प्रियंका, राहुल, वरुण और मेनका पर सियासी तुक्के

0
261
राहुल

अमिताभ, सलमान, करीना और शत्रुघ्न सिन्हा पर भी चर्चे

नई दिल्ली : चुनावी माहौल में कांग्रेस के खेमे से निकले कुछ तुक्के फिलहाल जोर-शोर से सियासी गलियारे में तैर रहे हैं. पहला तो यह कि राहुल गांधी इस बार अमेठी से ही नहीं बल्कि महाराष्ट्र की नांदेड़ लोकसभा सीट से भी चुनाव लड़ेंगे. दूसरा यह कि प्रियंका गांधी वाड्रा केवल पूर्वी उत्तर प्रदेश की कमान ही नहीं संभालेंगी, बल्कि वे रायबरेली के साथ वाराणसी से भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विरुद्ध भी चुनाव लड़ेंगी. यह भी संकेत देने की कोशिश की जा रही है कि वरुण के साथ मानेका गांधी को भी कांग्रेस में लाने की कोशिशें जारी हैं.

अमेठी के साथ नांदेड़ से भी लड़ेंगे राहुल…!
राहुल गांधी इस बार अमेठी के साथ-साथ किसी और सीट से भी लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं. इस खबर के बीच महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष और नांदेड़ के सांसद अशोक चव्हाण ने अ.भा. कांग्रेस अध्यक्ष के लिए अपनी नांदेड़ सीट को अधिक सुरक्षित बता कर वहां से राहुल गांधी के चुनाव लड़ने की संभावना जताई है. उनके मुताबिक, राहुल गांधी इस बार महाराष्ट्र की नांदेड़ लोकसभा सीट से भी दावेदारी करते नजर आ सकते हैं.

पीएम मोदी को चुनौती देंगी प्रियंका…?
दूसरी ओर पार्टी में ही चल निकली हवा से यह चर्चा फ़ैलाने लगी है कि महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा अगली चाल क्या होगी? क्या सचमुच पूर्वी उत्तर प्रदेश के वाराणसी सीट से वे पीएम मोदी को चुनौती देने वाली हैं ? क्या वो सिर्फ पार्टी के प्रचार प्रसार का जिम्मा संभालेंगी? मां सोनिया गांधी की सीट रायबरेली से चुनाव लड़कर आसानी से लोकसभा जाएंगी या फिर वाराणसी में प्रधानमंत्री मोदी को सीधी टक्कर देंगी? वाराणसी में कांग्रेस के चेहरा समझे जाने वाले और पिछले चुनाव में पीएम मोदी के खिलाफ कांग्रेस उम्मीदवार अजय राय ने प्रियंका गांधी को वाराणसी से चुनाव लड़ाने की मांग कर प्रियंका के वाराणसी से चुनाव लड़ने की खबर को हवा दे दी है.

वरुण के साथ मानेका गांधी भी चर्चा में
प्रियंका गांधी के चचेरे भाई, स्व. संजय गांधी और केंद्रीय मंत्री मानेका गांधी के पुत्र भाजपा नेता वरुण गांधी के कांग्रेस में शामिल होने की भी चर्चा जोरों पर है. भाजपा के असंतुष्ट युवा नेता वरुण गांधी पिछले कुछ समय में केंद्र सरकार की नीतियों को लेकर आलोचक रहे हैं. कई मौकों पर उन्‍होंने सरकार पर अपरोक्ष हमला बोला, जिसके बाद ऐसी अटकलें लगाई जाने लगीं कि वह पार्टी के शीर्ष नेतृत्‍व से खफा हैं. इस बीच ऐसी अटकलों ने भी खूब जोड़ पकड़ा कि वह भाजपा को छोड़ वे अपनी मां मानेका गांधी के साथ कांग्रेस का दामन थाम सकते हैं.

चर्चा सलमान, करीना और शत्रुघ्न सिन्हा की भी
पिछले दिनों फ़िल्मी हस्तियों में सलमान खान को इंदौर से और करीना कपूर सैफ अली खान को भोपाल से कांग्रेस की टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ाई जाने की खबरें भी सुर्खियां बन चुकी हैं. बिहार के पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र के असंतुष्ट भाजपा सांसद अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा को भी कांग्रेस में आने के लिए राजी करने की चर्चा जारी हैं. इतना ही नहीं, यहां तक कहा जा रहा है कि कांग्रेस के चुनाव घोषणा पात्र का मसौदा भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराज रामन तैयार करने वाले हैं.

अमिताभ बच्चन से भी परोक्ष सहयोग मिलने की चर्चा
उधर अमिताभ बच्चन की गांधी परिवार के साथ संबंधों में सुधार की खबरों के बीच यह चर्चा भी चल पड़ी है कि बच्चन परिवार भी जल्द ही उनके साथ जुड़ जाएगा और लोकसभा चुनावों में उनका परोक्ष सहयोग मिलेगा. अमिताभ बच्चन का प्रियंका और राहुल के साथ मामा-भांजी-भांजे का रिश्ता रहा है. बता दें कि राजीव गांधी और संजय गांधी के साथ अमिताभ की बचपन से ही मित्रता रही थी. राजीव और सोनिया के विवाह में वधु सोनिया के माता-पिता की भूमिका अमिताभ के पिता हरिवंशराय बच्चन और माता श्रीमती तेजी बच्चन ने ही निभाई थी.

लेकिन बोफोर्स मामले में अपना नाम घसीटे जाने के कारण अमिताभ बच्चन ने गांधी परिवार से अपनी दूरियां बढ़ा लीं थी, उन्होंने इलाहाबाद क्षेत्र से कांग्रेस की अपनी लोकसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया था और इसके साथ ही गांधी अपरिवार से संबंधों में दरार गहरी होती चली गई थी. लेकिन पिछले डेढ़-दो वर्षों से प्रियंका और राहुल के प्रयासों से यह दूरियां काम होती गई हैं.

अमिताभ बच्चन को लेकर ऐसी चर्चा को और बल तब मिला, जब मामू अमिताभ बच्चन की दिल्ली में प्रियंका के साथ हुई मुलाकात के दूसरे ही दिन प्रियंका को कांग्रेस महासचिव बनाने और पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी बनाने की कांग्रेस की और से घोषणा कर दी गई. बताया जाता है कि प्रियंका ने इसी बात की सलाह लेने के लिए खास कर अमिताभ बच्चन को दिल्ली बुलाया था.

NO COMMENTS