सुशांत केस : महाराष्ट्र सरकार को बड़ा झटका, जांच CBI के हवाले

0
1143
CBI

रिया चक्रवर्ती की मांग खारिज कर सुप्रीम कोर्ट ने जांच CBI को सौंपी

 
नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को झटका देते हुए सुशांत सिंह राजपूत केस में मामले की जांच केंद्रीय जांच एजेंसी CBI को दे दी है. महाराष्ट्र सरकार लगातार इस मामले में सीबीआई जांच का विरोध कर रही थी और उसका कहना था कि मामला मुंबई पुलिस के पास ही रहने दिया जाए. अदालत का फैसला आने के बाद महाराष्ट्र सरकार ने जांच सीबीआई को ट्रांसफर करने के फैसले को चुनौती देने के लिए स्वतंत्रता मांगी, जिससे सुप्रीम कोर्ट ने इंकार कर दिया है. यानी कि महाराष्ट्र सरकार सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले को चुनौती भी नहीं दे पाएगी.

पटना में FIR दर्ज करना, बिहार सरकार का CBI जांच की सहमति देना सही : SC
शीर्ष अदालत ने अपने फैसले में पटना में एफआईआर और सीबीआई जांच के लिए बिहार सरकार की अनुशंसा को सही ठहराते हुए मुंबई पुलिस को निर्देश दिया है कि वह अब तक जुटाए गए सभी सबूत और दस्तावेज CBI को सौंपे. कोर्ट ने कहा है कि ‘महाराष्ट्र सरकार कोर्ट के आदेश का पालन करे और सहायता करे’.
CBI
ज्ञातव्य है कि एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती ने पटना में अपने खिलाफ दर्ज FIR मुंबई ट्रांसफर करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर किया था. कोर्ट ने आज, बुधवार को यह फैसला सुनाया है. फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने साफ कर दिया कि मामले की जांच CBI करेगी. कोर्ट ने पटना में दर्ज FIR को सही ठहराया है.

उल्लेखनीय है कि रिया चक्रवर्ती ने पहले स्वयं गृह मंत्री से सुशांत केस की जांच CBI से कराने की मांग की थी. बाद में जब सुशान के पिता कृष्ण किशोर सिंह ने उसके खिलाफ पटना में मामला दर्ज कराया तो उसके वकील ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर पटना में दायर केस को मुंबई पुलिस को ट्रांसफर करने की मांग की याचिका शीर्ष अदालत में दायर कर दिया था. आज का फैसला रिया की याचिका पर ही आया है. यह फैसला मुंबई पुलिस के साथ रिया के लिए भी बड़ा झटका माना जा रहा है.

सच्चाई की जीत : अंकिता लोखंडे की प्रतिक्रिया  
सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर पर सुशांत सिंह राजपूत की एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे ने प्रतिक्रिया व्यक्त की है. अंकिता लोखंडे ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर रिएक्ट करते हुए लिखा, “न्याय की कार्रवाई में सच्चाई है. सच्चाई की जीत.”

Instagram पर यह पोस्ट देखें

Justice is the truth in action 🙏🏻 Truth wins …. #1ststeptossrjustice

को Ankita Lokhande (@lokhandeankita) द्वारा साझा की गई पोस्ट


सुब्रमणियम स्वामी की प्रतिक्रया 
सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री सुब्रमणियम स्वामी ने भी फैसले पर प्रतिक्रया व्यक्त की है. उन्होंने ट्वीट कर कहा है- ‘CBI jay ho’


दो राज्यों के बीच उलझे इस मामले पर जस्टिस हृषिकेश रॉय की बेंच ने फैसला सुनाया. जस्टिस रॉय ने 11 अगस्त को इस याचिका पर सुनवाई पूरी की थी. बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को मुंबई के अपने घर में मृत अवस्था में पाए गए थे.

 

NO COMMENTS