हिंदी पुस्तक लेखन : कर्मियों को वेकोलि देगी एक लाख का पुरस्कार

0
1629
कर्मियों
वेकोलि में हिन्दी दिवस का ऑनलाइन उद्घाटन करते हुए अध्यक्ष- सह- प्रबंध निदेशक राजीव रंजन मिश्र. 

हिंदी दिवस पर ‘राजभाषा पखवाड़ा-2020’ का शुभारम्भ

नागपुर : वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (वेकोलि) में राष्ट्रभाषा हिंदी के विकास और कर्मियों में हिंदी के प्रति प्रेम और हिंदी में काम करने की लगन और हिंदी में अपनी रचनात्मकता बढ़ाने लिए आकर्षक पुरस्कारों की घोषणा की गई है. कंपनी के अध्यक्ष- सह -प्रबंध निदेशक राजीव रंजन मिश्र ने कहा कि इसके अंतर्गत सोशल मीडिया पर हिंदी में सर्वाधिक सक्रिय रहने वाले कर्मी जहां पुरस्कृत किए जाएंगे, वहीं हिंदी में कार्यालयीन कामकाज में सहायक रचनाएं लिखने वाले अथवा अन्य भारतीय भाषाओं की पुस्तकों और रचनाओं का हिंदी में अनुवाद करने वालों को एक लाख रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा. इस घोषणा का चतुर्दिक स्वागत किया जा रहा है.
कर्मियों
इससे पूर्व 14 सितंबर को वेकोलि मुख्यालय में “हिंदी दिवस” अंतर्गत “राजभाषा पखवाड़ा-2020” का ऑनलाइन शुभारम्भ हुआ. अध्यक्ष- सह- प्रबंध निदेशक एवं मुख्य अतिथि मिश्र ने ऑनलाइन उदघाटन किया.

उद्घाटन सत्र के अवसर पर अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक ने सभी को “हिंदी दिवस” पर शुभकामनाएं देते हुए कहा कि नराकास-2 की जिम्मेदारी मिलने से हिंदी के प्रति हमारा दायित्व और बढ़ गया है. मिश्र ने राजभाषा पखवाड़ा के दौरान सोशल मीडिया पर सर्वाधिक हिंदी का उपयोग करने वालों को पुरस्कृत करने की घोषणा की. उन्होंने सभी से अधिक से अधिक कार्यालयीन कामकाज राजभाषा हिंदी में करने का आह्वान किया.
कर्मियों
एक लाख के पुरस्कार की घोषणा
मिश्र ने वेकोलि कर्मियों को प्रोत्साहित करने के लिए कार्यालयीन कामकाज में सहायक मूल अथवा हिंदी में अनुदित पुस्तक लेखन के लिए एक लाख के पुरस्कार की घोषणा की. उन्होंने कम्पनी कर्मियों से हिंदी में अधिकाधिक काम करने का आह्वान करते हुए घोषणा की कि सोशल मीडिया (फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब) पर हिंदी का सर्वाधिक उपयोग करने वाले को पुरस्कृत किया जाएगा. राजभाषा पखवाड़ा (14-28 सितंबर, 2020) के दौरान सोशल मीडिया पर कंपनी स्तर पर हिंदी में सर्वाधिक पोस्ट और टिप्पणी आदि करने वाले तीन कर्मियों को प्रथम, द्वितीय और तृतीय पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा.

इस अवसर पर निदेशक (कार्मिक) डॉ. संजय कुमार ने कहा कि सभी को साल भर हिंदी में काम करना चाहिए. उन्होंने राजभाषा में संवर्धन के लिए आधुनिक तकनीक का उपयोग करने की बात पर विशेष रूप से बल दिया.

महाप्रबंधक (कार्मिक) एवं राजभाषा प्रमुख आर.जी. गेडाम ने स्वागत भाषण दिया. इस अवसर पर में माननीय केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और संसदीय कार्य, कोयला एवं खान मंत्री प्रल्हाद जोशी के हिंदी दिवस पर प्राप्त संदेशों का वाचन क्रमशः प्रभाकर देशपांडे, महाप्रबंधक (कार्मिक), औद्योगिक संबंध विभाग और श्रीराम वेमुलकोंडा, महाप्रबंधक (कार्मिक) सामान्य सेवा एवं विधि विभाग ने किया.

कार्यक्रम में मनोज कुमार, निदेशक तकनीकी (संचालन), अजित कुमार चौधरी, निदेशक तकनीकी (योजना एवं परियोजना), आर.पी. शुक्ला निदेशक (वित्त), अमित कुमार श्रीवास्तव, मुख्य सतर्कता अधिकारी सहित सभी विभागाध्यक्ष एवं क्षेत्रीय महाप्रबंधक ऑनलाइन शामिल हुए. कार्यक्रम का संचालन डॉ. मनोज कुमार, सहायक प्रबंधक (राजभाषा/जनसंपर्क) ने किया.

14 से 28 सितंबर 2020 तक राजभाषा पखवाड़ा के दौरान वेकोलि में विभिन्न प्रतियोगिताएं ऑनलाइन आरंभ कर दी गईं हैं.

NO COMMENTS