शेल्टर होम के बच्चों को मास्क दिए VSSS की महिला विंग ने

0
1082
शेल्टर होम

नागपुर : विश्व सिंधी सेवा संगम महाराष्ट्र (VSSS) की महाराष्ट्र महिला विंग ने एक सराहनीय उपक्रम के अंतर्गत काटोल रोड पर स्थित शेल्टर होम में कोरोना महामारी से बचाव पर कार्यशाला का सफलतापूर्वक आयोजन किया. इस अवसर पर वहां की 60 लड़कियों के बीच उपहार, मास्क और चॉकलेट का वितरण किया. VSSS के महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष प्रताप मोटवानी के मार्गदर्शन में आयोजित कार्यक्रम में महाराष्ट्र महिला विंग की कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. हिना मुनियार, युवा महिला टीम की अध्यक्ष रीत रूपानी, महासचिव शिल्पा तलरेजा, पूर्व नागपुर महिला समिति की अध्यक्ष अर्चना छाबरिया और सुनीता जेसवानी प्रमुख रूप से उपस्तिथत थीं.
शेल्टर होम
कार्यशाला में शेल्टर होम की बच्चियों का मार्गदर्शन करते हुए डॉ. हिना मुनियार ने कोरोना महामारी से बचाव के लिए सावधानियां बरतने सम्बन्धी जानकारियां दीं. तत्पश्चात पूजा भोजवानी के सौजन्य से 60 लड़कियों को सयुंक्त रूप से सोप मेकिंग के प्रशिक्षण कार्यक्रम का सफलतापूर्वक आयोजन किया.

डॉ. मुनियार ने बच्चों को आश्वस्त किया कि विश्व सिंधी सेवा संगम महिला टीम द्वारा भविष्य में नियमित रूप से कार्यशालाएं आयोजित की जाएंगी. इन कार्यशालाओं में उन्होंने जीवनोपयोगी जानकारियां दी जाएंगी. युवा टीम की अध्यक्ष रीत रूपानी और शिल्पा तलरेजा ने कहा कि महाराष्ट्र अध्यक्ष प्रताप मोटवानी के कुशल नेतृत्व और मार्गदर्शन में उनकी टीम सामाजिक कार्य कर बच्चों को प्रोत्साहन देकर उन्हें सहयोग प्रदान किया जाएगा.

इस अवसर पर शेल्टर होम में सिंधी सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन करने का आश्वासन डॉ. मुनियार ने दिया. सिंधी बोली और सिंधी संस्कृति के बारे में भी उन्होंने उपयोगी जानकारियां बच्चों की दी. उन्होंने कहा कि हमारे देश में विभिन्न प्रांतों में भिन्न-भिन्न भाषा और संस्कृति के लोग हैं. लेकिन सिंधी संस्कृति के लोग देश के लगभग सभी प्रांतों में रहते हैं. इसलिए देश के अन्य सभी लोगों को सिंधी भाषा और संस्कृति से अवगत कराने का दायित्व माह ऐसी कार्यशालाओं के माध्यम से निभाती हैं. कार्यशाला में अंत में सुनीता जेसवानी ने आभार व्यक्त किया. कार्यशाला के बाद लड़कियों को मास्क और उपहार और चॉकलेट वितरित किए गए.

NO COMMENTS