नागपुर सेन्ट्रल जेल के गोदाम में लगी आग, लाखों का हुआ नुकसान

0
1638
नागपुर सेन्ट्रल जेल के बाहर से जेल की दीवार पर चढ़ कर आग बुझाते अग्निशमन विभाग के जवान.

महापालिका की आठ अग्निशमन गाड़ियों के साथ आग पर काबू पाने में अग्निशमन जवानों को लगे 5 घंटे

नागपुर : नागपुर के वर्धा रोड स्थित सेन्ट्रल जेल के गोदाम में आज दोपहर पौने तीन बजे लगी भीषण आग से भारी नुक्सान होने का समाचार है. जेल सूत्रों के अनुसार गोदाम में रखे लकड़ी के फर्नीचर, कैदियों द्वारा बनाई सामग्रियां, कपड़ों के बण्डल, ड्रेस, बूट, और अन्य सामान जल कर खाक हो गए.

महापालिका के अग्निशमन विभाग की आठ दमकल गाड़ियों के साथ अग्निशमन जवानों ने 5 घंटे (रात 7.30 बजे) तक की भारी मशक्क्त के बाद आग पर काबू पाई. सूत्रों के अनुसार आग से लाखों रुपए का नुक्सान हो गया. आग लगाने के कारण का अभी तक सही-सही पता नहीं चला है. जांच के बाद ही कारण का पता लग सकेगा.

नागपुर जेल में 2,400 कैदी रहते हैं. गोदाम उनके रहने वाले वार्ड से दूर है. इस कारण कैदियों को आग से कोई नुक्सान नहीं हुआ. आग लगते ही जेल प्रशासन ने महानगर पालिका के अग्निशमन विभाग को सूचित किया. दमकल गाड़ियां तुरंत मौके पर पहुंच गई. जेल में अग्निशमन के लिए पानी की व्यवस्था नहीं होने के कारण आग बुझाने में काफी समय लगा. जेल के कुएं से पंप का उपयोग करना पड़ा.

आग बुझाने के समय महापालिका के अग्निशामक विभाग के प्रमुख राजेंद्र उचके, नरेंद्रनगर फायर स्टेशन के प्रमुख डी.एन. नाकोड़ के साथ अनेक कर्मचारी घटना स्थल पर उपस्थित थे. आग बुझाने में अग्निशमन जवानों को भरी मशकत करनी पड़ी.

NO COMMENTS