दीवाली पर पुलगांव में चार दुकानें जल कर हुई खाक, करोड़ों का नुकसान

0
848

तिलक चौक मार्केट क्षेत्र में भीषण अग्निकांड, वोहरा समाज के लोगों को भारी क्षति

आश्विन शाह,
पुलगांव (वर्धा) :
सेना के केंद्रीय आयुद्ध भण्डार में चार वर्ष पूर्व लगी भीषण आग से हुई तबाही देख चुकी पुलगांव की जनता को दीवाली की रात फिर शहर में अग्निकांड की दुःखद घटना देखना पड़ गया. लोग दीवाली की शाम ढलते ही अपने-अपने घरों में रोशनाई करने और पवित्र दीप जला कर लक्ष्मी पूजन कर रहे थे, पटाखे और आतिशबाजी का माहौल परवान चढ़ता जा रहा था. तभी रात्रि लगभग सवा दस बजे शहर के तिलक चौक चार दुकानें शार्ट सर्किट अथवा आतिशबाजी के कारण आग की चपेट में आ गईं.

अग्निकांड में किसी की जान तो नहीं गई, किन्तु हकीमुद्यीन ताहेरअली बोहरा का घर भी जला और करीब 3 करोड़ रुपए के नुकसान का अनुमान है. आग लगाने के कारण का पता लगाया जा रहा है.

हार्डवेयर की धधकती दुकानों की आग पर अग्निशमन दल पाया काबू
शहर के मार्केट तिलक चौक पर बोहरा समाज के लोगों की लगातार पांच दुकानें हैं. पेंट, प्लास्टिक पाईप्स, ऑईल, मशीनरीज, ताड़-पत्री आदि हार्डवेयर की इन दुकानों में आग तेजी से भड़कने लगी. आस-पास के लोगों ने पानी से आग बुझाने की कोशिश भी की, लेकिन आग की धधकती लपटों पर तभी काबू पाया जा सका, जब सेना के केंद्रीय आयुद्ध भण्डार और आर्वी के अग्निशमन दल का वाहन वहां पहुंचे. दल के जवान धधकती आग पर पानी की बौछार करने लगे. अग्निशमन दल के जवान भारी मशक्क्त के बाद आग बुझा सके. लेकिन तब-तक चार दुकानें पूरी तरह भष्म हो चुकी थीं.

अग्रिकांड में चार दुकानें- सैफी हार्डवेयर, भारमल ट्रेडर्स, सैफी मशीनरीज एंड टूल्स, और हाकीमी हार्डवेयर जल कर राख हो गईं. साथ की शहा ट्रेडिंग कं. और एस.बी. हार्डवेयर को भी काफी नुकसान पहुंचा. आग पर काबू पा लेने के कारण अन्य अनेक दुकानें बच गईं. अन्यथा भारी क्षति होती.

हकीमुद्यीन ताहेरअली बोहरा का घर भी जला
लेकिन इस अग्निकांड में हकीमुद्यीन ताहेरअली बोहरा का घर दूकान से लगे होने के कारण घर को भी काफी क्षति पहुंची. हाकीमुद्दीन बोहरा के आर्वी के रिश्तेदार महंमदभाई का विवाह होने के कारण परिवार के सभी सदस्य आर्वी चले गए थे, इस कारण कोई प्राणहानि नहीं हुई. परिवार के लोगों ने बोहरा मस्जिद में आश्रय लिया है.

केंद्रीय आयुध भण्डार के कमांडन्ट ब्रिगेडियर गोल्डस्मिथ व सुरक्षा अधिकारी वैभव वर्मा बचाव के दौरान लगातार अग्निशमन दल सम्पर्क में जानकारी लेते रहे. अग्निशमन दल के अमित निवल, अनिल गांवडे आदि ने जवानों साथ परिश्रम कर आग पर काबू पाया. इस मौके पर अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक निखिल पिंगले, एपीआई सैय्यद, उपनिरीक्षक मुंडे व अन्य अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच कर परिस्थिति पर काबू रखा.

सांसद तड़स और अन्य अधिकारियों ने दी पीड़ितों को सांत्वना
दूसरे दिन सांसद रामदास तड़स, नगराध्यक्ष शीतल गाते, उपाध्यक्ष आशीष गांधी, मिलिंद भेंडे, संजय गाते, मंगेश झाडे, नितीन बडगे, मुख्याधिकारी प्रशांत उरकुडे, प्रभारी जिलाधिकारी संजय दैने, जिला आपदा व्यवस्थापन अधिकारी किशोर सोनटक्के, नायब तहसीलदार उल्हास राठोड, आर.एम. देशमुख, मंडल अधिकारी महेश दुबे, तलाठी सातपुते आदि पहुंचे और पीड़ित बोहरा परिवारों को सांत्वना दी.

NO COMMENTS