जल योद्धा प्रवीण महाजन को मानद डॉक्टरेट, ‘वाटर डॉक्टर’ बने 

0
228
जल
राजस्थान के अलवर में शनिवार, 30 जुलाई को आयोजित दीक्षांत समारोह में सनराइज यूनिवर्सिटी के चांसलर एड. सुभाष यादव, प्रवीण महाजन को डॉक्टरेट की मानद उपाधि प्रदान करते हुए. (इनसेट में मानद उपाधि का छायाचित्र .)

नागपुर : जल क्षेत्र के सतत अध्ययन के लिए प्रवीण महाजन को सनराइज यूनिवर्सिटी, अलवर, राजस्थान ने मानद डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित किया है. पानी के क्षेत्र में उनके विशेष कार्य के लिए उन्हें डॉक्टरेट की मानद उपाधि दी गई है. महाजन महाराष्ट्र शासन के डॉ. शंकररावजी चव्हाण राज्य स्तरीय ‘जलभूषण पुरस्कार’ से भी सम्मानित किए जा चुके हैं. 

राजस्थान के अलवर में शनिवार, 30 जुलाई को आयोजित दीक्षांत समारोह में सनराइज यूनिवर्सिटी के चांसलर एड. सुभाष यादव, पावरगिल्ड के निदेशक विनोद कुमार सिंह, भारत सरकार के केंद्रीय विद्युत नियामक आयोग के अध्यक्ष इंदु शेखर झा इस दीक्षांत समारोह में उपस्थित थे. 

इसके लिए डॉ. प्रवीण महाजन के जल क्षेत्र में 32 साल के कार्य और जल जागरूकता के विषय पर महाजन के निरंतर जल जागरूकता कार्य, प्रचार और प्रयासों को मूल्यांकन किया गया है.

लाभार्थियों तक पानी पहुंचाने के लिए किए गए अतुलनीय कार्य, फसल प्रणाली को बदलने के लिए किसानों के प्रयास, ड्रिप सिंचाई के प्रयास, सोशल मीडिया पर दैनिक पानी जागरूकता संदेश, जल साक्षरता अभियान, स्कूली छात्रों को पानी के महत्व के बारे में जागरूक करने के लिए पेंटिंग प्रतियोगिता, अनुसरण करें सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली अपनाने के लिए सरकार तक, पर्यावरण अभियान- प्रसार, मार्गदर्शन, प्रदूषण नियंत्रण के लिए कार्य, जल संसाधनों का उत्पादन कल-आज-कल संदर्भ पुस्तक, तीर्थ स्थलों पर पानी जागरूकता प्रदर्शनियों के माध्यम से जन जागरूकता, पानी उपयोग संगठनों की बैठकें, वैनगंगा-नलगंगा नदी जोड़ने की परियोजना की मांग एवं प्रयास, बांध से गाद हटाने के संबंध में शासन स्तर पर अनुवर्ती कार्रवाई, सरकारी योजनाओं को लागू कराने का प्रयास, इसके अलावा पानी, पर्यावरण और प्रदूषण पर लिखे गए विभिन्न लेखों के लिए सन राइज यूनिवर्सिटी ने उन्हें डॉक्टरेट की मानद उपाधि से सम्मानित किया है.

जल क्षेत्र में 32 वर्षों से सतत सक्रिय रहने वाले प्रवीण महाजन का नाम अब किसी परिचय का मोहताज नहीं है. बुलढाणा जिले के ग्राम चिखली के निवासी प्रवीण महाजन ने राज्य स्तरीय ‘जलभूषण पुरस्कार’ जीतकर विदर्भ का नाम उजागर किया है. आज अनेक संगठन उनके कार्यों की प्रशंसा कर रहे हैं. समाज और देश के लिए उनके इस योगदान का समाज और सामान्य लोग सराहना करते हैं. प्रवीण महाजन अब “वाटर डॉक्टर” बन गए हैं.

NO COMMENTS