विश्व के सिंधी समाज को एकजुट किया जाएगा : डॉ. मनवानी

0
461
विश्व

विश्व सिंधी महासम्मेलन 3 से 5 जनवरी तक पुणे में होगा, नागपुर में विदर्भ स्तरीय सिंधी महासम्मेलन संपन्न

   
नागपुर : विश्व सिंधी सेवा संगम के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. राजू मनवानी ने यहां सिंधी समाज के महासम्मेलन में कहा कि विश्व के सम्पूर्ण सिंधी समाज को एकजुट कर समाज को मजबूत किया जाएगा. उन्होंने सिंधी बोली को बढ़ावा देने के लिए और सिंधी समाज के लोगों से आपस में अपनी भाषा में बात करने और बच्चों से सिंधी में बात करने की अपील की. उन्होंने सभी पंचायतों से सामाजिक गतिविधियों को बढ़ावा देने का आह्वान किया. वे नागपुर में आयोजित विदर्भ स्तरीय सिंधी महासम्मेलन में बोल रहे थे. 
विश्व
पुणे में सिंधी समाज की गणमान्य हस्तियां शामिल होंगी  
मनवानी ने बताया कि पूरे सिंधी समाज को एकजुट करने के लिए पूरे विश्व का सिंधी महासम्मेलन 3 से 5 जनवरी तक पुणे में आयोजित किया है. जिसमें पूरे देश-विदेश के सिंधी समाज की सभी गणमान्य हस्तियां शामिल होंगे और सिंधी समाज से जुड़ी सभी समस्याओं और राजनीतिक अधिकार के संदर्भ में विस्तृत चर्चा होंगी.
विश्व
22 राज्यों और 28 अन्य देशों में विश्व सिंधी सेवा संगम का गठन  
उन्होंने बताया कि देश के 22 राज्यों और 28 अन्य देशों में विश्व सिंधी सेवा संगम की टीम का गठन हो चुका है. इस अवसर पर विश्व सिंधी सेवा संगम के नागपुर जिले के अध्यक्ष प्रताप मोटवानी ने डॉ. मनवानी का स्वागत किया. उन्होंने कहा कि डॉ. मनवानी पूरे सिंधी समाज की एकजुटता का जो बड़ा कार्य कर रहे हैं, उनका अभिनंदन है. मोटवानी ने उन्हें पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया.

थैलेसीमिया और सिकलसेल के बारे में समाज को जागरूक करेंगे  
महाराष्ट्र मेडिकल कौंसिल के उपाध्यक्ष और विश्व सिंधी सेवा संगम के इंटरनेशनल मेडिको चेयरमैन डॉ. विन्की रुघवानी ने कहा कि इस मंच के माध्यम से वे पूरे विश्व मे सिंधी समाज के समक्ष थैलेसीमिया और सिकलसेल के बारे में समाज को जागरूक करेंगे. उन्होंने सभी पंचायत के पदाधिकारियों से अपील की कि अपने बच्चों का थैलेसीमिया माइनर का टेस्ट करवा कर ही विवाह करवाएं. महाराष्ट्र के उपाध्यक्ष नानकराम नेभवानी ने कहा कि आज पूरे विश्व में सिंधी समाज को एकजुट कर मजबूत करना हमारा उद्देश्य है.

महामंडलेश्वर हंसराज महाराज उदासीन सहित सभी संतों का सम्मान
महासम्मेलन के विशेष प्रमुख अतिथि विश्व में सिंधी समुदाय के एकमेव महामंडलेश्वर परमश्रद्धेय हंसराज महाराज उदासीन, विश्व सिंधु सेवा संगम के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष  मा. डॉ. राजू मनवानी जी, संत डॉ. संतोष नवलानी साहब जी, संत जशनलाल साहेब जी ने भी अपने विचार व्यक्त किए. सभी संतों का सम्मान इस अवसर पर किया गया. 

