महाराष्ट्र में ऑनर किलिंग : परिवार ने बेटी-दामाद को जिंदा जलाया

0
1376
ऑनर किलिंग

पिता और अन्य रिश्तेदारों ने दिया अंजाम

मुंबई : अहमदनगर जिला मुख्यालय से 60 किलोमीटर दूर निगहोज गांव में एक महिला और उसके पति को उसके पिता और अन्य रिश्तेदारों ने आग लगा कर महिला की जान ले ली. जबकि महिला का पति बुरी तरह झुलस कर अस्पताल में भर्ती है. बताया जाता है कि उनका परिवार दोनों की शादी से नाखुश था. घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस ने आज सोमवार को दी.

कमरे में बंद कर आग लगा दी
प्राप्त जानकारी के अनुसार मायके आई महिला के पिता रामा भारतीय, उसके चाचा सुरेंद्र कुमार और मामा घनश्याम रानेज ने दोनों को एक कमरे में बंद कर दिया और 1 मई को आग लगा दी. पड़ोसियों ने चीख-पुकार सुनकर दोनों को बचाया और पुलिस को सूचित किया. सभी आरोपी भागने में कामयाब रहे.

एक समाचार एजेंसी के अनुसार एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि रविवार को पुणे के अस्पताल में महिला की मौत हो गई. महिला का पति 40 प्रतिशत तक झुलस गया और अस्पताल में भर्ती है.

ऑनर किलिंग : 1 मई की वारदात
समाचार एजेंसी के मुताबिक पुलिस ने घटना को ऑनर किलिंग का मामला बताया है. पारनेर तहसील के निरीक्षक विजय कुमार बोत्रे ने कहा कि मंगेश चंद्रकांत राणासिंह (23) और उसकी पत्नी रुक्मिणी भारतीय (23) को आग लगा दी, क्योंकि अलग जाति के होने के बावजूद दोनों ने शादी की थी. उन्होंने बताया कि निगहोज गांव में 1 मई को हुई थी. ऑनर किलिंग के इस मामले के सामने आने से सम्पूर्ण अहमदनगर जिले में लोग सकते में आ गए हैं.

बोत्रे ने बताया, ‘निर्माण क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिक राणा सिंह और रुक्मिणी ने परिवार वालों की इच्छा के खिलाफ जाकर शादी की थी. इस साल 28 अप्रैल को वह अपने अभिभावकों से मिलने निगहोज गांव आई थी. 1 मई को मंगेश उसे अपने गांव ले जाने के लिए आया था. उसी दिन यह वारदात को अंजाम दिया गया.’

NO COMMENTS