करना शुरू कर दिया. कई दिनों तक भूखे-प्यासे बांधकर रखा गया. और तो और सभी मिलकर साड़ी के फंदे से मुझे फांसी लगाने का प्रयास भी किया था.

रिजवाना ने बताया कि मैं किसी तरह ग्रामीणों की मदद से वहां से अपनी जान बचाई. उसने बताया कि मेरे पति ने मुझसे पहले भी एक शादी की थी. डिमांड पूरा नहीं होने पर पहली बीवी को भी उन्होंने तलाक देकर छोड़ दिया था. मुझे और मेरे परिवार वालों को उनकी पहली शादी की जानकारी नहीं थी, इसलिए मेरे माता-पिता ने इसके साथ मेरी शादी कर दी.

रिजवाना के अनुसार उसके माता-पिता ने पंचायत के मुखिया मु.अख्तर को घटना की जानकारी दी पर उन्होंने भी पंचायत करने से इनकार कर दिया. उसके ससुराल वाले उसके पिता से पांच लाख रुपए की मांग कर रहे थे. उनका कहना था कि दहेज में पांच लाख रुपए मिलेगा, तभी तुमको रखूंगा. अपनी मांगों को पूरा नहीं होते देख उनका जोर-जुल्म बढ़ता ही गया. उसे ससुराल से भाग कर अपनी जान बचानी पड़ी थी.

रिजवाना ने बताया कि भाग कर मायके आ जाने और 5 लाख रुपए की डिमांड पूरी नहीं करने पर उसका शौहर उसके भाई के मोबाइल के व्हाट्सएप पर दो बार तलाक लिखकर भेज दिया और गुरुवार को तीसरी शादी फिर से रचा ली है.

इसके बाद मजबूर होकर रिजवाना को कानून की शरण में आना पड़ा. उसने बताया की शौहर और उनके परिवार अपनी आदत और नियत से बहुत ही बुरे हैं, दहेज के लोभी हैं. शादी के बाद से ही ससुराल के लोगों ने रिजवाना को प्रताड़ित करना शुरू कर दिया था और दहेज की मोटी राशि लाने की मांग कर रहे थे.

इधर वीरपुर के थानाध्‍यक्ष राजेश कुमार ने बताया कि पीड़िता की ओर से शिकायत मिली है. मामले की जांच के बाद दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी.

NO COMMENTS