20 मेगावाट गव्हाणकुंड सौर ऊर्जा प्रकल्प का निर्माण कार्य आरंभ

0
2412

मुख्यमंत्री के इस ‘ड्रीम प्रोजेक्ट’ को साकार करने में जुटे मुख्य अभियंता(सौर)

अमरावती : महानिर्मिती के अंतर्गत मुख्यमंत्री सौर कृषि वाहिनी योजना के अंतर्गत वरुड तहसील के अंतर्गत 20 मेगावाट गव्हाणकुंड सौर ऊर्जा प्रकल्प का निर्माण कार्य पिछले 26 अप्रैल से वहां शुरू हो गया है. मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस के इस “ड्रीम प्रोजेक्ट” को पूरा करने में नागपुर विभाग के मुख्य अभियंता मिलिंद नातू स्वयं अपने सहयोगियों साथ जुट गए हैं.

पिछले 24 दिसंबर को मुख्यमंत्री ने किया था भूमिपूजन
इस प्रकल्प का भूमिपूजन पिछले 24 दिसंबर 2017 को जिले के वरुड तहसील के गव्हाणकुंड में मुख्यमंत्री फड़णवीस ने किया था. 20 मेगावाट विद्युत् उत्पादन क्षमता वाले इस प्रकल्प के निर्माण में विलम्ब के कारण तरह-तरह की चर्चा शुरू हो गई थीं. प्रकल्प का निर्माण शुरू हो जाने से अब इसपर विराम लग गया है.

12 महीने में पूरा हो जाएगा प्रकल्प का निर्माण कार्य
महानिर्मिती के संचालक(प्रकल्प) विकास जयदेव ने बताया गव्हाणकुंड सौर ऊर्जा प्रकल्प का काम आगामी 12 महीने में पूरा कर दिया जाएगा. उन्होंने बताया कि इसके लिए विभिन्न स्तर पर प्रशासकीय और तकनिकी छानबीन और मंजूरी के उपरांत प्रकल्प की ई-निविदा प्रक्रिया पारदर्शकता के साथ पूरी कर गत 25 अप्रैल को मुख्य अभियंता(स्थापत्य), कोराडी ने कार्यादेश दिया. इसके साथ ही 26 अपील से प्रकल्प का काम शुरू कर दिया गया.

गव्हाणकुंड में 30 हेक्टर भूमि पर सौर ऊर्जा प्रकल्प का निर्माण और विकास कार्य नागपुर विभाग के मुख्य अभियंता मिलिंद नातू की देखरेख में मेसर्स संगम एडवायजर लिमिटेड द्वारा किया जा रहा है. इसके भूमि का मिट्टी परीक्षण, भूमि का समतलीकरण के साथ 2.5 किलोमीटर पहुंच मार्ग का भी निर्माण भी पूरा कर लिया गया है.

NO COMMENTS