अनाथ बच्चों के साथ खुशियां बांटीं सिंधी सेवा संगम ने 

0
460
अनाथ

नागपुर : विश्व सिंधी सेवा संगम के महाराष्ट्र प्रदेश की महिला टीम, नार्थ सेंट्रल महिला टीम और सेंट्रल नागपुर महिला टीम ने रविवार को उत्तर नागपुर के अनाथालय में जाकर वहां के अनाथ बच्चों को उपहार सामग्री भेंट कर उनमें खुशियां बांटीं. इस अवसर पर संगम के महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष प्रताप मोटवानी भी उपस्थित थे.
 
अपने मां-बाप से बिछड़े बच्चों को संगम की महिलाओं के स्नेह और वातसल्य ने उन्हें अपने परिवार के बीच होने की अनुभूति कराई. अनाथ बच्चों की आंखें नम हो गईं और वे भाव विभोर नजर आए. 

महाराष्ट्र महिला टीम की कार्यकारी अध्यक्ष श्रीमती साक्षी थारवानी ने इस कार्य को सफल कर गुरु पूर्णिमा के पावन पर्व का दिन सार्थक बनाया. महिला टीम की कार्यकारी अध्यक्ष डॉ भाग्यश्री खेमचन्दानी, महासचिव सुनीता जेसवानी, सचिव विद्या बाखरू, अनिता राजपाल, खुशंक खेमचन्दानी ने सर्वप्रथम अनाथालय के संचालकों और बच्चों को विश्व सिंधी सेवा संगम की सामाजिक गतिविधियों से अवगत कराया. 

इस पावन कार्य मे सेंट्रल नार्थ महिला टीम की अध्यक्ष वंदना वतियानी, सचिव प्रिया चंदवानी, सदस्य चाहत चुग, डॉ. दिशा वतियानी, डॉ सुनिधि नाहटा, डॉ. नंदिनी बोहरा, इंजीनियर प्रतीक बहरानी और सेंट्रल नागपुर की अध्यक्ष किरण तोतलानी, विधि ग्वालानी, दिशा पारवानी ने सम्मिलित होकर अनाथ बच्चों को भेंट सामग्री में टावेल, पानी की बॉटल, गिलास, बैट-बाल, केरम बोर्ड, बैडमिंटन इंडोर गेम, आउटडोर गेम्स, कम्पास बॉक्स, मिठाई, चॉकलेट, फ्रूट्स, स्नेक्स, बिस्किट, टी शर्ट, पिकल्स, वितरित किए. 

तत्पश्चात सभी बच्चों को बहनों ने अपने हाथों से परोस खाना खिलाया. अंत में सभी बहनों ने वहाँ के समस्त परिसर में पौधारोपण कर पर्यावरण सुरक्षा का संदेश दिया. बच्चे इतना स्नेह और अपनापन पाकर बेहद आनंदित हुए. 

अंत मे साक्षी थारवानी ने सभी का धन्यवाद किया. महारास्ट्र महिला टीम सेंट्रल नागपुर महिला टीम की अध्यक्ष किरण तोतलानी और उनकी टीम नार्थ सेंट्रल नागपुर महिला टीम की अध्यक्ष वंदना वतियानी और उनकी टीम का अत्याधिक सहयोग मिला. बहनों ने इस मानवीय कार्य से आत्मिक सुख की अनुभूति महसूस की.
 
बहनों ने अनाथ बच्चों के लिए कार्य करने में मार्गदर्शन करने के लिए संगम के प्रदेश अध्यक्ष मोटवानी जी का भी अभिनंदन किया. उन्होंने बहनों के इस सद्कार्य के लिए उनकी भूरी-भूरी प्रशंसा की. 

NO COMMENTS