सामाजिक-धार्मिक कुरीतियों पर प्रहार  
समारोह में डॉ. साई संतोषकुमार महाराज ने अपनी वाणी से सभी को मंत्र मुग्ध किया. उन्होंने सिंधी समाज की सामाजिक और धार्मिक कुरीतियों पर कड़ा प्रहार किया. समाजसेवी तुलसी सेतिया ने देश में हो रहे धर्मांतरण पर गंभीर चिंता व्यक्त की. जेसाभाऊ मोटवानी ने प्रस्तावना की. जगदीशभाई मिहानी ने विचार रखे. हिंगणघाट के नगराध्यक्ष प्रेम बसंतानी ने भी अपने विचार रखे.

महासम्मेलन में प्रमुख रूप से नानकराम नेभनानी जी (वरिष्ठ उपाध्यक्ष महा.), जैसाराम मोटवानी जी (अध्यक्ष विदर्भ), प्रताप मोटवानी जी (वरिष्ठ उपाध्यक्ष, विदर्भ सिंधी विकास परिषद), महाराष्ट्र मेडिकल काउंसिल के उपाध्यक्ष एवं चेयरमैन  इंटरनेशनल मेडिको डॉ. विन्की रुघवानी, वर्धा जिले के अध्यक्ष समाजसेवी जगदीश भाई मिहानी, संतोष बजाज जी (महाराष्ट्र युवा  टीम के अध्यक्ष), अधि. वासुदेव नवलानी, अध्यक्ष, पूज्य पंचायत कंवर नगर, अमरावती, डॉ. इंदरलाल गेमनानी, अध्यक्ष, पूज्य पंचायत रामपुरी कैम्प, अमरावती, अध्यक्ष, पूज्य पंचायत बडनेरा, अमरावती नंदलाल खत्री, पूज्य पंचायत दस्तूर नगर अमरावती श्रीचंद तेजवानी, नगर सेवक मनपा अमरावती बलदेव बजाज, नगर सेवक मनपा अमरावती ऋषि खत्री, नगर सेवक मनपा अमरावती विनीत सुनील सचदेव महाराष्ट्र अध्यक्ष महा पंचायत, नागपुर से नाग विदर्भ सेंट्रल सिंधी पंचायत के सुरेश जग्यसी एवं उनकी टीम, सूरज हासानी, अधि. सतीश कोटवानी, अभिषेक पंजाबी एवं सैकड़ों पदाधिकारी, सदस्य उपस्थित थे. सभी का शाल-श्रीफल एवं स्मृति चिह्न देकर सत्कार किया गया.

कार्यक्रम में महाराष्ट्र के सभी सिंधी पंचायतों के अध्यक्ष और पदाधिकारियों को शाल-श्रीफल और स्मृति चिह्न देकर समानित किया गया. इस अवसर पर नागपुर, अमरावती, अकोला, वाशिम, कारंजा लाड़, कामठी, लाखनी, गोंदिया, भंडारा, आर्वी, वर्धा, हिंगणघाट, बीड, परभणी, बुलढाणा, चंद्रपुर, परभणी, यवतमाल, वडसा सहित अनेक शहरों की पंचायतें सम्मिलित हुईं. कार्यक्रम का संचालन तुलसी सेतिया और मंजू आडवाणी ने किया. आभार सुनील सचदेव ने माना. महासम्मेलन के बाद रात्रि को एक सिंधी नाटक का भी मंचन किया गया.

सिंधी समाज में एकता व सद्भावना बढ़ाने का प्रण  
विश्व सिंधी सेवा संगम द्वारा हिंदुस्तान इंटरनेशनल होटल में सिंधी समाज का यह ऐतिहासिक महासम्मेलन आयोजित किया गया. इस महासम्मेलन में महाराष्ट्र के सिंधी समाज के इतिहास में पहली बार महाराष्ट्र की सभी महापंचायतों को एकत्रित कर सिंधी समाज की समस्याओं को हल करने की योजनाएं बनाकर सिंधी समाज में एकता व सद्भावना बढ़ाने का प्रण लिया गया. इस महासम्मेलन का आयोजन विश्व सिंधी सेवा संगम महाराष्ट्र के अध्यक्ष सुनील सचदेव एवं उनकी टीम द्वारा किया गया.  

NO COMMENTS